Shadow

Tag: raman singh

पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की पत्नी वीणा सिंह हुई कोरोना पॉजिटिव, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जल्द स्वस्थ होने की कामना की

पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की पत्नी वीणा सिंह हुई कोरोना पॉजिटिव, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जल्द स्वस्थ होने की कामना की

chhattisgarh
छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की पत्नी वीणा सिंह कोरोना संक्रमित मिली हैं। उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने की जानकारी स्वयं पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर दी है। उन्होंने लिखा है, मेरी धर्मपत्नी वीणा सिंह की कोविड-19 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्हें डॉक्टर्स की सलाह पर हॉस्पिटल में भर्ती कर रहे हैं। उन्होंने संपर्क में आए सभी लोगों को टेस्ट कराने की भी सलाह दी है। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने ट्वीट कर दी जानकारी, कहा- संपर्क में आए लोग कराएं टेस्ट मेरी धर्मपत्नी श्रीमती वीणा सिंह की कोविड-19 की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है।उन्हें डॉक्टर्स की सलाह पर हॉस्पिटल में भर्ती कर रहे हैं।साथ ही मैं व मेरे परिवार के अन्य सदस्य भी आइसोलेशन में रहकर जांच कराएंगे। आपसे भी अनुरोध है जो भी हमारे संपर्क में आया हो वो भी आइसोलेट रहकर जांच कराएं। — Dr Raman Singh (@drramansingh) August 12, 2020 ...
कोरोना महामारी के समय विश्व विख्यात आयुर्वेदिक चिकित्सक सोशल मीडिया में व्यस्त है जबकि उन्हें अस्पताल में होना चाहिये – विकास तिवार, कांग्रेस

कोरोना महामारी के समय विश्व विख्यात आयुर्वेदिक चिकित्सक सोशल मीडिया में व्यस्त है जबकि उन्हें अस्पताल में होना चाहिये – विकास तिवार, कांग्रेस

chhattisgarh, politics
रायपुर. छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह से अनुरोध करते हुवे कहा है कि कोरोना कोविड 19 महामारी के राज्य में चिकित्सकों की बहुतायत कमी हो रही है जिसके के कारण खुद पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह है। भाजपा शासन काल मे विशेषज्ञ चिकित्सको के कुल रिक्त पद 1525 थे जिसमें मात्र 175 पदों में ही नियुक्ति की गयी थी। उसी प्रकार चिकित्सा अधिकारी के 689 पर रिक्त रहे जिसका खामियाजा आज पूरे प्रदेश को भोगना पड़ रहा है। रमन सरकार का एकमात्र लक्ष्य कमीशनखोरी करना था। इस कारण बड़े पैमाने में विशेषज्ञ एवं चिकित्सा अधिकारियों भर्ती नही की गयी थी। इसके अलावा मेडिकल स्टाफ,नर्सिंग स्टाफ,लैब टेक्नीशियन की भी भर्ती रमन सरकार के समय नही की गयी थी, जबकि किसी भी राज्य में मूलभूत स्वास्थ सुविधाओ और अधोसंरचना निर्माण सरकार की प्राथमिकता होती है पर रमन राज में प्रद...
डॉ. रमन सिंह अवसाद में है, उन्हें उनकी ही पार्टी के प्रदेश इकाई के वरिष्ठ नेताओं का समर्थन नहीं मिल रहा : विकास तिवारी

डॉ. रमन सिंह अवसाद में है, उन्हें उनकी ही पार्टी के प्रदेश इकाई के वरिष्ठ नेताओं का समर्थन नहीं मिल रहा : विकास तिवारी

chhattisgarh, politics
रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह बयान पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा है कि गोधन न्याय योजना अपने प्रारंभिक चरण पर है। इसकी तारीफ खुद भाजपा के पितृ संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने की है। इससे पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह तिलमिला उठे हैं। उनकी रात की नींद उड़ी हुई है और लगातार भाजपा के वरिष्ठ नेता और युवा नेताओं की अवहेलना उन से बर्दाश्त नहीं हो रही है। इसलिए वे रोजाना केवल और केवल कागजी बयानबाजी कर रहे हैं। विकास ने कहा है कि कोरोना महामारी के कठिन समय में कांग्रेस की सरकार के जनहितैषी कार्यों का प्रतिपादन और केंद्र सरकार की ओर से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के कार्यों को सराहना मिलता देख पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह बुरी तरह से तिलमिला उठे हैं। उन्हें उनकी ही पार्टी के प्रदेश इकाई के वरिष्ठ नेताओं का समर्थन नहीं मिल रहा ह...
पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह और बेटे अभिषेक सिंह के खिलाफ ईओडब्ल्यू में शिकायत, कांग्रेस नेता ने लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह और बेटे अभिषेक सिंह के खिलाफ ईओडब्ल्यू में शिकायत, कांग्रेस नेता ने लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

chhattisgarh
रायपुर | आर्थिक अन्वेषण ब्यूरो के दफ्तर पहुंचे कांग्रेस नेता विनोद तिवारी ने पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह और उनके बेटे अभिषेक सिंह पर गंभीर आरोप लगाते हुए जांच और कार्रवाई की मांग की है। कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया है कि पूर्व सीएम और उनके बेटे ने सरकारी योजनाओं में करोड़ों रुपए का भ्रष्टाचार करते हुए जमकर काली कमाई की है। राज्य चुनाव आयोग को अपनी संपत्ति के बारे में गलत जानकारी देकर उन्हें गुमराह किया। इधर पूर्व सीएम ने कांग्रेस नेता की इस शिकायत पर कहा है, जो दस्तावेज दे रहे, वे बेबुनियाद हैं। इसमें कोई सच्चाई नहीं है। दर्ज कराई गई शिकायत में कांग्रेसी नेता विनोद तिवारी ने बताया कि पूर्व सीएम द्वारा अपने कार्यकाल में अकूत संपत्ति अर्जित की गई। अनुपातहीन, आय से अधिक संपत्ति की विभिन्न निर्वाचन के दौरान चुनाव आयोग को झूठी जानकारी दी गई। पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह द्वारा अपने निर्वाचन हेतु अभ्यर...
अब केंद्र सरकार डॉ. रमन सिंह NSG सिक्युरिटी वापस लेगी, पूर्व सीएम रमन की सुरक्षा से हटेंगे ब्लैक कैट कमांडो

अब केंद्र सरकार डॉ. रमन सिंह NSG सिक्युरिटी वापस लेगी, पूर्व सीएम रमन की सुरक्षा से हटेंगे ब्लैक कैट कमांडो

chhattisgarh, politics
रायपुर | पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की सुरक्षा को लेकर एक बड़ी खबर आ रही है। राज्य सरकार की तरफ से सुरक्षा घटाने के बाद …अब केंद्र सरकार भी डॉ रमन सिंह NSG सिक्युरिटी वापस लेगी। केंद्रीय गृहमंत्रालय ने इस बाबत जल्द ही NSG सिक्युरिटी को वापस लेने का निर्देश जारी कर सकता है। गांधी परिवार से SPG सुरक्षा वापस लेने के बाद अब सरकार ने सभी वीआईपी लोगों की सुरक्षा से NSG कवर हटाने का ये बड़ा फैसला लिया गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक विशिष्ट लोगों को सुरक्षा देने के काम से अब राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (NSG) को दूर रखा जाएगा। करीब दो दशक बाद ऐसा होगा कि आतंकवाद निरोधी विशिष्ट बल के ‘ब्लैक कैट’ कमांडो को वीआईपी सुरक्षा ड्यूटी से हटाया जाएगा। 1984 में एनएसजी का गठन हुआ था। एनएसजी फिलहाल ‘जेड-प्लस’ वाले 13 ‘हाई प्रोफाइल’ लोगों को वीआईपी सुरक्षा देता है। देश भर में अभी 13 ऐसे VIP हैं, जिन्ह...
सारकेगुड़ा मुठभेड़ मामला: पूर्व सीएम रमन सिंह, आईबी चीफ, बस्तर आईजी सहित अन्य के खिलाफ FIR दर्ज कराने थाने पहुंचे ग्रामीण

सारकेगुड़ा मुठभेड़ मामला: पूर्व सीएम रमन सिंह, आईबी चीफ, बस्तर आईजी सहित अन्य के खिलाफ FIR दर्ज कराने थाने पहुंचे ग्रामीण

chhattisgarh, politics
बीजापुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के बीजापुर में शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सहित तत्कालीन अधिकारी व अन्य जवानों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण बासागुड़ा थाने के बाहर एकत्र हो गए हैं। यह ग्रामीण सारकेगुड़ा फर्जी मुठभेड़ मामले में इन सभी के ऊपर एफआईआर दर्ज करने की मांग कर रहे हैं। ग्रामीण थाने के बाहर ही धरने पर बैठ गए हैं और भजन गा रहे हैं। वहीं पुलिस का कहना है कि शासन से निर्देश मिलने के बाद ही इस संबंध में आगे कार्रवाई होगी। पुलिस बोली शासन से निर्देश के बाद ही आगे कार्रवाई सारकेगुड़ा मुठभेड़ मामले में ग्रामीण लगातार कार्रवाई की मांग रहे हैं। न्यायिक जांच आयोग की रिपोर्ट आने के बाद अब ग्रामीण शुक्रवार को सामाजिक कार्यकर्ता हिमांशु कुमार और सोनी सोढ़ी के साथ सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण बासागुड़ा थाने पहुंच गए। वहां पर ग्रामीण तात्कालीन सीएम रमन सिंह, आ...
धान खरीदी: डॉ रमन- किसानों से विश्वासघात स्वीकार्य नहीं, मुख्यमंत्री-आपका भूपेश 2500 रु. समर्थन मूल्य दिलवाएगा

धान खरीदी: डॉ रमन- किसानों से विश्वासघात स्वीकार्य नहीं, मुख्यमंत्री-आपका भूपेश 2500 रु. समर्थन मूल्य दिलवाएगा

chhattisgarh, politics
रायपुर (एजेंसी) | धान के समर्थन मूल्य पर छत्तीसगढ़ में सियासी ड्रामा नहीं थम रहा। इसे लेकर असमंजस की स्थिति है कि किसानों से 2500 रुपए में समर्थन मूल्य पर धान लिया जाएगा या नहीं। मंगलवार को सत्ता और विपक्ष के बड़े नेता ट्वीटर पर भिड़ते दिखे। पहले भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन ने ट्वीट में लिखा कि झूठे वादों और खोखली कमेटियों का क्या निष्कर्ष निकलता है वह तो जनता शराबबंदी के वादे पर भी देख चुकी है, अब किसानों के साथ पुनः यही विश्वासघात स्वीकार्य नहीं है। कुछ देर बार मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जवाबी हमला करते हुए ट्वीटर पर लिखा- किसान भाई ध्यान रखें, भ्रम में न आएँ। आपका भूपेश 2500 रुपए प्रति क्विंटल ही धान का मूल्य दिलवाएगा। कैसे कैसे ये मंजर सामने आने लगे "नान" वाले "धान" पर सवाल उठाने लगे वादा किया है किसानों से, हर हाल में निभायेंगे "पनामा" नहीं किसानों की "जेब" भरकर दिखाय...
राशन दुकान पर राजनीति: डॉ रमन बोले, ‘राशन दुकानों को तिरंगे के रंग में रंगना राजनीतिकरण’, सीएम भूपेश बोले, ‘ईश्वर सद्बुध्दि दे’

राशन दुकान पर राजनीति: डॉ रमन बोले, ‘राशन दुकानों को तिरंगे के रंग में रंगना राजनीतिकरण’, सीएम भूपेश बोले, ‘ईश्वर सद्बुध्दि दे’

chhattisgarh, india, politics
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की सरकारी राशन दुकानों के रंग को लेकर सियासी बयानबाजी शुरू हो गई है। गुरुवार को प्रदेश की कांग्रेस और भाजपा दोनों ही राजनीतिक दल इस मुद्दे पर एक दूसरे पर निशाना साधते दिखे। भारतीय जनता पार्टी के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा कि तिरंगे रंग में दुकानों को रंगना राजनीतिकरण करने का प्रयास है, राशन दुकानों की तिरंगे के रंग में पुताई हो रही है, निश्चित रुप से यह गलत परिपाटी लाने का प्रयास हो रहा है। इस पर ट्विटर के जरिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जवाबी हमला करते हुए भाजपा नेताओं के लिए भगवान से सद्बुध्दी देने की कामना की। तिरंगा इस देश की आन-बान-शान है। तिरंगा न उनको आज़ादी के समय मंज़ूर था और न आज मंज़ूर है। कांग्रेस का विरोध करते करते देश और संविधान का विरोध करने वालों को ईश्वर सद्बुद्धि दे। हे राम! https://t.co/XYJXLXgOFY — Bhupesh Baghe...
छत्तीसगढ़: धान के दाम को लेकर केंद्र और राज्य आमने-सामने; मुख्यमंत्री बोले- तो फिर जंग ही सही

छत्तीसगढ़: धान के दाम को लेकर केंद्र और राज्य आमने-सामने; मुख्यमंत्री बोले- तो फिर जंग ही सही

chhattisgarh, politics
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ में धान खरीदी का मुद्दा गरमाता जा रहा है। केंद्र सरकार ने अधिक दर पर सेंट्रल पूल में धान खरीदने से इनकार कर दिया है। हालांकि, राज्य सरकार इसको लेकर केंद्र से पत्राचार भी कर रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को ट्वीट कर साहिर लुधानवी के शेर के साथ केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। दूसरी ओर पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने सीएम बघेेल से पूछा है कि क्या उन्होंने केंद्र सरकार से पूछकर अपने चुनावी घाेषणापत्र में किसानों से वादा किया था। सोशल मीडिया बन रही सवालों-जवाबों के साथ युद्ध का मैदान 2500 रुपए प्रति क्विंटल धान खरीदने काे लेकर राज्य सरकार और केंद्र की सरकार आमने-सामने आ गए हैं। राज्य जहां दाम कम करने के लिए तैयार नहीं है, वहीं केंद्र बढ़े हुए दाम पर उसे लेने के लिए तैयार नहीं है। इसको लेकर राज्य में कांग्रेस और भाजपा न...
रायपुर : भूपेश ने कहा – रमन ने खूब कमाया इसलिए अकड़, रमन ने कहा – जेल भेजने का सपना पूरा नहीं होगा

रायपुर : भूपेश ने कहा – रमन ने खूब कमाया इसलिए अकड़, रमन ने कहा – जेल भेजने का सपना पूरा नहीं होगा

chhattisgarh, politics
रायपुर। पीसीसी चीफ मोहन मरकाम के बयान कि सरकार दोनों पूर्व सीएम को जेल भेजने की तैयारी में लगी है, को लेकर राज्य में सियासत तेज हो गई है। इस मसले पर पूर्व मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बीच एक बार फिर जुबानी जंग तेज हो गई है। सीएम बघेल बस्तर के चित्रकोट में चुनाव प्रचार से लौटकर सीधे लखनऊ रवाना हो गए। लखनऊ उड़ने से पहले बघेल ने कहा कि दंतेवाड़ा में रमन सिंह ने ठेकेदार को लगाया था चुनाव जिताने के लिए लेकिन वहां का हश्र वो देख चुके हैं इसलिए चित्रकोट में उन्होंने कोई ठेकेदार नहीं भेजा है। उन्होंने कहा कि यदि उनके कार्यकाल में कोई गड़बड़ी नहीं हुई है तो नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने पीआईएल लगाकर जांच नहीं करने की मांग क्यों की है। बघेल ने कहा कि मुझे किसी को जेल भेजने का शौक नहीं है। सभी आरोप और जांच उनके कार्यकाल के ही हैं, हम उसे ही आगे बढ़ा रहे हैं। इस मामले पर ...