chhattisgarh news media & rojgar logo

Tag: durg

Programmer and Senior Technical Assistant in Durg

Programmer and Senior Technical Assistant in Durg

CG Govt, Jobs
Job type : CG govt Post name : Programmer, Senior Technical Assistant Openings : 3 Job Locations : Durg, Chhattisgarh Main Qualification : Btech, Mtech Staffs needed in CG Forest Department for following : Sr. Technical Assistant in Forestry / Ecosystem Management Sr. Technical Assistant in Social Mobilization Programmer for Database and GIS Expert How to apply Company Name : CG Forest Download Notice/Application Form Last date : 23-Aug-2019
Assistant Programmer CG Vyapam Recruitment 2019

Assistant Programmer CG Vyapam Recruitment 2019

CG Govt, Jobs
Job type : CG govt Post name : Assistant Programmer Openings : 3 Job Locations : Raipur, Durg, Bilaspur, Bhilai, Korba Main Qualification : BCA, MCA, Btech, BSc (60% marks) Assistant Programmer Recruitment 2019 Examination How to apply Company Name : CG Vyapam Please click on apply online for details. APPLY ONLINE Last date : 11-Aug-2019
बंगले पर ड्यूटी से भृत्य ने मना किया, नाराज जज ने कहा- कोर्ट के बाहर खड़े रहो; सजा के दौरान हो गया बेहोश

बंगले पर ड्यूटी से भृत्य ने मना किया, नाराज जज ने कहा- कोर्ट के बाहर खड़े रहो; सजा के दौरान हो गया बेहोश

chhattisgarh
दुर्ग (एजेंसी) | जिला न्यायालय में एक जज ने भृत्य को कोर्ट के बाहर खड़े होने की सजा सुना दी, क्योंकि उसने जज के बंगले पर ड्यूटी करने से इंकार कर दिया था। घटना शुक्रवार की है। सजा के दौरान भृत्य बेहोश होकर गिर गया। जिसके बाद कोर्ट के अन्य भृत्य धरना देने लगे। वकीलों के समर्थन के बाद स्थिति उग्र हो गई। डीजे गोविंद प्रसाद मिश्रा के आश्वासन के बाद कोर्ट में स्थिति थोड़ी संभली और लघु वेतन कर्मचारी संघ के सदस्य कोतवाली थाना में आवेदन देने पहुंच गए। संघ के सदस्यों ने दो साल पहले हुई मौत की भी जांच कराने की मांग रखा न्यायालय लघु वेतन कर्मचारी संघ के अध्यक्ष संतोष यादव के अनुसार भृत्य सदानंद यादव ने बंगले में ड्यूटी करने से मना कर दिया इसलिए उसे सजा मिली। शाम करीब 4:30 बजे सदानंद बेहोश होकर गिर गया, उसे पहले जिला अस्पताल में भर्ती कराया बाद में मेकहारा रेफर किया गया। इस मामले के अलावा संघ के सदस
पीडीएस के 20 बोरा चावल में बारीक कांच मिला, सप्लाई रोकी, खाद्य विभाग के छापे में हुआ खुलासा

पीडीएस के 20 बोरा चावल में बारीक कांच मिला, सप्लाई रोकी, खाद्य विभाग के छापे में हुआ खुलासा

chhattisgarh
दुर्ग (एजेंसी) | धमधा नाका रोड स्थित वेयर हाउस में रखे गए पीडीएस के चावल में कांच के बारीक टुकड़े मिलने से प्रशासनिक अमले में खलबली मच गई है। मामला सामने आने के बाद कलेक्टर अंकित आनंद ने तत्काल खाद्य नियंत्रक भूपेंद्र मिश्रा और अन्य विभागीय अधिकारियों को जांच के लिए मौके पर भेजा। जांच में पाला चावल में कांच के टुकड़े मिलने की पुष्टि हुई। अधिकारियों का कहना है कि कुछ समय पहले वेयर हाउस के रोशनदान में लगे कांच टूट गए थे जो चावल में मिल गए। अब यह चावल खाने योग्य नहीं रह गया है। डेढ़ माह पहले टूटा था रोशनदान का कांच जांच के दौरान पाला चावल में कांच के टुकड़े मिले हैं। पूछताछ में पता चला कि करीब डेढ़ महीने पहले रोशनदान का कांच टूटा था। आशंका है कि इसी दौरान चावल में ये टुकड़े मिल गए। गोदाम प्रभारी की लापरवाही है। उच्च अधिकारियों को जानकारी नहीं दी। इसलिए खाद्य विभाग ने इसकी सप्लाई राशन दुकान मे
श्रृंखला हत्याकांड: मानसिक रोगी समझकर उसकी हरकतों को नजरंअदाज किया, उसी ने प्लान बनाकर श्रृंखला की हत्या की

श्रृंखला हत्याकांड: मानसिक रोगी समझकर उसकी हरकतों को नजरंअदाज किया, उसी ने प्लान बनाकर श्रृंखला की हत्या की

chhattisgarh
  दुर्ग/भिलाई (एजेंसी) | पहले मेरी बेटी जिंदा रहते उसकी प्रताड़ना झेल रही थी और अब मुझे तिल-तिल करके मरना पड़ेगा। छात्रा श्रृंखला यादव की हत्या के बाद पहली दफा उसकी बेबस मां ममता यादव सामने आईं। उनका कहना है, जिसे दुनिया मानसिक रोगी बताने पर तुली हुई है। उसकी हरकतों के बारे में उसके परिजनों को कई दफा जानकारी दी। लेकिन उन्होंने अपने लड़के की हरकतों को गंभीरता से नहीं लिया। जबकि इसी तथाकथित मानसिक रोगी ने ही प्लान बनाकर बेटी की हत्या कर दी। उसके जैसा दंश कोई मां-बाप न झेले, करूंगी संघर्ष... नाबालिग समझ हत्यारे को न छोड़ें श्रृंखला की मां ने कहा, अभी भी उसकी आंखों के आगे बेसुध बेटी का चेहरा नजर आ रहा है। मूर्छित रहने के दौरान भी उसकी आंखें हमें ही देख रही थी। बेबस की तरह बेटी को देखने के अलावा हमारे पास कोई रास्ता नहीं था। मरणासन्न हालत में पड़ी बेटी को तिल-तिल करके मरते हमने ही देखा।
राइस मिल हादसा: मालिक के बेटे समेत दोनों मजदूरों की मौत, 16 घंटे बाद निकाले गए शव

राइस मिल हादसा: मालिक के बेटे समेत दोनों मजदूरों की मौत, 16 घंटे बाद निकाले गए शव

chhattisgarh
दुर्ग (एजेंसी) | धमधा रोड के समोदा स्थित हरदास राइस मिल में रविवार को हुए हादसे में मिल मालिक के बेटे समेत दोनों मजदूरों की मौत हो गई। तीनों के शवों को एसडीआरएफ की टीम ने करीब 16 घंटे बाद मलबे से बाहर निकाला। मिल मालिक के बेटे सिंधी कॉलोनी निवासी रवि केशवानी (30) ने ही दोनों मजदूरों को टेक्निकल काम करने के लिए बिहार के फतेहपुर से बुलवाया था। अभी तक दोनों मजदूरों के शवों की पहचान नहीं हो सकी है। शव मिले, लेकिन बिहार से बुलाए गए मजदूरों की शिनाख्त नहीं जानकारी के मुताबिक, समोदा स्थित राइस मिल में रविवार सुबह करीब 11.30 बजे अचानक से ड्रायर गिर पड़ा। ड्रायर को मलबे में मालिक का बेटा रवि केशवानी और दो मजदूर दब गए थे। हादसे की जानकारी भी प्रशासन को करीब दो घंटे बाद मिली। इस पर पुलिस प्रशासन के साथ ही एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और राहत व बचाव कार्य शुरू किया। देर रात तक क्रेन से मलबा हटान
सीएम भूपेश बोले,’ देश का चौकीदार कह जनता को भ्रमित कर रहे है मोदी’

सीएम भूपेश बोले,’ देश का चौकीदार कह जनता को भ्रमित कर रहे है मोदी’

politics
दुर्ग (एजेंसी) | दुर्ग लोकसभा कांग्रेस प्रत्याशी प्रतिमा चंद्राकर के पक्ष में जनसभा करने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल गुरुवार को दोपहर 2.15 बजे बेमेतरा क्षेत्र के देवरबीजा ग्राम पहुंचे। वे केन्द्र की भाजपा सरकार पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी 10 लाख का शूट पहनने वाले फकीर हैं। वे किसके चौकीदार हैं। ये समझने की बात है। 10 लाख की शूट पहनने वाला अपने आपको देश का चौकीदार कहकर देश में घूम-घूमकर जनता को भ्रमित कर रहा है। बस्तर आज लाल आतंक के खिलाफ है। देश का रुपया उन्होंने राफेल के माध्यम से अपने चहेते अंबानी बन्धु को दे दिया। वही कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा विधानसभा चुनाव में जो कहा सो किया। अमल में लाकर किसान का कर्ज माफ और बिजली बिल हाफ व धान की कीमत 2500 रुपए क्विंटल और सिंचाई कर माफ किया। राहुल गांधी ने जो कहा उसे मुख्यमंत्री ने तत्काल पूरा किया। पीएचई मंत्री रुद्र गुरु ने क
पटाखा फैक्ट्री में आग लगने से धमाका, 4 महिलाएं झुलसी, दो गंभीर

पटाखा फैक्ट्री में आग लगने से धमाका, 4 महिलाएं झुलसी, दो गंभीर

chhattisgarh
दुर्ग (एजेंसी) | दुर्ग जिले के अंजोरा थाना क्षेत्र में गुरुवार दोपहर पटाखा फैक्ट्री में आग लगने के बाद हुए धमाके में चार महिलाएं झुलस गईं। इनमें दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। घायल महिलाओं को अस्पताल में भर्ती किया गया। बताया जा रहा है कि हादसा बारूद कूटने के दौरान चिंगारी भड़कने से हुआ। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियों ने आग पर काबू पाया। जानकारी के मुताबिक, महमरा इलाके में रजा फायर फैक्टरी है। यहां काम करने वाली महिलाएं बारूद कूट रही थीं। इसी दौरान हादसा हुआ। आग लगने और विस्फोट में वहां काम कर रहीं दुरगी, मती, राही, और भुनेश्वरी चपेट में आ गईं। उनके हाथ और मुंह बुरी तरह से झुलस गए। हादसे की सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड और पुलिस की गाड़ियां मौके पर पहुंच गई। धमाका इतना ज्यादा थी कि आस-पास रखे सामान के भी टुकड़े हो गए। करीब आधे घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।
लोकसभा चुनाव 2019: ‘जेब में न पैसा है, न नल में पानी, यही है गरीबों की कहानी’ का मैसेज लेकर मिट्‌टी के बर्तन में 25 हजार के सिक्के लेकर नामांकन भरने पहुंचा प्रत्याशी

लोकसभा चुनाव 2019: ‘जेब में न पैसा है, न नल में पानी, यही है गरीबों की कहानी’ का मैसेज लेकर मिट्‌टी के बर्तन में 25 हजार के सिक्के लेकर नामांकन भरने पहुंचा प्रत्याशी

politics
दुर्ग (एजेंसी) | दुर्ग लोकसभा सीट के नामांकन के लिए एक प्रत्याशी कुछ लोगों के साथ कलेक्टोरेट पहुंचे। वे अपने साथ टोंटी लगे हुए मिट्टी के बर्तन कंधे पर लेकर मंगलवार को जब कुछ लोग कलेक्टोरेट पहुंचे तो सबकी निगाहें उस ओर जम गईं। बर्तनों पर पैंम्फलेट्स चिपके थे जिसपर मैसेज था, 'जेब में न पैसा है, न नल में पानी, यही है गरीबों की कहानी।' इन बर्तनों में 25 हजार रुपए के चिल्हर भरे थे जिसे नामांकन के दौरान बतौर जमानत राशि के रूप में लाया गया था। स्वतंत्र तिवारी नामक प्रत्याशी को चुनाव में खड़ा करने के लिए गांव वालों ने पिछले कई महीने से उनकी जमानत राशि के लिए ये पैसे इकट्‌ठा कर रहे थे। गांव वालों ने इकट्‌ठा की थी ये राशि दुर्ग लोकसभा सीट से डौंडी लोहारा ब्लॉक के स्वतंत्र तिवारी ने मंगलवार को आजाद जनता पार्टी की ओर से अपना नामांकन दाखिल किया। स्वतंत्र के गांव वाले उनके साथ आए थे। वे मिट्‌टी क
आदिम जाति कल्याण विभाग घोटाला: युवाओं को नौकरी देने के नाम पर दो करोड़ रुपए का घोटाला

आदिम जाति कल्याण विभाग घोटाला: युवाओं को नौकरी देने के नाम पर दो करोड़ रुपए का घोटाला

chhattisgarh
भिलाई (एजेंसी) | आदिम जाति कल्याण विभाग दुर्ग के सहायक आयुक्त आरके सिदार को राज्य शासन ने सस्पेंड कर दिया है। सिदार को सिर्फ दो मामलों में सस्पेंड किया है। जबकि उनके खिलाफ कई बड़े आरोप और शिकायत है। यह पहला मामला है जब सिदार के खिलाफ कार्रवाई की गई है। जिसकी जांच होनी बाकी है। आरोप है कि आरके सिदार ने 2011 से 2012 में सीवी रमन विश्वविद्यालय के 62 छात्र-छात्राओं के नाम से नियम के विरुद्ध 5 लाख 57 हजार की छात्रवृत्ति की राशि का घोटाला किया। रायपुर में सहायक आयुक्त रहते सिदार ने विभाग में एसटी-एससी छात्रों को ट्रेनिंग देकर नौकरी दिलाने के नाम पर दो करोड़ रुपए से ज्यादा की धांधली की। जिन छात्रों को कागजों में नौकरी देना बताया है, वो असल में आज भी अपने गांवों में खेती-किसानी कर रहे हैं। ये हम नहीं, सिदार के खिलाफ हुए जांच की रिपोर्ट कहती है। इसका खुलासा सूचना के अधिकार के तहत मिले जांच रिपोर्ट