Shadow

प्रचार सामग्री पहुंचाने 10 वाहनों की अनुमति मांगी चुनाव आयुक्त से, भाजपा ने पत्र सौंपकर सुझाव व शिकायतों से अवगत कराया

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश चुनाव विधिक संयोजक नरेशचंद्र गुप्ता ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त (दिल्ली) को एक पत्र सौंपकर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सुझावों व शिकायतों से अवगत कराया है।
पत्र में श्री गुप्ता ने कहा है कि चुनाव आयोग ने राजनैतिक दलों को पूरे प्रदेश में प्रचार सामग्री वितरण हेतु केवल एक मालवाहक वाहन की अनुमति देने का निर्णय लिया है। छत्तीसगढ़ प्रदेश का विस्तार दूरस्थ वनांचल क्षेत्रों में है। प्रदेश की भौगोलिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए केवल एक वाहन से प्रदेश के 27 जिलों एवं सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों में राजनैतिक दलो की प्रचार सामग्री पहुंचा पाना संभव नहीं है।




नाम वापसी से केवल 15 दिनों का समय मतदान के लिए होता है। इतने कम समय में सभी 90 विधानसभा में प्रचार सामग्री नहीं पहुंचाई जा सकती। इस पर ध्यान देते हुये सभी राजनैैैतिक दलों को प्रचार सामग्री वितरण हेतु 10 मालवाहक वाहन की अनुमति प्रदान करने का अनुरोध किया गया है। श्री गुप्ता ने यह भी कहा है कि भारतीय जनता पार्टी लोक कलाकारों के माध्यम से केवल पार्टी का (प्रत्याशी का नही) प्रचार-प्रसार करने हेतु सी.ई.ओ.कार्यालय में छह आवेदन लगा चुकी है परन्तु अब तक कार्यालय ने न तो हमें इस संबंध में कोई अनुमति दी है और न ही हमारे आवेदन को निरस्त करने की जानकारी दी है।

पत्र में कहा गया है कि  मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय से विभिन्न अनुमति हेतु अन्य विभिन्न विभागों में जाना होता है। अतः एकल खिड़की व्यवस्था प्रारंभ की जाये। एम.सी.एम.सी कमेटी के समुख प्रस्तुत किये जाने वाले प्रकरणोें में विलम्ब हो रहा है। विशेष रूप से सोशल मीडिया में चलाये जाने वाले प्रकरणों पर अतिशीघ्र अनुमति प्रदान करने की व्यवस्था की जाये। श्री गुप्ता ने यह शिकायत भी की है कि गत 16 अक्टूबर को दोपहर को कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने भारतीय जनता पार्टी कार्यालय रायपुर में कार्यकर्ताओं के साथ धावा बोल दिया।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में 17 अक्टूबर इसकी शिकायत की गई। लेकिन इस पर अब तक सी.ई.ओ.कार्यालय द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई है। होर्डिग्स के द्वारा प्रचार प्रसार करने में राजनैतिक दलों को अत्यधिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। इस संबंध में जिला निर्वाचन कार्यालय में मतभिन्नता है और अनुमति लेने में अत्यधिक समय लग रहा है। जिला निर्वाचन कार्यालय कोरबा के द्वारा एक होर्डिग्स को विभन्न राजनैतिक दलों को 4-4 दिनों के लिए उपलब्ध कराया जा रहा है जो कि समझ से परे है और किस नियम के तहत ऐसा किया जा रहा है यह भी नही बताया जा रहा है।



Leave a Reply