Shadow

Tag: kamal nath

मध्य प्रदेश: मुख्यमंत्री कमलनाथ का इस्तीफा, अपनी उपलब्धियों पर 16 बार कहा- ‘भाजपा को यह रास नहीं आया’

मध्य प्रदेश: मुख्यमंत्री कमलनाथ का इस्तीफा, अपनी उपलब्धियों पर 16 बार कहा- ‘भाजपा को यह रास नहीं आया’

india, News
भोपाल | मध्य प्रदेश का पॉलिटिकल ड्रामा 17 दिन पहले शुरू हुआ था। भाजपा और कांग्रेस के बीच जारी खींचतान सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गई थी और शीर्ष अदालत ने शुक्रवार शाम 5 बजे तक फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दिया था। हालांकि, इससे 4:30 घंटे पहले ही मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस्तीफा दे दिया। वे शुक्रवार दोपहर 12.30 बजे मीडिया के सामने आए। करीब 25 मिनट बोले। 15 महीने पुरानी अपनी सरकार की 20 उपलब्धियां गिनाईं और 16 बार कहा कि भाजपा को हमारे काम रास नहीं आए। उन्होंने कहा- ‘‘भाजपा सोचती है कि वह मेरे प्रदेश को हराकर जीत सकती है। वह न मेरे प्रदेश को हरा सकती है और न मेरे हौसले को हरा सकती है।’’ कमलनाथ की प्रेस कॉन्फ्रेंस से पहले स्पीकर एनपी प्रजापति ने बताया कि भाजपा विधायक शरद कोल का इस्तीफा मंजूर कर लिया गया है। लेकिन बाद में कोल ने कहा कि उनसे जबरन इस्तीफा दिलाया गया था। शाम को विधानसभा सचिवालय ने यह ...
मध्यप्रदेश: कमलनाथ सरकार का फ्लोर टेस्ट कल, सुप्रीम कोर्ट ने कहा- शाम 5 बजे तक प्रक्रिया पूरी कराएं

मध्यप्रदेश: कमलनाथ सरकार का फ्लोर टेस्ट कल, सुप्रीम कोर्ट ने कहा- शाम 5 बजे तक प्रक्रिया पूरी कराएं

india, News
नई दिल्ली | मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार को कल फ्लोर टेस्ट से गुजरना होगा। गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने यह आदेश दिया। कोर्ट ने फ्लोर टेस्ट की पूरी प्रक्रिया कल शाम 5 बजे तक पूरी करने को भी कहा है। कोर्ट ने कहा कि बहुमत का फैसला विधायकों के हाथ उठवाकर कराया जाए। फ्लोर टेस्ट की वीडियो रिकॉर्डिंग भी की जाए। अगर बागी विधायक विधानसभा आना चाहें, तो कर्नाटक और मध्य प्रदेश के डीजीपी उन्हें सुरक्षा दें। इससे पहले, भाजपा की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने लगातार दूसरे दिन सुनवाई की। शीर्ष अदालत ने स्पीकर एनपी प्रजापति से पूछा, ‘क्या वे वीडियो लिंक के जरिए बागी विधायकों से बात कर सकते हैं और फिर उनके बारे में फैसला कर सकते हैं?’ इस पर स्पीकर की तरफ से पेश वकील अभिषेक सिंघवी ने सुप्रीम कोर्ट को बताया- ‘नहीं, ऐसा संभव नहीं है। स्पीकर को मिले विशेषाधिकार को सुप्रीम कोर्ट भी नहीं हटा सकता।’ स्पीकर ने...
धोखाधड़ी: 354 करोड़ की बैंक धोखाधड़ी मामले में CBI ने रतुल पूरी के खिलाफ दर्ज़ किया मुकदमा

धोखाधड़ी: 354 करोड़ की बैंक धोखाधड़ी मामले में CBI ने रतुल पूरी के खिलाफ दर्ज़ किया मुकदमा

india, News
भोपाल (एजेंसी) | सीबीआई (CBI) ने 354 करोड़ रुपये के बैंक घोटाले में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। न्यूज एजेंसी ने रविवार को बताया कि जांच एजेंसी के अधिकारी के मुताबिक, एमबीआईएल के प्रबंध निदेशक दीपक पुरी, कंपनी में पूर्णकालिक निदेशक उनकी पत्नी नीता पुरी, एमबीआईएल के पूर्व कार्यकारी निदेशक और उनके बेटे रतुल पुरी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। अधिकारी ने बताया कि कंपनी के निदेशक संजय जैन, विनीत शर्मा और अन्य अज्ञात सरकारी कर्मचारियों और अन्य व्यक्तियों के खिलाफ भी आपराधिक साजिश रचने का मामला दर्ज किया गया है। सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के उप महाप्रबंधक मुरली छेत्री की शिकायत पर इन सभी के खिलाफ शनिवार को मामला दर्ज किया गया। छेत्री ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि आरोपियों ने बैंक के साथ 354.51 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की। पुरी...
मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018: वह कौन शख्‍स है जो कमलनाथ के भीतरी कमरे का VIDEO बनाकर लीक कर रहा है?

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018: वह कौन शख्‍स है जो कमलनाथ के भीतरी कमरे का VIDEO बनाकर लीक कर रहा है?

india
भोपाल (एजेंसी) | मध्य प्रदेश की सियासत को इन दिनों कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष कमलनाथ के कथित वीडियो ने गर्मा दिया है। ये वीडियो उस कक्ष के हैं, जहां आम आदमी आसानी से और प्रदेशाध्यक्ष के सिपहसालारों की अनुमति के बगैर नहीं पहुंच सकता है। सवाल है कि आखिर कमलनाथ का विभीषण कौन है, जो वीडियो बना-बनाकर सार्वजनिक करने में लगा है। दरअसल कमलनाथ के एक के बाद एक जारी हुए दो वीडियो ने या कहें कि एक वीडियो के दो हिस्सों ने राज्य की सियासत को गर्मा दिया है और उसे ध्रुवीकरण की ओर मोड़ने का काम किया है. अब और वीडियो के आने की संभावना बन गई है. यदि कमलनाथ से जुड़े और वीडियो सामने आते हैं तो कांग्रेस को यह खोजना ही होगा कि कमलनाथ के भीतरी कमरे का विभीषण आखिर कौन है? (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); राज्य के मालवा-निमांड अंचल को छोड़ दिया जाए तो अन्य किसी भी हिस्से में ध्रुवीकरण की ...