Shadow

Tag: kanker

छत्तीसगढ़ में 3 नए मेडिकल कॉलेज कोरबा, महासमुंद और कांकेर में स्थापित करने की प्रस्ताव को मिली भारत सरकार की मंजूरी

छत्तीसगढ़ में 3 नए मेडिकल कॉलेज कोरबा, महासमुंद और कांकेर में स्थापित करने की प्रस्ताव को मिली भारत सरकार की मंजूरी

chhattisgarh, News, special
कोरबा. छत्तीसगढ़ में 3 नए मेडिकल कॉलेज स्थापित करने की प्रस्ताव को भारत सरकार की मंजूरी मिल गई है. भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने छत्तीसगढ़ में 3 नए मेडिकल कॉलेज स्थापना की स्वीकृति दी है. भारत सरकार की इस मंजूरी के बाद अब कोरबा, महासमुंद और कांकेर में तीन नए मेडिकल काॅलेजों की स्थापना होगी. भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने दी स्वीकृति मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा छत्तीसगढ़ के कोरबा, महासमुंद और कांकेर में तीन नए मेडिकल काॅलेजों को स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की गई है. इन तीनों मेडिकल काॅलेजों की स्थापना केन्द्र प्रायोजित योजना के तहत कोरबा, महासमुंद और कांकेर में पहले से स्थापित जिला अस्पताल या रिफरल अस्पतालों में की जाएगी. इस योजना के तहत स्थापित होने वाले एक
कोरोनावायरस से मौत की अफवाह फैलाने वाले व्याख्याता के खिलाफ कार्रवाई, कलेक्टर ने किया निलंबित

कोरोनावायरस से मौत की अफवाह फैलाने वाले व्याख्याता के खिलाफ कार्रवाई, कलेक्टर ने किया निलंबित

chhattisgarh, News
कांकेर | जिले के कोरोनावायरस,  एक सरकारी कर्मचारी पर कार्रवाई का कारण बन गया है। दरअसल हिमन कोर्राम नाम के व्याख्याता ने कोरोनावायरस से एक ग्रामीण की मौत का संदेश वॉट्सअप पर वायरल कर दिया। कई ग्रुप में इस मैसेज को शेयर कर दिया। स्थानीय लोगों ने इस मैसेज को फर्जी बताते हुए थाने में शिकायत की। इस मामले  की जानकारी कलेक्टर को भी हुई। उन्होंने हिमन को निलंबित कर दिया। हिमन वर्तमान में शिक्षा विभाग में बीआसी (ब्लॉक रिसोर्स कोऑर्डिनेटर) के रूप में काम करते हैं। हिमन ने मैसेज में लिखा कि एक ग्रामीण की मौत हो गई। वह चिकन खाता था। डॉक्टरों ने पाया कि उस ग्रामीण को कोरोनावायरस था। इसलिए कोई भी चिकन न खाएं। मैसेज के आखिर में लिखा था स्वास्थ्य विभाग द्वारा जनहित में जारी। यह मैसेज फर्जी निकला। राज्य में अब तक एक भी मरीज कोरोनावायरस से पीड़ित नहीं पाया गया है। सरकार ने चिकन या अंडे से भी इसका
चरामा जनपद चुनाव में हार से झुझलाए नेताओं का हंगामा, भाजपा नेताओं में हुई झड़प और गाली-गलौज, किसानों के मुद्दे पर जुटे थे धरना देने

चरामा जनपद चुनाव में हार से झुझलाए नेताओं का हंगामा, भाजपा नेताओं में हुई झड़प और गाली-गलौज, किसानों के मुद्दे पर जुटे थे धरना देने

chhattisgarh, News, politics
कांकेर | शहर के चारामा जनपद चुनाव हार के बाद भाजपा में आपसी रंजिश का दौर जारी है। शनिवार को पुराना बस स्टेंड में धान खरीदी के मुद्दे को लेकर धरना देने पहुंचे भाजपाई आपस में ही भिड़ गए। भाजपा के बड़े नेताओं के सामने चारामा भाजपा के दोनों गुटों के नेता आपस में उलझ गए। भाजपा के कार्यकर्ता सार्वजनिक स्थान पर एक दूसरे को गालियां देते रहे तथा उनके बीच धक्कामुक्की भी हुई। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया। https://www.youtube.com/watch?v=yRADTX1L728 भाजपा का धरना प्रदर्शन सुबह 11 से शाम 5 बजे तक प्रस्तावित था। दोपहर 1 बजे तक धरनास्थल पर कुर्सियां खाली पड़ी रही। इसके बाद एक एक कर कार्यकर्ता पहुंचने लगे। यहां मौजूद भाजपा नेता विजय मंडावी तथा राजेंद्र गौर ने भाजपा महामंत्री आलोक ठाकुर को धरनास्थल से वापस भेजने को लेकर छींटाकशी की। इसे लेकर दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो
कांकेर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया ऐलान ‘अब जिले में हर साल होगा लयांग-लयोर करसाना पण्डुम’

कांकेर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया ऐलान ‘अब जिले में हर साल होगा लयांग-लयोर करसाना पण्डुम’

chhattisgarh, News, special
कांकेर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज कांकेर जिले के भानुप्रतापपुर में आयोजित ‘‘लयांग-लयोर करसाना पण्डुम’’ जिला स्तरीय शारीरिक, बौद्धिक एवं सांस्कृतिक क्रीड़ा प्रतियोगिता के समापन समारोह में शामिल हए। इस अवसर पर उनके द्वारा 79 करोड़ 64 लाख 04 हजार रूपये के 202 कार्यों का भूमि पूजन एवं 05 करोड़ 36 लाख 99 हजार रूपये के 02 कार्यों को लोकार्पण भी किया गया, साथ ही 02 हजार 202 हितग्राहियों को 11 लाख 89 हजार रूपये के विभिन्न सामग्रियों का वितरण भी किया गया। समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि वार्षिक परीक्षा के बाद मार्च-अप्रैल माह में बस्तर ओलंपिक का आयोजन किया जायेगा। ‘‘लयांग-लयोर करसाना पण्डुम’’ में शामिल सभी युवाओं एवं छात्र-छात्राओं को बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि कांकेर जिले में हर साल इस प्रकार के आयोजन किये जाएंगे। रायपुर में आयोजित नेशनल ट्रायबल डांस फे
कांकेर की पोषण वाटिका बना लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र, जैविक खाद से हो रहा है सब्जियों का उत्पादन

कांकेर की पोषण वाटिका बना लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र, जैविक खाद से हो रहा है सब्जियों का उत्पादन

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
कांकेर जिले के चारामा विकासखण्ड के ग्राम पण्डरीपानी में स्थित प्री-मैट्रिक आदिवासी बालक छात्रावास के पोषण वाटिका लोगों के लिए आकर्षण एवं कौतूहल का विषय बना हुआ है। यहां पर विभिन्न साग-सब्जियों का उत्पादन जैविक खाद से किया जा रहा है, जिसे बच्चे स्वयं उपभोग करते हैं और इस प्रकार उन्हें अतिरिक्त पोषण आहार प्राप्त हो रहा है। कृषि विज्ञान केन्द्र कांकेर के मार्गदर्शन में वर्ष 2016-17 में तैयार की गई इस पोषण वाटिका का इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर के कुलपति डॉ. आर.के. पाटिल सहित विभिन्न संस्थाओं एवं अधिकारियों के द्वारा अवलोकन किया जा चुका है और जिसकी सराहना भी हुई है। ग्राम पंडरीपानी के प्री-मैट्रिक बालक छात्रावास में वर्तमान में लौकी, बैंगन, सेम, टमाटर, अदरक, हल्दी, कुंदरू, धनिया, मेथी, पालक, मिर्च, और अरबी-कोचई लगाई गई है, जिसे छात्रावासी बच्चों द्वारा उपयोग किया जा रहा है। बा
कांकेर : नक्सलियों ने की युवक की हत्या, बीती रात किया था अपहरण, पर्चे में लिखा- पुलिस का साथ दिया तो यही हाल करेंगे

कांकेर : नक्सलियों ने की युवक की हत्या, बीती रात किया था अपहरण, पर्चे में लिखा- पुलिस का साथ दिया तो यही हाल करेंगे

chhattisgarh, News, politics
कांकेर : छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित इलाकों में पुलिस और अर्धसैनिक बलों के जवान अपने पैठ जमा रहे हैं। यह सब नक्सलियों को रास नहीं आ रहा। यही वजह है कि अपनी झुंझलाहट निकालने और लोगों में अपना डर कायम करने के मकसद से निर्दोष ग्रामीण को अपना शिकार बना रहे हैं। ऐसी ही घटना कांकेर जिले में हुई। एक ग्रामीण युवक को नक्सलियों ने पुलिस का खबरी बताकर मार डाला। नक्सलियों ने युवक के शव के साथ यह पर्चा फेंका पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक यह घटना बांदे थाना इलाके के उलिया गांव में हुई। गांव के 24 साल के युवक रंजीत को बीती रात कुछ नक्सली जबरदस्ती अपने साथ लेकर गए थे। उसे नक्सलियों ने मारा-पीटा और उसकी हत्या कर दी। युवक की लाश रविवार की सुबह गांव में फेंक दी गई, साथ में नक्सलियों ने हाथ से तैयार एक पर्चा भी फेंका उसमें पुलिस का विरोध करने की ग्रामीणों से अपील की गई है, और पुलिस का साथ देने
कांकेर : 2 महीने से एक टापू पर भूखे फंसे थे 100 से ज्यादा बंदर, 6 दिन चला रेस्क्यू मिशन मंकी ऑपरेशन

कांकेर : 2 महीने से एक टापू पर भूखे फंसे थे 100 से ज्यादा बंदर, 6 दिन चला रेस्क्यू मिशन मंकी ऑपरेशन

chhattisgarh, News, special
कांकेर (एजेंसी) | दुधावा बांध के बीच टापू पर फंसे बंदरों को बाहर निकालने के लिए वन विभाग ने टापू तक 500 मीटर तक चैली वाला पुल तैयार कर लिया है। जगह-जगह चैली में बंदरों को निकालने फल टांगे गए हैं। इसके अलावा बांध में पानी कम करने के लिए सिंचाई विभाग ने गेट भी खोल दिए हैं। वन विभाग टापू पर फंसे सौ से ज्यादा बंदरों को बाहर निकालने के लिए मिशन मंकी चला रहा है। मिशन में मंगलवार तक विभाग ने टापू से बांध के बाहर तक बांस की चैली तैयार कर ली है। इसके साथ ही सुबह से वहां आने-जाने पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है। बंदरों को टापू से बाहर लाने के लिए चैली में जगह-जगह फल बांधे गए हैं। इस दौरान पूरे समय लोगों का वहां आना-जाना बंद करा दिया गया और स्वयं वन विभाग के कर्मचारी भी रास्ता ब्लॉक कर चैली से काफी दूर बैठे रहे। 4 दिन से चलाया जा रहा रेस्क्यू ऑपरेशन दरअसल, वन विभाग पिछले 4 दिनों से टापू पर फंसे
कांकेर: अंधविश्वास के चलते पुरुषों ने नहीं उठाया प्रसूता का शव, महिलाओं ने कंधा देकर गांव के बाहर दफनाया

कांकेर: अंधविश्वास के चलते पुरुषों ने नहीं उठाया प्रसूता का शव, महिलाओं ने कंधा देकर गांव के बाहर दफनाया

chhattisgarh, News
कांकेर (एजेंसी) | कांकेर के तुमसनार गांव में अंधविश्वास के कारण पुरुषों ने प्रसूता का शव दफनाने से इनकार कर दिया। यही नहीं, उन्होंने शव को कंधा भी नहीं दिया। इसके बाद महिलाओं ने ही अंतिम यात्रा निकाली और शव गांव के बाहर जंगल में दफनाया।  यहां ऐसा अंधविश्वास है कि किसी प्रसूता का शव गांव में दफनाने से वह भूत-प्रेत बन जाती है। प्रसूता के शव को शादीशुदा पुरुष हाथ भी नहीं लगाते। तुमसनार की सुकमोतीन कांगे (32) ने राजस्थान के पंकज चौधरी (30) से 2016 में शादी की थी। सुकमोतीन मां बनने वाली थी, उसे प्रसव के लिए जिला अस्पताल लाया गया। 15 अक्टूबर की रात 2.30 बजे उसने बच्चे को जन्म दिया, शिशु की आधे घंटे बाद ही मौत हो गई। सुकमोतीन को जब इस बारे में पता लगा तो सदमे से उसने भी दम तोड़ दिया। 16 अक्टूबर को जच्चा-बच्चा का शव गांव पहुंचा तो अंतिम संस्कार के लिए कोई पुरुष सामने नहीं आया। एक एनजीओ
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने गढ़िया महोत्सव का किया शुभारंभ, महु सुपोषित, मोर कांकेर सुपोषित विषय पर बनाई गई रंगोली और सेल्फी जोन बना लोगों के आकर्षण का केन्द्र

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने गढ़िया महोत्सव का किया शुभारंभ, महु सुपोषित, मोर कांकेर सुपोषित विषय पर बनाई गई रंगोली और सेल्फी जोन बना लोगों के आकर्षण का केन्द्र

chhattisgarh, News
रायपुर, 30 सितम्बर 2019 मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज कांकेर में गढ़िया महोत्सव का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने यहां 14 करोड़ 47 लाख रूपये के विभिन्न विकास कार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण किया। इनमें 13 करोड़ 26 लाख रूपये के 83 कार्यों का भूमिपूजन तथा एक करोड़ 21 लाख रूपये का एक लोकार्पण कार्य शामिल हैं। कांकेर गढ़िया महोत्सव के शुभारंभ समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि देशभर में मंदी का दौर चल रहा है, पर छत्तीसगढ़ में मंदी का कोई प्रभाव नहीं है। इसका प्रमुख कारण राज्य शासन द्वारा किसानों का कर्ज माफ, 25 सौ रूपये प्रति क्ंिवटल में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी, तेंदूपत्ता का पारिश्रमिक दर बढ़ाना, सिंचाई कर माफ करना तथा बिजली बिल में छूट मिलनेे से किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत हुई है। उन्होंने कहा कि सरकार की योजनाओं से लोगों का खेती किसानी के प्रति रूझ
भारत माता की जय बोलने पर स्कूल में रोक, परिजनों ने किया प्रदर्शन

भारत माता की जय बोलने पर स्कूल में रोक, परिजनों ने किया प्रदर्शन

chhattisgarh
कांकेर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के निजी स्कूल में भारता माता की जय का नारे पर रोक लगाने को लेकर शुक्रवार को हंगामा हो गया। परिजनों और कई संगठनों ने स्कूल पर आरोप लगाते हुए प्रदर्शन शुरू कर दिया। साथ ही स्कूल प्रबंधन के खिलाफ प्रशासन ने शिकायत करने की भी बात कही। यह स्कूल क्रिश्चियन समुदाय की ओर से संचालित किया जाता है। लोग धरने पर बैठने के साथ ही नारेबाजी करने लगे। उन्होंने स्कूल प्राचार्य का पुतला भी फूंका। हंगामा बढ़ने पर स्कूल प्रशासन भी सामने आ गया और उसने सफाई दी है कि इस तरह के नारे लगाने पर कोई रोक नहीं लगाई गई है। वहीं नारेबाजी को लेकर सियासत भी शुरू हो गई है और भाजपा- कांग्रेस आमने-सामने हो गए हैं। कांग्रेस बोली- जांच में सही मिला तो लगेगा स्कूल पर प्रतिबंध दरअसल, भानुप्रतापपुर में संचालित जोसेफ इंग्लिश मीडियम स्कूल में शुक्रवार सुबह बच्चों के परिजनों के साथ ही कुछ हिंदूवादी संगठन