chhattisgarh news media & rojgar logo

Tag: sukma

सुकमा: जवानों को निशाना बनाने के लिए दो आईईडी ब्लास्ट, जवाबी कार्रवाई में दो नक्सली ढेर

सुकमा: जवानों को निशाना बनाने के लिए दो आईईडी ब्लास्ट, जवाबी कार्रवाई में दो नक्सली ढेर

chhattisgarh, News, politics
सुकमा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों ने गुरुवार को एक बार फिर जवानों को निशाना बनाने का प्रयास किया। नक्सलियों ने पहले तो दो आईईडी ब्लास्ट किए और फिर घेर कर जवानों पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में जवानों ने भी फायरिंग की। करीब अाधा घंटा से ज्यादा चली इस मुठभेड़ में दो नक्सली मारे गए। वहीं आईईडी ब्लास्ट की चपेट में आकर दो जवान घायल हो गए हैं। इनमें से एक जवान को एयरलिफ्ट कर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना चिंतलनार क्षेत्र के जंगलों में हुई है। दो दिन पहले सर्चिंग पर निकले थे जवान, लौटने के दौरान हुई मुठभेड़ जानकारी के मुताबिक, दो दिन पहले तिम्मापुरम के आस-पास के कैंप से डीआरजी और एसटीएफ की संयुक्त टीम सर्चिंग के लिए निकली थी। सर्चिंग से गुरुवार दोपहर लौट रहे जवानों को नक्सलियों ने निशाना बनाया। बताया जा रहा है कि चिंतलनार क्षेत्र में तिम्मापुरम और मोरपल्ली के बीच नक्सल
सीआरपीएफ जवान की चेतावनी- जमीन नहीं लौटाई तो ‘पान सिंह तोमर’ बन जाऊंगा

सीआरपीएफ जवान की चेतावनी- जमीन नहीं लौटाई तो ‘पान सिंह तोमर’ बन जाऊंगा

chhattisgarh, News, Videos
सुकमा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सल मोर्चे पर तैनात एक सीआरपीएफ जवान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें जवान ने चेतावनी दी है कि अगर उसकी जमीन नहीं लौटाई गई, तो वह डाकू पान सिंह तोमर बन जाएगा। उत्तरप्रदेश के रहने वाले जवान का आरोप है कि रिश्तेदारों ने उसकी जमीन पर कब्जा कर लिया है और परिजनों काे जान से मारने की धमकी देते हैं। इस संबंध में उसने पुलिस और प्रशासन से शिकायत भी की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। चाचा राजनीति में और दबंग, इसलिए पुलिस कार्रवाई से बच रही वीडियो में नजर आने वाला व्यक्ति खुद को सीआरपीएफ की 74वीं बटालियन में तैनात आरक्षक प्रमोद कुमार बता रहा है। वीडियो के मुताबिक, प्रमोद इन दिनों सुकमा के पोलमपल्ली स्थित सीआरपीएफ कैंप में तैनात है। उत्तरप्रदेश के हाथरस निवासी प्रमोद का आरोप है कि वहां उसके तीन चाचा, परिवार को परेशान कर रहे हैं। वह मार
कवासी लखमा का वीडियो हुआ वायरल, बोले ‘बड़ा नेता बनना है तो कलेक्टर एसपी का कॉलर पकड़ो’

कवासी लखमा का वीडियो हुआ वायरल, बोले ‘बड़ा नेता बनना है तो कलेक्टर एसपी का कॉलर पकड़ो’

News, politics
सुकमा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की सरकार में आबकारी मंत्री कवासी लखमा का एक बयान सुर्खियां बटोर रहा है। मंत्री स्कूली बच्चों को बड़ा नेता बनने के गुर सिखा रहे हैं। मंत्री ने बच्चों से कहा कि बड़ा नेता बनना है तो कलेक्टर - एसपी जैसे अधिकारियों का कॉलर पकड़ो। जब मंत्री जी अपने अंदाज में बच्चों को शिक्षा दे रहे थे तब किसी ने इसका वीडियो बना लिया जो अब  वायरल हो चला है। मंत्री लखमा, सुकमा के पवनार गांव के सरकारी स्कूल में शिक्षक दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे। यहीं उन्होंने ये बात बच्चों से कही। https://youtu.be/YeQJlMJ6dOQ भाजपा विधायक का पलटवार, कहा-यही कांग्रेस का कल्चर दरअसल बच्चों के साथ बैठकर मंत्री कवासी पिछले दिनों अपने साथ हुए वाक्ये को याद कर रहे थे। उन्होंने कहा कि एक बच्चे ने मुझसे पूछा था कि आप इतने बड़े नेता कैसे बने, मुझे इसके लिए क्या करना होगा। जवाब में म
डीआरजी जवान की हत्या कर सड़क किनारे फेंका शव, गर्दन पर मिले गहरे घाव के निशान

डीआरजी जवान की हत्या कर सड़क किनारे फेंका शव, गर्दन पर मिले गहरे घाव के निशान

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के सुकमा में शुक्रवार सुबह एक डीआरजी जवान का खून से लथपथ शव सड़क किनारे पड़ा मिला है। जवान गुरुवार देर रात घर से अपने बोलेरो वाहन से निकला था। इसके बाद से उसका कुछ पता नहीं था। शव के पास ही पुलिस ने उसका वाहन भी खड़ा मिल गया है। पुलिस को शव की गर्दन पर गहरे चोट के निशान मिले हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। गाड़ी में भी मिले खून के निशान जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार सुबह पुलिस को सूचना मिली कि बाईपास पर सड़क किनारे एक युवक शव पड़ा हुआ है। वहीं पास में बोलेरो वाहन भी खड़ा है। पुलिस मौके पर पहुंची तो युवक की पहचान रामनिवास के रूप में हुई। रामनिवास सहायक आरक्षक के पद पर बुर्कापाल स्थित मुख्यालय में पदस्थ था। बताया जा रहा है कि वह गुरुवार देर रात अपने बोलेरो वाहन से घर से निकला था। इसके बाद नहीं लौटा। सुबह उसका शव सड़क किनारे पड़ा मिल
सुकमा में जवानों ने मुठभेड़ में एक लाख रुपए के इनामी नक्सली कमांडर को मार गिराया, आठ लाख का इनामी नक्सली गगन्ना उर्फ डोकरा कांकेर से गिरफ्तार

सुकमा में जवानों ने मुठभेड़ में एक लाख रुपए के इनामी नक्सली कमांडर को मार गिराया, आठ लाख का इनामी नक्सली गगन्ना उर्फ डोकरा कांकेर से गिरफ्तार

chhattisgarh
सुकमा\कांकेर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के सुकमा में मरईगुड़ा के पास डीआरजी जवानों ने गुरुवार को मुठभेड़ में एक नक्सली कमांडर को मार गिराया। मारे गए नक्सली कमांडर के ऊपर एक लाख रुपए का इनाम था। मुठभेड़ के दौरान बचे हुए नक्सली मौके से भाग निकले। जवानों ने मौके से नक्सली के शव के साथ ही एक बंदूक और भारी मात्रा में नक्सल सामाग्री बरामद की है। नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर जवान सर्चिंग पर निकले थे। वही, एसआईबी और एसटीएफ की टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए गुरुवार को छत्तीसगढ़ के कांकेर से नक्सली मुइया उर्फ गगन्ना उर्फ डोकरा को गिरफ्तार किया है। पकड़ा गया नक्सली सीतानदी एरिया कमेटी का सचिव है और उस पर 8 लाख रुपए का इनाम है। 15 से 20 मिनट तक हुई दोनों ओर से फायरिंग जानकारी के मुताबिक, नक्सलियों की बड़ी संख्या में मौजूदगी की सूचना मिलने पर गुरुवार को डीआरजी की टीम रवाना की गई। मरईगुड़ा और अटकल ग
हिड़मा की बटालियन नम्बर-1 के हेडक्वार्टर प्लाटून का सदस्य तेलंगाना के कोत्तागुड़ेम में गिरफ्तार, पुलिस ने एक और हार्डकोर नक्सली को पकड़ा

हिड़मा की बटालियन नम्बर-1 के हेडक्वार्टर प्लाटून का सदस्य तेलंगाना के कोत्तागुड़ेम में गिरफ्तार, पुलिस ने एक और हार्डकोर नक्सली को पकड़ा

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | पड़ोसी राज्य तेलंगाना के भद्राद्री जिले के कोत्तागुड़ेम पुलिस ने नक्सलियों की बटालियन नम्बर-1 के हेडक्वार्टर प्लाटून के मेंबर सवलम सोमा को गिरफ्तार कर सोमवार को मीडिया के सामने पेश किया। सोमवार को ही सोमा को यहां के स्थानीय न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। हालांकि की सवलम सोमा कोत्तागुड़ेम पुलिस के हत्थे कब व कैसे चढ़ा इस बात को लेकर अभी भी कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई है। सूत्रों के मुताबिक मुखबिरी से मिली पुख्ता सूचना के बाद तेलंगाना पुलिस ने शनिवार को सोमा को अपनी गिरफ्त में लिया। भद्राद्री जिले की पुलिस ने सवलम सोमा के पास से भारी मात्रा में विस्फोटक सामाग्री बरामद करने का दावा किया है। भले ही तेलंगाना पुलिस सवलम सोमा की गिरफ्तारी को बड़ी सफलता मान रही है पर सोमवार को पूछताछ के लिए गई सुकमा पुलिस की टीम को सोमा से कुछ खास जानकारी हाथ नहीं ल
सुकमा में मुठभेड़ में चार नक्सली ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

सुकमा में मुठभेड़ में चार नक्सली ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | सुकमा जिले के चितलनार और जागरगुडा गांव के बीच घने जंगल में मंगलवार सुबह मुठभेड़ में सुरक्षा बल के जवानों ने चार नक्सलियों को मार गिराया है। मौके से चारों नक्सलियों के शव बरामद कर लिए गए हैं। जवानों को कुछ और स्थानों पर खून के धब्बे मिले हैं। संभावना है कि कुछ और नक्सली भी मुठभेड़ का शिकार हुए हों। फिलहाल, मौके पर सर्च ऑपरेशन जारी है। काली वर्दी में मिले नक्सलियों के शव 201 कोबरा बटालियन और राज्य पुलिस के जवान सोमवार शाम करीब 5 बजे सर्चिंग के लिए निकले थे। बोदाकोडे गांव के जंगल में मंगलवार सुबह करीब 6 बजे जवानों की नक्सलियों से मुठभेड़ हो गई। थोड़ी देर दोनों ओर से हुई फायरिंग के बाद जवानों ने मौके पर जाकर तलाशी ली तो वहां से चार नक्सलियों के शव बरामद हो गए। सभी काली वर्दी में थे। शवों के पास से ही पुलिस ने दो थ्री नॉट थ्री राइफल और 2 इंसाफ राइफल बरामद की हैं। मारे गए नक्सल
सुकमा में पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में एक नक्सली ढेर, नारायणपुर में नक्सलियों ने एक यात्री को बस से उतारकर गोली मारी

सुकमा में पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में एक नक्सली ढेर, नारायणपुर में नक्सलियों ने एक यात्री को बस से उतारकर गोली मारी

chhattisgarh
सुकमा/नारायणपुर (एजेंसी) | जवानों ने गुरुवार सुबह हुई मुठभेड़ में एक नक्सली को मार गिराया है। जवाबी फायरिंग में नक्सली मौके से भाग निकले। पुलिस ने मारे गए नक्सली का शव बरामद किया है। साथ ही मौके से  नक्सल सामाग्री भी बरामद हुई है। ज्यादा जानकारी जवानों के लौटने के बाद ही मिल सकेगी। नक्सलियों की सूचना पर रवाना की गई थीं टीमे पुलिस के मुताबिक बुधवार को किस्टाराम और चिंतागुफा क्षेत्र में नक्सलियों की मौजदूगी की सूचना मिली थी। इस पर अलग-अलग थाने और कैंपों से डीआरजी, एसटीएफ और कोबरा बटालियन की संयुक्त टीम बनाकर भेजा गया। ये टीमें ग्राम टोंडामरका, कन्हाईमरका, सल्लातोंग, बड़ेकेड़वाल और सिंघनमड़गू की ओर रवाना हुई थीं। इस दौरान कैंप एलारमड़गू से निकली डीआरजी, एसटीएफ और 202 वाहिनी कोबरा की टीम की गुरुवार सुबह करीब 9 बजे ग्राम सिंघनमड़गू के जंगल में नक्सलियों से मुठभेड़ हो गई। सशस्त्र वर्दीधारी नक्सनल
सुकमा में ऑपरेशन प्रहार-4 शुरू, गंभीर रूप से घायल तीन जवानों काे रायपुर लाया गया 

सुकमा में ऑपरेशन प्रहार-4 शुरू, गंभीर रूप से घायल तीन जवानों काे रायपुर लाया गया 

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | नक्सलियों के टीसीओसी (टैक्टिकल काउंटर ऑफेंसिव कैंपेन) से पहले सुरक्षाबलों ने सुकमा के नक्सल प्रभावित इलाकों में ऑपरेशन 'प्रहार-4' की शुरुआत कर दी है। अलग-अलग हुए मुठभेड़ों में तीन जवान गंभीर रूप से घायल हुए हैं। सभी को बेहतर इलाज के लिए हेलीकॉप्टर से रायपुर लाया गया है। गुरुवार को करीब 1500 जवानों को जंगलों में उतारा गया। पहले दिन चिंतलनार थाना क्षेत्र में बाटेलंका के पास नक्सलियों से मुठभेड़ में कोबरा जवान भोला कुमार घायल हो गए। भोला कुमार के पैर में 6 गोलियां लगी हैं। इधर, डब्‍बामरका के पास दोपहर 3 बजे हुई मुठभेड़ में गोली लगने से दो एसटीएफ जवानों के गंभीर रूप से घायल होने की पुष्टि करते हुए एसपी  जितेंद्र शुक्ल ने देर शाम तक मुठभेड़ जारी होने की जानकारी दी। एक जवान के पेट में गोली लगी है। दूसरा भी गंभीर रूप से घायल है पर उसकी हालत खतरे से बाहर बताई गई है। गुरुवार सुबह
कलेक्टर जनदर्शन में नक्सल हिंसा पीड़ित महिला को मिली नौकरी

कलेक्टर जनदर्शन में नक्सल हिंसा पीड़ित महिला को मिली नौकरी

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | नक्सल हिंसा पीड़ित मानपुर तहसील के ग्राम शारदा की महिला के लिए कलेक्टर जनदर्शन खुशियों की सौगात लेकर आया। शारदा निवासी कांता बाई मंडावी जनदर्शन में अपनी बच्ची के साथ नक्सल हिंसा पीडि़त सहायता योजना के तहत सहायता के लिए आवेदन देने आई थी, लेकिन उन्हें शासकीय नौकरी का आदेश मिल गया। कलेक्टर भीम सिंह ने कांता मंडावी को कार्यालय कलेक्टर आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास विभाग द्वारा जारी यह आदेश सौंपा। विभाग द्वारा श्रीमती कांता की नियुक्ति आकस्मिकता स्थापना (भृत्य) के पद पर प्री-मैट्रिक आदिवासी कन्या छात्रावास रेंगाकठेरा विकासखंड मोहला में की गई है। कलेक्टर सिंह ने कांता बाई से उनके घर-परिवार और बच्चों की पढ़ाई लिखाई के बारे में चर्चा की। कलेक्टर ने उनके साथ आई उनकी बच्ची को निष्ठा योजना में आवासीय विद्यालय में दाखिला कराने निर्देश अधिकारियों को दिए। पीड़ित को नियुक्ति आदेश