Shadow

Tag: school

रायपुर : ‘शिक्षा की गुणवत्ता सबसे अहम, उत्कृष्ट विद्यालयों स्थापना की योजना’ डॉ. आलोक शुक्ला

रायपुर : ‘शिक्षा की गुणवत्ता सबसे अहम, उत्कृष्ट विद्यालयों स्थापना की योजना’ डॉ. आलोक शुक्ला

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर। राज्य सरकार ने शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने उत्कृष्ट विद्यालयों की स्थापना करने की योजना बनाई है। इसी योजना के संदर्भ में स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला ने आज दुर्ग और राजनांदगांव शहर के विभिन्न स्कूलों का भ्रमण कर जायजा लिया। इन दोनों जिलों के नगरीय निकायों के आगामी शिक्षा सत्र की तैयारियों की समीक्षा की। बैठक में संबंधित जिलों के कलेक्टर, संचालक लोक शिक्षण संचालनालय श्री जितेन्द्र शुक्ला, रायपुर और दुर्ग संभाग के प्रशासनिक और शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारी, महापौर राजनांदगांव की श्रीमती हेमा देशमुख, विधायक एवं महापौर दुर्ग श्री देवेन्द्र यादव, संबंधित जिलों के पार्षद और जनप्रतिनिधियों के साथ शासन की योजनाओं के संबंध में चर्चा की। प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा डॉ. शुक्ला ने चर्चा में कहा कि राज्य सरकार छत्तीसगढ़ के बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए बेहतर पढ़ाई-
रायपुर : स्कूलों में कम्प्यूटर लैब और ई-क्लास रूम से होगी पढ़ाई, प्रदेश के चार हजार 330 हायर सेकेण्डरी और हाई स्कूल चयनित

रायपुर : स्कूलों में कम्प्यूटर लैब और ई-क्लास रूम से होगी पढ़ाई, प्रदेश के चार हजार 330 हायर सेकेण्डरी और हाई स्कूल चयनित

chhattisgarh, News
रायपुर। छत्तीसगढ़ के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल और हाई स्कूल के बच्चे अब स्मार्ट क्लास के माध्यम से पढ़ाई करेंगे। प्रदेश में पहली बार प्रदेश के चार हजार 330 हायर सेकेण्डरी और हाई स्कूल स्कूलों में सूचना प्रौद्योगिकी आधारित ’ई-क्लास’ रूम और लैब की स्थापना की जा रही है। प्रदेश के इन स्कूलों में आधुनिक तकनीकी से उच्च गुणवत्ता पूर्ण पाठ्यक्रम आधारित शिक्षा देने का इंतजाम किया जा रहा हैै। सूचना प्रौद्योगिकी के माध्यम से इन स्कूलों में शिक्षा अब ’ब्लैक-बोर्ड से की-बोर्ड’ की ओर अग्रसर हो रही है। प्रथम चरण में  राज्य के सात जिले रायपुर, बालोद, बेमेतरा, महासमुंद, राजनांदगांव, दुर्ग, धमतरी जिले के 515 स्कूलों में ई-क्लास कम्प्यूटर लैब तथा 768 स्कूलों में डिजिटल क्लास रूम की स्थापना का कार्य पूर्ण कर लिया गया है।   स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने यह जानकारी आज राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक
कटेकल्याण ब्लॉक की बेंगलूर स्थित प्राथमिक शाला में है किचन गार्डन; यूनिसेफ ने स्कूल में किचन गार्डन को सराहा

कटेकल्याण ब्लॉक की बेंगलूर स्थित प्राथमिक शाला में है किचन गार्डन; यूनिसेफ ने स्कूल में किचन गार्डन को सराहा

chhattisgarh, News
दंतेवाड़ा | कटेकल्याण ब्लॉक की बेंगलूर प्राथमिक शाला को सराहना मिली है। यह सराहना अंतरराष्ट्रीय संस्था यूनिसेफ इंडिया द्वारा अपने ट्विटर व फेसबुक पेज की गई है। जिसमें इस स्कूल में बच्चों द्वारा तैयार किचन गार्डन , बागवानी की फ़ोटो शेयर की गई है। सीएम भूपेश बघेल ने भी टि्वटर पर शेयर करते हुए सराहा है। We are committed to eradicate malnutrition and anemia from Chhattisgarh and that too with proper awareness and people's participation. We are confident that we shall succeed. https://t.co/OOzGMDbmDA — Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) January 14, 2020 इसके पहले नीति आयोग द्वारा अपने मुख्य पेज में जगह दी गई थी। बेंगलूर गांव को हालही में एक दिव्यांग बच्चे मड्डाराम की वजह से देश मे पहचान मिली थी। इसके बाद अब यहां की स्कूल के किचन गार्डन को सराहना मिलने पर गांव, स्कूल स्टाफ व विभाग काफी
पालक बोले, स्कूल में नहीं आते शिक्षक, व्यवस्था नहीं सुधरी तो जड़ेंगे ताला, इधर गरियाबंद में शिक्षकों की कमी से नाराज छात्रों ने स्कूल में जड़ दिया ताला

पालक बोले, स्कूल में नहीं आते शिक्षक, व्यवस्था नहीं सुधरी तो जड़ेंगे ताला, इधर गरियाबंद में शिक्षकों की कमी से नाराज छात्रों ने स्कूल में जड़ दिया ताला

chhattisgarh, Videos
बड़गांव/गरियाबंद (एजेंसी) | कोयलीबेड़ा विकासखंड के छिंदपाल प्राथमिक शाला में पढ़ने वाले 46 बच्चों का भविष्य अंधकार में है। शासन ने यहां बच्चों को पढ़ाने एक-दो नहीं बल्कि तीन शिक्षक पदस्थ किए हैं। तीन में से एक शिक्षक मुकेश मंडावी संकुल समन्यवक की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं तो बाकी दो शिक्षकों में से एक सनकेर गावड़े स्कूल आते ही नहीं। तीसरे शिक्षक लोमेश सोनी नियमित स्कूल नहीं आते। नाराज ग्रामीणों ने कहा कि अब अगर व्यवस्था में सुधार नहीं किया तो स्कूल में ताला जड़ देंगे। पालक हर महीने प्रति छात्र 20-20 रुपए चंदा करते हैं और इसी रुपए से गांव के दो शिक्षित युवकों को स्कूल में पढ़ाने पदस्थ किया है। पूरे स्कूल के संचालन का जिम्मा गांव के इन्हीं दोनों युवकों पर है। पंचायत प्रतिनिधि घनश्याम खुड़श्याम, समारू राम कोठारी, चैनू राम, छविलाल, शाला प्रबंधन समिति अध्यक्ष परदेशी उसेंडी, गोपी दरेंद्र,
भारत माता की जय बोलने पर स्कूल में रोक, परिजनों ने किया प्रदर्शन

भारत माता की जय बोलने पर स्कूल में रोक, परिजनों ने किया प्रदर्शन

chhattisgarh
कांकेर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के निजी स्कूल में भारता माता की जय का नारे पर रोक लगाने को लेकर शुक्रवार को हंगामा हो गया। परिजनों और कई संगठनों ने स्कूल पर आरोप लगाते हुए प्रदर्शन शुरू कर दिया। साथ ही स्कूल प्रबंधन के खिलाफ प्रशासन ने शिकायत करने की भी बात कही। यह स्कूल क्रिश्चियन समुदाय की ओर से संचालित किया जाता है। लोग धरने पर बैठने के साथ ही नारेबाजी करने लगे। उन्होंने स्कूल प्राचार्य का पुतला भी फूंका। हंगामा बढ़ने पर स्कूल प्रशासन भी सामने आ गया और उसने सफाई दी है कि इस तरह के नारे लगाने पर कोई रोक नहीं लगाई गई है। वहीं नारेबाजी को लेकर सियासत भी शुरू हो गई है और भाजपा- कांग्रेस आमने-सामने हो गए हैं। कांग्रेस बोली- जांच में सही मिला तो लगेगा स्कूल पर प्रतिबंध दरअसल, भानुप्रतापपुर में संचालित जोसेफ इंग्लिश मीडियम स्कूल में शुक्रवार सुबह बच्चों के परिजनों के साथ ही कुछ हिंदूवादी संगठन
बघेल सरकार पहली से 8वीं तक बच्चों को ओड़िया भाषा पढ़ाएगी, वैकल्पिक विषय के रूप में शामिल किया जाएगा

बघेल सरकार पहली से 8वीं तक बच्चों को ओड़िया भाषा पढ़ाएगी, वैकल्पिक विषय के रूप में शामिल किया जाएगा

chhattisgarh
बिलासपुर (एजेंसी) | राज्य में ओड़िया भाषा बोलने वालों की संख्या के आधार पर राज्य सरकार ने पहली से आठवीं तक स्कूल के सिलेबस में ओड़िया को वैकल्पिक विषय के रूप में शामिल करने की मांग करते हुए दी गई अर्जी पर विचार कर निर्णय लेने का आश्वासन हाईकोर्ट को दिया है। एडवोकेट हमीदा सिद्दिकी के जरिए हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाई थी, इसमें राज्य में प्राइमरी व मिडिल स्कूल के पाठ्यक्रम में ओड़िया भाषा को शामिल करने की मांग करते हुए बताया गया था कि संविधान में भी मातृभाषा में शिक्षा प्राप्त करने का अधिकार है। रिटायर्ड हैडमास्टर ने 2016 में इस संबंध में विस्तृत जानकारी और संवैधानिक प्रावधानों का उल्लेख करते हुए राज्य सरकार को आवेदन दिया था। इस पर विचार नहीं होने पर हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाई गई थी। हाईकोर्ट ने गुरुवार को याचिका निराकृत कर दी। प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में रहते है ओड़िया भाषी प्रदे
जिला शिक्षा अधिकारी की अनुमति बिना कोई स्कूल फीस नहीं बढ़ा सकता

जिला शिक्षा अधिकारी की अनुमति बिना कोई स्कूल फीस नहीं बढ़ा सकता

chhattisgarh
जिला शिक्षा अधिकारी की अनुमति बिना कोई स्कूल फीस नहीं बढ़ा सकता: श्री भार्गव बढ़ाई गई फीस वापस लेने के निर्देश डीईओ ने ली निजी स्कूल प्रबंधन की बैठक बलौदाबाजार, जिला शिक्षा अधिकारी श्री ए.के.भार्गव ने कहा कि कोई भी निजी स्कूल मनमाने तरीके से फीस नहीं बढ़ा सकते हैं। उन्हें बाकायदा इसका तार्किक कारण बताते हुए फीस बढ़ाने का अनुमोदन लेना होगा। पालकों से सहमति लेने के बाद जिला शिक्षा अधिकारी इसका अनुमोदन करेंगे। श्री भार्गव आज यहां जिला ग्रंथालय के सभाकक्ष में निजी स्कूल प्रबंधन की बैठक को सम्बोधित करते हुए इस आशय के निर्देश दिए। बैठक में निजी स्कूलों के संचालक, प्राचार्य एवं उनके प्रतिनिधि उपस्थित थे। उन्होंने बिना अनुमोदन के फीस बढ़ाये कुछ स्कूलों को फीस वृद्धि वापस लेने की सख्त हिदायत दी है। अन्यथा उनकी मान्यता रद्द करने पर विचार किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि जिले में लगभग 300 निजी स्कूल संच
पहले दिन उत्साह और उमंग के साथ स्कूल पहुंचे बच्चे, शाला प्रवेश उत्सव में शामिल हुए विधायक प्रमोद शर्मा, बच्चों को तिलक लगाकर हुआ स्वागत

पहले दिन उत्साह और उमंग के साथ स्कूल पहुंचे बच्चे, शाला प्रवेश उत्सव में शामिल हुए विधायक प्रमोद शर्मा, बच्चों को तिलक लगाकर हुआ स्वागत

chhattisgarh
बलौदाबाज़ार (एजेंसी) | नया शैक्षणिक सत्र आज से शुरू हो गया है। स्कूल के पहले दिन बच्चे पूरे उत्साह के साथ स्कूल पंहुचे। बच्चों के चेहरे पर नई कक्षा में प्रवेश का उत्साह और स्कूल के दोस्तों से मिलने की खुशी साफ झलक रही थी। शहर के शासकीय पंडित चक्रपाणि हायर सेकंडरी स्कूल में आयोजित शाला प्रवेश उत्सव में आज बलौदाबाज़ार विधायक प्रमोद शर्मा शामिल हुए। इस दौरान तिलक लगाकर बच्चों का स्वागत किया गया। प्रमोद शर्मा ने बच्चों को नई कक्षा में प्रवेश ले लिए बधाई दी । उन्होंने बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं देते हुए कहा कि इस साल भी मन लगाकर पढ़ाई करें और परिवार के साथ जिले का नाम रौशन करें। जिला शिक्षा अधिकारी ए के भार्गव ने बताया कि कलेक्टर कार्तिकेया गोयल के निर्देशानुसार आज से ही जिले के सभी स्कूलों में निःशुल्क पाठ्यपुस्तकों और स्कूल यूनिफॉर्म का वितरण भी शुरू हो गया है। स्कूल के पहले द
चौथी कक्षा की छात्रा ने पानी समझकर पी लिया तेजाब, बच्ची ने अस्पताल में दम तोड़ा

चौथी कक्षा की छात्रा ने पानी समझकर पी लिया तेजाब, बच्ची ने अस्पताल में दम तोड़ा

india
नई दिल्ली (एजेंसी) | दिल्ली के हर्ष विहार इलाके में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहाँ पर 5वीं कक्षा की एक छात्रा की पानी की जगह तेजाब पीने से माैत हाे गई। छात्रा ने इलाज के दौरान रात काे जीटीबी अस्पताल में दम ताेड़ा। पुलिस लापरवाही से मौत का केस दर्ज कर जांच कर रही है। पुलिस के अनुसार छात्रा संजना (11) दीप भारती पब्लिक स्कूल में 5वीं की छात्रा थी। मंगलवार को संजना क्लास में लंच कर रही थी। वहीं चौथी कक्षा की एक छात्रा भी आ गई। वह कोल्ड ड्रिंक की बोतल में गलती से पानी के बजाय तेजाब ले आई थी। संजना ने उससे पानी मांगा ताे उसने तेजाब से भरी बोतल दे दी। इसे पीते ही संजना की हालत बिगड़ गई। स्कूल प्रशासन ने संजना को अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टर ने बताया बच्ची ने पानी नहीं, बल्कि तेजाब पीया था। सीसीटीवी फुटेज में संजना क्लास में दूसरे बच्चों के साथ लंच करती दिखी है। इसके बाद मामले की सूचन
केंद्रीय विद्यालय में प्रवेश के लिए पंजीयन 1 मार्च से होगा

केंद्रीय विद्यालय में प्रवेश के लिए पंजीयन 1 मार्च से होगा

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | शैक्षणिक सत्र 2018-2019 के लिए केंद्रीय विद्यालय में कक्षा पहली में प्रवेश के लिए ऑनलाइन पंजीयन 1 मार्च को सुबह 8 बजे से शुरू हो रहा है। यह प्रक्रिया 19 मार्च की शाम 4 बजे तक चलेगी। प्रवेश सम्बन्धी सूचना वेबसाइट और एप दोनों माध्यमों से प्राप्त की जा सकेगी। कक्षा दूसरी या इससे ऊपर की कक्षाओं स्थान रिक्त होने पर प्रवेश दिया जाएगा। इसके लिए ऑफलाइन पंजीयन 2 अप्रैल को सुबह 8 बजे से शुरू हो रहा है। यह प्रक्रिया 9 अप्रैल की शाम 4 बजे तक चलेगी। प्रवेश सम्बन्धी सूचना वेबसाइट और एप दोनों माध्यमों से प्राप्त की जा सकेगी। वही कक्षा 11वी में प्रवेश के लिए ऑफलाइन आवेदन कक्षा 10वी के परिणाम आने के बाद तत्काल वेबसाइट में उपलब्ध कराई जाएगी। अधिक जानकारी के लिए www.kvssangathan.nic.in पर विजिट कर सकते हैं।