Shadow

Tag: maharastra

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा- कोरोना संकट को अवसर बनाकर नया भारत गढ़ना है, क्वालिटी वाले स्वदेशी उत्पाद बनाने पर जोर दें

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा- कोरोना संकट को अवसर बनाकर नया भारत गढ़ना है, क्वालिटी वाले स्वदेशी उत्पाद बनाने पर जोर दें

india, News
नागपुर | राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार शाम कोविड-19 महामारी मुद्दे पर ऑनलाइन बातचीत की। उन्होंने कहा कि हम सभी को स्वदेशी का आचरण अपनाना होगा। स्वदेशी का उत्पादन गुणवत्ता में बिल्कुल 19 ना हो, कारीगर, उत्पादक सभी को यह सोचना होगा। समाज और देश को स्वदेशी को अपनाना होगा। विदेशों पर निर्भर नहीं रहना होगा। हम यहां की बनी वस्तुओं का उपयोग करेंगे। अगर उसके बगैर जीवन नहीं चलता है तो उसे अपनी शर्तों पर चलाएंगे। कोरोना संकट को अवसर बनाकर नया भारत गढ़ना है। क्वालिटी वाले स्वदेशी उत्पाद बनाने पर जोर दें। यह पहला मौका था जब भागवत ने किसी वर्चुअल प्लेटफॉर्म के जरिए अपना संबोधन दिया। संघ प्रमुख भागवत के संबोधन की प्रमुख बातें: सामान्य सूचनाएं सबके लिए हैं। विशेष परिस्थितियां भी हैं, उनमें सबको राहत मिल जाए ये भी ध्यान रखना होगा। अपनी सेवा के दायरे में हर कोई आ...
रायपुर : महानदी, गोदावरी और नर्मदा नदी बेसिन के जीर्णोद्धार परियोजना को दिया गया अंतिम रूप

रायपुर : महानदी, गोदावरी और नर्मदा नदी बेसिन के जीर्णोद्धार परियोजना को दिया गया अंतिम रूप

chhattisgarh, Govt Schemes, News
रायपुर. छत्तीसगढ़ की जीवनदायनी महानदी सहित गोदावरी और नर्मदा नदी रिवर बेसिन के जीर्णोद्धार के लिए आज नवा रायपुर के अरण्य भवन में उच्च स्तरीय बैठक आयोजित की गई। छत्तीसगढ़ के प्रधान मुख्य वन संरक्षक श्री राकेश चतुर्वेदी की अध्यक्षता में आयोजित इस परामर्श बैठक में वानिकी हस्तक्षेप मद के अंतर्गत रिवर बेसिन जीर्णोद्धार कार्य के संबंध में विस्तार से चर्चा हुई। नवा रायपुर में आयोजित की गई उच्च स्तरीय बैठक जीर्णोद्धार कार्यों के विभिन्न मॉडलों का किया गया प्रदर्शन वन उत्पादकता संस्थान (आईसीएफआरई) के तत्वाधान में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय नई दिल्ली, राष्ट्रीय वनीकरण और पर्यावरण विकास बोर्ड नई दिल्ली तथा राज्य शासन के वन विभाग के सहयोग से आयोजित इस बैठक में जीर्णोद्धार की कार्ययोजना तय करने के लिए विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन (डीपीआर) पर विचार-विमर्श कर डीपीआर को अंतिम रूप दिय...
महाराष्ट्र में सरकार बनाने में पेंच, शिवसेना ने आधे का माँगा लिखित आश्वासन

महाराष्ट्र में सरकार बनाने में पेंच, शिवसेना ने आधे का माँगा लिखित आश्वासन

india, News
मुंबई. महाराष्ट्र में चुनाव परिणाम आने के बाद शिवसेना अपने पुराने सहयोगी भाजपा के साथ मिल कर सरकार बनाने की संभावना तलाश कर रही है. इसके चलते महाराष्ट्र में शिवसेना ने आधे का लिखित आश्वासन माँगा है. शिवसेना इसके लिए भाजपा पर लगातार दबाव भी बना रही है. बीते दिनों शिवसेना के नवनिर्वाचित विधायको की बैठक हुई थी इसी बैठक में शिवसेना प्रमुख के बेटे उद्धव ठाकरे को नई सरकार में मुख्यमंत्री बनाने की मांग भी उठी थी. पार्टी की माने तो मांग पूरी नहीं होने की स्तिथि में शिवसेना अपने सारे विकल्प खुले रहे हुए है. पार्टी सूत्रों के मुताबिक लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह एवं मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस के साथ उद्धव ठाकरे की बातचीत में 50-50 के फार्मूले पर फैसला हुआ था। ढाई-ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद उसी फार्मूले का हिस्सा था। शिवसेना के इस फैसले से जहाँ भाजपा की म...