chhattisgarh news media & rojgar logo

Tag: Rajnandgaon

राजनांदगांव: होटल कारोबारी का बेटा महाराष्ट्र से बरामद, रोज की डांट-फटकार से नाराज होकर वेटर ने किडनैप किया था

राजनांदगांव: होटल कारोबारी का बेटा महाराष्ट्र से बरामद, रोज की डांट-फटकार से नाराज होकर वेटर ने किडनैप किया था

chhattisgarh, News, politics
राजनांदगांव. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव सेहोटल कारोबारी के किडनैप बच्चे को पुलिस ने खोज निकाला। जिले से सटेमहाराष्ट्र के एक गांव सेबच्चे को किडनैपर के चंगुल से छुड़ाया गया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी युवक बच्चे के पिता के होटल में ही वेटर का काम करता था। घटना को उसने अपने साथियों के साथ अंजाम दिया।सीसीटीवी फुटेज और मोबाइल लोकेशन की मदद से पुलिस आरोपियों तक पहुंची और बच्चे का रेस्क्यू कामयाब रहा। डांटता था कारोबारी, इसलिए बच्चे को किया किडनैप जब पुलिस आरोपियों तक पहुुंची तो टीमको देख तीन आरोपी अक्षय सहारे, कामेश कावड़े और इनका एक नाबालिग साथी भागने लगे। इन सभी को पुलिस ने पीछाकर गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि कारोबारी विनोद लुल्ला की डांट-फटकार से तंग आकरउसने सबक सिखाने की सोची। इसके लिए अपने साथियों के साथ मिलकर प्लानिंग बनाई। बच्चे के घर के बाहर निकलनेपर नजर रखी।मौ
राजनांदगांव: कारोबारी और भाजपा नेता के बेटे को घर के सामने से बाइक सवार ने किया अपहरण, पूरे शहर में नाकेबंदी

राजनांदगांव: कारोबारी और भाजपा नेता के बेटे को घर के सामने से बाइक सवार ने किया अपहरण, पूरे शहर में नाकेबंदी

chhattisgarh, News
राजनांदगांव (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव शहर में रविवार शाम कारोबारी के बेटे का अपहरण कर लिया गया। दो बाइक सवारों ने घर के सामने खेल रहे बच्चे को उठा लिया और फरार हो गए। अब पुलिस ने सारे शहर को सील कर तलाश शुरू कर दी है। घटनास्थल के आस-पास लगे सीसीटीवी से वीडियो फुटेज निकालने की कोशिश भी जारी है। बच्चे की उम्र 8 साल है। पुलिस ने बताया कि भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ के पूर्व अध्यक्ष और कारोबारी विनोद लुल्ला का बेटा नैतिक लुल्ला शाम 6 बजे दोस्तों के साथ खेल रहा था, तभी बाइक पर सवार दो नकाबपोशों ने उसे किडनैप कर लिया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, बाइक का नंबर महाराष्ट्र का था। एसएसपी बीएस ध्रुव ने बताया कि नाकेबंदी कर जांच शुरू कर दी गई है। जिले व पड़ोसी जिले की पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है। लुल्ला परिवार न्यू खंडेलवाल काॅलोनी के ममता नगर इलाके में रहता है।
मैच के दौरान हुई थी मारपीट, राजनांदगांव व बिलासपुर के हॉकी खिलाड़ियों पर लगा बैन

मैच के दौरान हुई थी मारपीट, राजनांदगांव व बिलासपुर के हॉकी खिलाड़ियों पर लगा बैन

chhattisgarh, News, sports
राजनांदगांव (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव स्थित अंतरराष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम में खेले गए मैच में विवाद हुआ था । अब चौथे राज्य स्तरीय सीनियर पुरुष एवं महिला हॉकी टूर्नामेंट में मैच के दौरान मारपीट करने वाले खिलाड़ियों के साथ ही अंपायरों के विरुद्ध भी कार्रवाई की गई है। हॉकी इंडिया के निर्देश पर सेमी फाइनल मैच में मारपीट करने वाली राजनांदगांव और बिलासपुर की दोनों टीम के सभी खिलाड़ियों को एक साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है। अब यह खिलाड़ी एक साल तक कहीं भी मैच नहीं खेल पाएंगे। छत्तीसगढ़ हॉकी की ओर से पांच खिलाड़ियों के अलावा आयोजन समिति की रिपोर्ट के आधार पर मैच के अम्पायर शकील अहमद और अभिनव मिश्रा को एक साल के लिए निलंबित कर दिया है। इन पर अनुशासनहीनता के चलते यह कार्रवाई की गई है। छत्तीसगढ़ हॉकी के अध्यक्ष फिरोज अंसारी ने बताया कि छत्तीसगढ़ हॉकी की अनुशासन समिति ने टूर्नामेंट डाय
राजनांदगांव : राइफल की सफाई करने के दौरान डोंगरगढ़ थाने में चली गोली, पैर में लगने से प्रधान आरक्षक घायल

राजनांदगांव : राइफल की सफाई करने के दौरान डोंगरगढ़ थाने में चली गोली, पैर में लगने से प्रधान आरक्षक घायल

chhattisgarh, News, politics
राजनांदगांव. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में गुरुवार सुबह थाने में गोली चलने से प्रधान आरक्षक घायल हो गया। गोली आरक्षक के पैर में लगी है। उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि ड्यूटी के दौरान सुबह थाने पहुंचने के बाद राइफल की सफाई करने के दौरान गोली चली है। घटना के बाद आला अधिकारियों में भी हड़कंप मचा हुआ है। प्रथम दृष्टया आरक्षक की लापरवाही सामने आ रही है। प्रधान आरक्षक की लापरवाही का अंदेशा, हो सकती है कार्यवाही जानकारी के मुताबिक, डोंगरगढ़ थाने का प्रधान आरक्षक रोहित पड़ौती अपनी ड्यूटी पर गुरुवार सुबह करीब 11 बजे थाने पहुंचा। कुछ देर बाद वह अपनी सर्विस राइफल साफ करने लगा। इसी दौरान अचानक राइफल से गोली चल गई। थाने में गोली की आवाज सुनते ही हड़कंप मच गया। मौके पर ही पूरा स्टाफ दौड़ पड़ा। स्टाफ ने देखा कि प्रधान आरक्षक रोहित को ही गोली लगी है। इस पर उन्
मार्मिक VIDEO: कलाकार पूनम तिवारी ने ‘चोला माटी के हे राम’ गाकर दी संगीतज्ञ बेटे को अंतिम विदाई, दोस्तों ने बजाए वाद्ययंत्र

मार्मिक VIDEO: कलाकार पूनम तिवारी ने ‘चोला माटी के हे राम’ गाकर दी संगीतज्ञ बेटे को अंतिम विदाई, दोस्तों ने बजाए वाद्ययंत्र

chhattisgarh, News
राजनांदगांव (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ में राजनांदगांव के रंगकर्मी और संगीतकार सूरज तिवारी (30) का शनिवार को निधन हो गया। सूरज की इच्छा के अनुसार अंतिम यात्रा गीत और संगीत के साथ निकाली गई। घर से शव यात्रा निकलने से पहले लोक कलाकार मां पूनम तिवारी ने बेटे की अर्थी के सामने जीवन की सच्चाई पर आधारित लोकगीत ‘चोला माटी के हे राम, एखर का भरोसा चोला माटी के हे राम’ गाकर अंतिम विदाई दी। https://youtu.be/YLfffDZ3FEk दाउ मंदराजी अलंकरण से सम्मानित कलाकार मां पूनम मंचों पर यह गीत कई बार गा चुकी हैं, लेकिन जब बेटे के शव के सामने यह दर्द भरा छत्तीसगढ़ी लोकगीत गाया तो वहां मौजूद सारे लोग फफक पड़े। कला जगत से जुड़े सूरज के साथियों ने तबला, हारमोनियम में संगत देते हुए श्रद्धांजलि दी। रंगछत्तीसा के संचालक, रंगकर्मी व संगीतकार सूरज हदय रोग से पीड़ित थे। 26 अक्टूबर को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया थ
सीएम भूपेश बघेल के पिता ने की दशानन की पूजा, 124 गांवों में रावण दहन नहीं करने का संकल्प

सीएम भूपेश बघेल के पिता ने की दशानन की पूजा, 124 गांवों में रावण दहन नहीं करने का संकल्प

chhattisgarh, News, politics
राजनांदगांव (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंदकुमार बघेल ने दशहरे के दिन रावण की पूजा की। सर्व आदिवासी समाज के कार्यक्रम में उन्होंने महिषासुर और मेघनाद का शहादत दिवस मनाया। आदिवासी नेता सुरजू टेकाम ने रावण दहन न करने का प्रस्ताव रखा। कार्यक्रम में तय किया गया कि क्षेत्र के 124 गांवों में रावण दहन में कोई भी आदिवासी शामिल नहीं होगा, न ही कोई सहयोग देगा, क्योंकि आदिवासी रावण को अपना पुरखा मानते हैं। वोट हमारा राज तुम्हारा, यह नहीं चलेगा: नंद कुमार वोट हमारा-राज तुम्हारा, यह नहीं चलेगा। प्रदेश में आए तमाम उच्च वर्ग के लोगों गिन-गिन के दफ्तरों से निकाला जाए और हमारे बच्चों को नौकरी दी जाए। यह हमारी अंतिम लड़ाई है। अब चाहे इसे नक्सलवाद कहिए या कोई भी वाद कहिए। हम हक और अधिकार की लड़ाई लडेंगे। जब भी आप पर कोई संकट आए मैं यहां आने के लिए तैयार हूं। आप लोगों (आदिवासियों
नवरात्रि विशेष: देखे राजनांदगांव के बर्फानी धाम और पाताल भैरवी का विशाल मंदिर

नवरात्रि विशेष: देखे राजनांदगांव के बर्फानी धाम और पाताल भैरवी का विशाल मंदिर

chhattisgarh, News, tourism, Videos
बर्फानी धाम छत्तीसगढ़ में राजनांदगांव शहर में एक विशाल हिन्दू मंदिर है। यह दुर्ग से 40 किलोमीटर (25 मिनट) दूर है। एक बड़ा शिव लिंग मंदिर के शीर्ष पर देखा जा सकता है, जबकि एक बड़ी नंदी की प्रतिमा सामने खड़ी है। मंदिर का निर्माण तीन स्तरों में किया गया है। सबसे नीचे माँ पाताल भैरवी का मंदिर है। दूसरा मंजिल में नवदुर्गा या त्रिपुरा सुंदरी माता का मंदिर है और सबसे ऊपर शिव जी का मंदिर है। वीडियो देखे https://youtu.be/jYFF0srjrvo बर्फानी धाम राजनांदगाव कैसे पहुंचे सड़क मार्ग से: पाताल भैरवी देवी मंदिर राजनंदगांव में आशा नगर के पास स्थित है। यह राजनांदगांव बस स्टेशन से सिर्फ 5 किमी दूर स्थित है। यह लोकप्रिय रूप से बरफ़ानी धाम या पाताल भैरवी मंदिर के नाम से जाना जाता है। ट्रेन से: सीधे लोकल या पैसेंजर ट्रेने रायपुर से उपलब्ध हैं। राजनांदगांव रायपुर से 89 किमी (1:30 घंटे) दू
नवरात्रि विशेष : मां बम्लेश्वरी मंदिर डोंगरगढ़, राजनांदगाव के बारे में जानिए

नवरात्रि विशेष : मां बम्लेश्वरी मंदिर डोंगरगढ़, राजनांदगाव के बारे में जानिए

chhattisgarh, News, special, tourism, Videos
छत्तीसगढ़ राज्य के राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ में स्थित है मां बम्लेश्वरी का भव्य मंदिर। पहाड़ों से घिरे होने के कारण इसे पहले डोंगरी और अब डोंगरगढ़ के नाम से जाना जाता है। यहां ऊंची चोटी पर विराजित बगलामुखी मां बम्लेश्वरी देवी का मंदिर। छत्तीसगढ़ ही नहीं देश भर के श्रद्धालुओं के लिए आस्था का केन्द्र बना हुआ है। हजार से ज्यादा सीढिय़ां चढ़कर हर दिन मां के दर्शन के लिए वैसे तो देश के कोने-कोने से श्रद्धालु यहां आते हैं लेकिन नवरात्रि के दौरान अलग ही दृश्य होता है। जो ऊपर नहीं चढ़ पाते उनके लिए मां का एक मंदिर पहाड़ी के नीचे भी है जिसे छोटी बम्लेश्वरी मां के रूप में पूजा जाता है। अब मां के मंदिर में जाने के लिए रोप वे भी लगाया गया है। मंदिर का इतिहास  लगभग ढाई हजार वर्ष पूर्व इसे कामाख्या नगरी के नाम से जाना जाता था। यहाँ राजा वीरसेन का शासन था। वे नि:संतान थे। संतान की कामना के ल
राजनांदगाव छत्तीसगढ़ में नक्सली मुठभेड़ जारी, ७ नक्सलियों के मारे जाने की खबर

राजनांदगाव छत्तीसगढ़ में नक्सली मुठभेड़ जारी, ७ नक्सलियों के मारे जाने की खबर

chhattisgarh
राजनांदगाव, विशेष सूत्रों से जारी खबर छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित राजनांदगांव के इलाके में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. सीएएफ, जिला बल और डीआरजी की संयुक्त कार्रवाई में सुरक्षाबलों ने यहां 7 नक्सली मुठभेड़ में मार गिराए है. यह घटना राजनांदगांव के पथाना बागनदी और बोरतलाव के बीच महाराष्ट्र सीमा से सटे शेरपार और सीतागोटा के बीच हुई है. सुरक्षाबलों को शेरपार और सीतगोटा के बीच घाटियों में नक्सलियों के छिपे होने की सूचना मिली थी. जिसके आधार पर जिला बल, डीआरजी और सीएएफ की एक टीम इस इलाके के लिए रवाना की गई थी. जहां आज सुबह 08.00 से माआवोदियों के साथ मुठभेड़ चल रही है. मुठभेड़ में अभी तक 07 नक्सलियों के शव बरामद किए जा चुके हैं.  कैंप भी ध्वस्त कर दिए हैं. घटना स्थल से सुरक्षाबलों को AK-47, 303 राइफल, 12 बोर बंदूक, सिंगल शाट रायफल सहित और अन्य गोला बारूद बरामद हूआ है. नक्सलियों औ
शर्मनाक: गैंगरेप के आरोपी जेल में, केस दबाने के प्रयास पर ग्रामीणों से पूछताछ शुरू

शर्मनाक: गैंगरेप के आरोपी जेल में, केस दबाने के प्रयास पर ग्रामीणों से पूछताछ शुरू

chhattisgarh
राजनांदगाव (एजेंसी) | डोंगरगांव के चारभाठा में 10 साल की बच्ची से हुए गैंगरेप के मामले में पुलिस ग्रामीणों से पूछताछ कर रही है। मंगलवार को कुछ ग्रामीणों से बयान लिया गया व गांव में हुई मीटिंग के संबंध में पुलिस ने जानकारी जुटाई। अगले दिन भी कुछ ग्रामीणों से मामले में पूछताछ किए जाने की बात पुलिस ने कही है। गैंगरेप की घटना 14 जुलाई से हुई थी, इसके बाद परिजन सीधे थाने नहीं पहुंचे थे। ग्रामीण स्तर पर मामले को सुलझाने के लिए बैठक रखी गई थी। इसे पॉक्सो एक्ट का उल्लंघन माना जाता है। इसे ही ध्यान में रखकर अब पुलिस बैठक रखने वालों सहित बैठक में हुई चर्चाओं की जानकारी जुटा रही है। घटना के बाद मामले को ग्रामीण स्तर पर ही दबाने का प्रयास किया जा रहा था। लेकिन बैठकों में बात नहीं बनी और मामला थाने तक पहुंचा। मामला दबाने के लिए कौन- कौन प्रयासरत थे और बैठकें किन-किन के दबाव में रखी गई थी, इसकी जांच क