Shadow

Tag: op chaudhary

आशीष कर्मा को डिप्टी कलेक्टर बनाए जाने पर भाजपा-कांग्रेस आमने-सामने

आशीष कर्मा को डिप्टी कलेक्टर बनाए जाने पर भाजपा-कांग्रेस आमने-सामने

politics
रायपुर (एजेंसी) | पूर्व मंत्री और नेता प्रतिपक्ष रहे स्व. महेन्द्र कर्मा के पुत्र आशीष कर्मा को डिप्टी कलेक्टर के पद पर अनुकंपा नियुक्ति दिए जाने के सरकार के फैसले के बाद सियासत तेज हो गई है। एक तरफ पूर्व आईएएस अधिकारी और भाजपा नेता ओपी चौधरी ने सरकार के इस फैसले पर सवाल उठाया है तो दूसरी तरफ कांग्रेस महामंत्री शैलेष नितिन त्रिवेदी ने भाजपा पर पलटवार किया है। कर्मा परिवार की दावेदारी रोकने लिया फैसला: ओ. पी. चौधरी ओपी चौधरी ने सरकार के इस फैसले पर सवाल उठाते हुए सोशल मीडिया में एक पोस्ट किया है। हालांकि, इस पोस्ट को उन्होंने व्यक्तिगत राय बताया है लेकिन बातें लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट वितरण को लेकर की गई है। उन्होंने लिखा है कि कांग्रेस लोकसभा चुनाव में कर्मा परिवार को टिकट नहीं देना चाहती। उनकी दावेदारी रोकने के लिए परिवार के सदस्य को डिप्टी कलेक्टर के पद पर अनुकंपा नियुक्ति द
ओपी चौधरी की जीत पर BJP नेता ने लगाया था दांव, अब मुंडवानी होगी मूंछ

ओपी चौधरी की जीत पर BJP नेता ने लगाया था दांव, अब मुंडवानी होगी मूंछ

politics
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के दौरान जिस सीट की सबसे अधिक चर्चा थी वह थी, रायगढ़ जिले की खरसिया विधानसभा सीट। दरअसल, खरसिया विधानसभा सीट से कांग्रेस नेता नंदकुमार पटेल का राज रहा था, तो वहीं 2013 के विधानसभा चुनाव में उनकी जगह उनके बेटे ने खरसिया में परचम लहराया था। ऐसे में अपने पिता की विरासत को आगे बढ़ाते हुए उमेश पटेल ने एक बार फिर इस सीट पर बड़े मतों के अंतर से जीत दर्ज कराई है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); वहीं उमेश पटेल की जीत और ओपी चौधरी की हार से अलग एक बीजेपी नेता ऐसा है जिसे इस समय अपनी मूंछों का डर सता रहा है। दरअसल, बीजेपी नेता श्रवण तिवारी को ओपी चौधरी की जीत पर इतना विश्वास था कि उन्होंने यहां तक ऐलान कर दिया था कि अगर ओपी चौधरी चुनाव हारते हैं तो वह अपनी मूंछ मुंडवा लेंगे। बता दें खरसिया से बीजेपी प्रत्याशी रहे ओपी चौधरी कल
सत्ता मद में बेलगाम भाजपाई जनता को धमका रहे: कांग्रेस

सत्ता मद में बेलगाम भाजपाई जनता को धमका रहे: कांग्रेस

politics
रायपुर (एजेंसी) | नौकरशाह से नए नवेले नेता बने ओपी चौधरी और मंत्री राजेश मूणत के द्वारा चुनाव प्रचार के दौरान मतदाताओ को खुलेआम धमकाने पर कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति व्यक्त की है। प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि सरकार जाने वाली है लेकिन भाजपाइयों की हेकड़ी नही जा रही है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); पन्द्रह साल सरकार में रह कर सत्ता की ताकत का दुरुपयोग करने की आदत के कारण भाजपाइयों में अहंकार आ गया है जनता के मत को भाजपाई अपनी जागीर समझने लगे है इसीलिए मंत्री मूणत महिलाओ को वोट देने की कसम खिलाकर धमकी दे रहे है तो ओपी चौधरी उनको मत नही देने वाले पर कहर बन कर टूटने की धमकी दे रहे हैं। भाजपाई इस प्रकार की धमकियां देकर न सिर्फ जनता का अपमान कर रहे है, देश के लोकतंत्र का भी अपमान कर रहे है। राजेश मूणत का वायरल वीडियो  https://www.youtube.c
भाजपा प्रचार सामग्री, प्रत्याशी के स्टिकर लगी शेविंग किट; विधायक की ओर से ‘सप्रेम भेंट’ लिखे बर्तन पुलिस ने किया जब्त

भाजपा प्रचार सामग्री, प्रत्याशी के स्टिकर लगी शेविंग किट; विधायक की ओर से ‘सप्रेम भेंट’ लिखे बर्तन पुलिस ने किया जब्त

politics
प्रतीकात्मक फोटो  जगदलपुर (एजेंसी) | नारायणपुर और पामगढ़ में भाजपा प्रचार सामग्री से भरी गाड़ियां पकड़ी गई हैं। खरसिया में पूर्व आईएएस व भाजपा प्रत्याशी ओपी चौधरी के स्टिकर लगी शेविंग किट और दरभा में विधायक संतोष बाफना की ओर से सप्रेम भेंट लिखे बर्तन पकड़े गए हैं। निर्वाचन विभाग चौधरी को आचार संहिता के उल्लंघन का नोटिस देने की तैयारी कर रहा है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); नारायणपुर जिले के बेनूर इलाके में गुरुवार को भाजपा के तीन प्रत्याशियों की प्रचार सामग्री जब्त हुई। अफसरों के अनुसार बेनूर में स्वराज माजदा में प्रचार सामग्री भरी मिली। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने बताया सामग्री से जुड़े दस्तावेज ड्राइवर के पास नहीं थे, इसलिए जब्त की गई। सामग्री नारायणपुर भाजपा प्रत्याशी व मंत्री केदार कश्यप, कोंटा भाजपा प्रत्याशी धनीराम बारसे और बस्तर के डॉ. सुभाऊ कश्यप के नाम की थी
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018: भाजपा ने 77 सीटों पर उम्मीदवार घोषित किए, मंत्री रमशीला साहू समेत 14 विधायकों के टिकट कटे

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018: भाजपा ने 77 सीटों पर उम्मीदवार घोषित किए, मंत्री रमशीला साहू समेत 14 विधायकों के टिकट कटे

politics
रायपुर (एजेंसी) |  भाजपा ने छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 के चुनावी महासंग्राम के लिए शनिवार को 77 सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं। पार्टी द्वारा जारी सूची में महिला विकास विभाग मंत्री रमशीला साहू समेत 14 विधायकों के टिकट काट दिए गए हैं। वहीं मुख्यमंत्री रमन सिंह राजनांदगांव और पार्टी अध्यक्ष धरमलाल कौशिक बिल्हा सीट से चुनाव लड़ेंगे। इसके अलावा, चुनाव से ठीक पहले पार्टी में शामिल हुए आईएएस अफसर और रायपुर के पूर्व कलेक्टर ओपी चौधरी रायगढ़ की खरसिया सीट से किस्मत आजमाएंगे। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); भाजपा प्रत्याशियों की घोषणा शनिवार को दिल्ली में संसदीय बोर्ड की बैठक में की गई। भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा ने छत्तीसगढ़ और तेलंगाना विधानसभा चुनावों के लिए पहली सूची जारी करते हुए कहा कि पार्टी ने जीतने वाले उम्मीदवारों पर दांव लगाया है। संसदी
आप नेता ने ओ.पी. चौधरी पर लगाए गंभीर आरोप, कहा भ्रष्टाचार छुपाने के लिए भाजपा में हुए शामिल

आप नेता ने ओ.पी. चौधरी पर लगाए गंभीर आरोप, कहा भ्रष्टाचार छुपाने के लिए भाजपा में हुए शामिल

politics
रायपुर (एजेंसी) |  छत्तीसगढ़ में आम आदमी पार्टी ने रायपुर जिले के पूर्व कलेक्टर ओपी चौधरी पर गंभीर आरोप लगाया है कि, भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए वे भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए है। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और छत्तीसगढ़ प्रभारी गोपाल राय ने संवाददाता सम्मलेन में आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ सरकार के संरक्षण में सरकारी जमीन और निजी जमीन की अदला-बदली के माध्यम से तत्कालीन कलेक्टर ने करोड़ों रुपये का भ्रष्टाचार किया, लेकिन उसे दबा दिया गया। दन्तेवाड़ा के कलेक्टर रहने के दौरान किया घोटाला राय ने कहा कि जिला पंचायत दन्तेवाड़ा के पास बैजनाथ नामक व्यक्ति की 3.67 एकड़ कृषि भूमि थी। बैजनाथ से इस जमीन को चार लोगों ने खरीदा, जिसके बाद इस जमीन को विकास भवन के नाम पर सरकार ने लेकर दन्तेवाड़ा में बस स्टैंड के पास करोड़ों की व्यावसायिक भूमि के साथ कृषि भूमि की अदला बदली कर ली। आरोप है कि यह सब कुछ 2011 स
राजधानी पहुंचते ही ओपी चौधरी का हुआ ऐतिहासिक स्वागत, प्रेसवार्ता भी की

राजधानी पहुंचते ही ओपी चौधरी का हुआ ऐतिहासिक स्वागत, प्रेसवार्ता भी की

politics
रायपुर (एजेंसी)| राजनीतिक पटल पर यह श्री ओपी चौधरी जी की पहली प्रेस वार्ता है। संघर्ष पथ पर आगे बढ़ते हुए उन्होंने अब तक छत्तीसगढ़ की भलाई के लिए जितने कार्य किए हैं वो सराहनीय हैं। हमें पूर्ण विश्वास है कि उनके जैसे स्वच्छ छवि वाले युवा के राजनीति में आने से राजनीति लोकतंत्र में मजबूती आएगी और छत्तीसगढ़ विकास की नई ऊंचाइयों को छुएगा। गोंडवाना एक्सप्रेस परिवार उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाये देता है। वीडियो देखे https://www.youtube.com/watch?v=lHbrn-djogE (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});
अटकले समाप्त, ओ. पी. चौधरी हुए भाजपा में शामिल

अटकले समाप्त, ओ. पी. चौधरी हुए भाजपा में शामिल

politics
रायपुर (एजेंसी) | भारतीय प्रशासनिक सेवा से इस्तीफा देने के बाद ओम प्रकाश चौधरी ने भाजपा की सदस्यता ले ही ली। मंगलवार को राष्ट्रीय मुख्यालय में अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने उन्हें सदस्यता दिलाई। इस अवसर पर डॉ. रमन सिंह ने कहा, "ओमप्रकाश चौधरी जैसा युवा आईएएस कॅरियर दांव पर लगा संघर्ष का रास्ता चुन रहा है, ये भाजपा की ताकत है। यह बहुत बड़ा निर्णय है, मैं इसका स्वागत करता हूं। चौधरी चाहते तो 30 साल नौकरशाह के रूप में बेहतर भविष्य बनाते। पर उन्होंने राष्ट्रीय अध्यक्ष से कहा मैं जीवन पार्टी को समर्पित करना चाहता हूं। छत्तीसगढ़ में हम उनका बेहतर उपयोग करेंगे।'' चौधरी ने शाह के साथ फोटो और एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर अपलोड किया। कर्तव्य पथ पर जो भी मिला, यह भी सही, वह भी सही.. वरदान नहीं मागूँगा, हो कुछ, पर हार नहीं मानूँगा... (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).pus
कलेक्टर ओपी चौधरी का इस्तीफा मंजूर, भाजपा में जाना लगभग तय

कलेक्टर ओपी चौधरी का इस्तीफा मंजूर, भाजपा में जाना लगभग तय

politics
प्रधानमंत्री सेक्रेट्रिएट के मंत्री जितेंद्र सिंह के अनुमति के बाद केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय ने उनको इस्तीफे को मंजूर कर लिया है। ओपी चौधरी ने 16 अगस्त को अपना इस्तीफा मुख्य सचिव को सौंपा था। संभावना है कि उन्हें उमेश पटेल के खिलाफ मैदान में उतारा जाएगा। रायपुर। राजधानी के कलेक्टर ओपी चौधरी का भाजपा में जाना लगभग तय हो गया है। और इस बात की भी पूरी संभावना है कि उन्हें उमेश पटेल के खिलाफ मैदान में उतारा जाएगा। पिछले कई दिनों से कलेक्टर श्री चौधरी के राजनीतिक प्रवेश को लेकर चर्चाओं का बाजार गरम है। जो बातें निकल कर सामने आ रही है उसके मुताबिक अमित शाह के सामने ओपी चौधरी को भाजपा प्रवेश कराया जाना था लेकिन, 24 अगस्त को होने वाला दौरा टल गया इस वजह से कलेक्टर चौधरी का भी राजनीतिक प्रवेश टल गया है। जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक उन्होंने अपना इस्तीफा भी भेज दिया है। ओपी चौधरी मध्यम वर्गीय