chhattisgarh rojgar logo
Space for Advertisement : +91 8817459893

telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

Tag: dantewada

जवानों को निशाना बनाने के लिए दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने पहली बार लगाए पुतला बम

जवानों को निशाना बनाने के लिए दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने पहली बार लगाए पुतला बम

chhattisgarh
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में सुरक्षाबलों को निशाना बनाने के लिए नक्सलियों ने अब पुतला बम का इस्तेमाल शुरू कर दिया। सीआरपीएफ कैंप से महज 600 मीटर की दूरी पर नक्सलियों ने शनिवार देर शाम दो पुतलों के नीचे आईईडी लगा दी। हालांकि इससे पहले कि जवानों को कोई नुकसान पहुंचता, उन्होंने उसे डिफ्यूज कर दिया। नक्सली मारे गए साथियों की तलाश में शहीदी दिवस मना रहे हैं। आईईडी विस्फोटकों को ऑटो कनेक्ट तरीके से जोड़ा गया था जानकारी के मुताबिक, अरनपुर जगरगुंडा मार्ग में जुड़वा नाला कैंप से 600 मीटर दूर नक्सलियों ने 2 पुतलों के नीचे 2 किलो और 3 किलो के 2 आईईडी विस्फोटक लगा दिए। नक्सलियों ने इसे बकायदा ऑटो कनेक्ट तरीके से जोड़कर रखा था। सीआरपीएफ  231 बटालियन के जवान रविवार शाम को एरिया में सर्चिग के लिए निकले थे। इसी दौरान उन्हें कोंडासावली कैंप के पास पुतले लगे हुए दिखाई दिए। पहले तो पुतलों क
आदिवासियों ने रोका खदान का रास्ता कहा-देवताओं का पहाड़ नष्ट नहीं होने देंगे, दिनभर काम बंद

आदिवासियों ने रोका खदान का रास्ता कहा-देवताओं का पहाड़ नष्ट नहीं होने देंगे, दिनभर काम बंद

chhattisgarh
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | किरंदुल के बैलाडीला के डिपॉजिट 13 नंबर खदान (नंदराज पहाड़) पर खुदाई शुरू किए जाने का ठेका देने के विरोध में शुक्रवार को आदिवासियों ने आंदोलन शुरू कर दिया। नंदराज पहाड़ को आदिवासी देवों का स्थान मानकर पूजते आए हैं। इस पर खनन की खबर मिलने के बाद से आदिवासियों में नाराजगी थी। पहले से घोषित आंदोलन को मूर्त रूप देने के लिए संयुक्त पंचायत संघ की अगुवाई में सुबह 8 बजे से आदिवासी समाज ने प्रदर्शन शुरू किया। प्रदर्शनकारियों ने खदानों की ओर जाने वाले तीनों रास्ते जाम कर दिए। इससे सुबह की पाली के कर्मचारी अंदर नहीं जा सके। लंबे समय बाद खदान और एनएमडीसी प्लांट में काम बंद रहा। एसपी अभिषेक पल्लव ने इसे नक्सल प्रायोजित प्रदर्शन बताया है। दरअसल दंतेवाड़ा जिले के बैलाडीला पर्वत श्रृंखला के नंदाराज पहाड़ पर स्थित एनएमडीसी की डिपाॅजिट 13 नंबर खदान अडानी को दिए जाने का आदिवासियों ने विरोध
#Temple दंतेवाड़ा की माँ दंतेश्वरी, जगदलपुर

#Temple दंतेवाड़ा की माँ दंतेश्वरी, जगदलपुर

tourism
दन्तेश्वरी मंदिर जगदलपुर शहर से लगभग 84 किमी (52 मील) स्थित है। माता दंतेश्वरी का यह मंदिर बहुत ही प्रसिद्ध एवं पवित्र मंदिर है, यह माँ शक्ति का अवतार है। माना जाता है कि इस मंदिर में कई दिव्य शक्तियां हैं। दशहरा के दौरान हर साल देवी की आराधना करने के लिए आसपास के गांवों और जंगलों से हजारों आदिवासी आते हैं। यह मंदिर जगदलपुर के दक्षिण-पश्चिम में दंतेवाड़ा में स्थित है और यह पवित्र नदियां शंकिणी और डंकिनी के संगम पर स्थित है, यह छह सौ वर्ष पुराना मंदिर भारत की प्राचीन विरासत स्थलों में से एक है और यह मंदिर बस्तर क्षेत्र का सांस्कृतिक-धार्मिक-सामाजिक का प्रतिनिधित्व है। आज का विशाल मंदिर परिसर इतिहास और परंपरा की सदियों से वास्तव में खड़ा स्मारक है। इसके समृद्ध वास्तुशिल्प और मूर्तिकला और इसके जीवंत उत्सव परंपराओं का प्रमाण है। दंतेश्वरी माई मंदिर इस क्षेत्र के लोगों के लिए सबसे महत्वपूर्ण
गोंदेरास के जंगल में तड़के हुई सुरक्षाबलों से मुठभेड़ में महिला नक्सली सहित दो वर्दीधारी ढेर, हथियार सहित तमाम सामान बरामद

गोंदेरास के जंगल में तड़के हुई सुरक्षाबलों से मुठभेड़ में महिला नक्सली सहित दो वर्दीधारी ढेर, हथियार सहित तमाम सामान बरामद

chhattisgarh
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | जिला पुलिस और डीआरजी की संयुक्त टीम ने गोंडेरास क्षेत्र के घने जंगलो में बुधवार तड़के बड़ी कार्रवाई करते हुए नक्सलियों के कैंप पर धावा बोल दिया। दोनों ओर से चली फायरिंग के दौरान सुरक्षाबलों ने महिला नक्सली सहित दो वर्दीधारी नक्सलियों को मार गिराया। हालांकि बाकी नक्सली जंगल का फायदा उठाकर भाग निकलने में कामयाब हुए। मारे गए नक्सलियों की अभी शिनाख्त नहीं हो सकी है। करीब एक घंटे से ज्यादा चली इस मुठभेड़ में जवानों ने महिला नक्सली सहित दो वर्दीधारी को ढेर कर दिया। पुलिस ने मौके पर हथियार सहित भारी मात्रा में सामान बरामद किया है। खास बात यह है कि पहली बार नक्सलियों से हुई मुठभेड़ में महिला कमांडों को भी शामिल किया गया। जवानों को मौके से इंसास राइफल, 12 बोर बंदूक के साथ सामानों का जखीरा बरामद हुआ है। दंतेवाड़ा-सुकमा बॉर्डर के जंगलों में 30 से ज्यादा कैंप लगा रखे थे नक्सलियों ने
भाजपा विधायक मंडावी की हत्या के मास्टरमाइंड समेत दो नक्सली ढेर, 1 गिरफ्तार

भाजपा विधायक मंडावी की हत्या के मास्टरमाइंड समेत दो नक्सली ढेर, 1 गिरफ्तार

chhattisgarh
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | यहां सुरक्षाबलों ने गुरुवार को मुठभेड़ में दो नक्सलियों को ढेर कर दिया। मारे गए नक्सलियों में भाजपा विधायक भीमा मंडावी के काफिले पर हमले का मास्टरमाइंड भी शामिल था। नक्सली एसीएम वर्गिस पर पांच लाख का इनाम था। नक्सलियों के पास से एक 315 और एक बंदूक बरामद हुई। पहले चरण के मतदान से 2 दिन पहले 9 अप्रैल को इसी इलाके में नक्सलियों ने मंडावी के काफिले पर आईईडी से हमला किया था। इसमें मंडावी और उनके ड्राइवर की मौत हो गई थी। उनकी सुरक्षा में तैनात 3 जवान भी शहीद हुए थे। पुलिस के मुताबिक, डीआरजी के जवान सुबह सर्चिंग के लिए निकले थे। इसी दौरान कटेकल्याण और कोंड़ा के बीच दौलिकडका के जंगलों में नक्सलियों ने फायरिंग कर दी। जवाबी कार्रवाई में नक्सली कमांडर एसीएम वर्गिस और लिंगा मारे गए। एक नक्सली गिरफ्तार हुआ है। वर्गिस बड़े नक्सली कमांडरों में था और कई हमलों में मास्टरमाइंड रहा है।
नक्सली नेता साईंनाथ ने ली भाजपा विधायक भीमा मंडावी की हत्या की जिम्मेदारी, मंडावी को कट्‌टर नेता बताकर पर्चा जारी किया था

नक्सली नेता साईंनाथ ने ली भाजपा विधायक भीमा मंडावी की हत्या की जिम्मेदारी, मंडावी को कट्‌टर नेता बताकर पर्चा जारी किया था

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | भाजपा विधायक भीमा मंडावी की हत्या करने की जिम्मेदारी नक्सली नेता साईंनाथ ने ली है। एक पर्चा जारी करते हुए साईंनाथ ने आरोप लगाया है कि सामाजिक कार्यकर्ताओं को अर्बन माओवादी बताकर उनका उत्पीड़न किया जा रहा है। साथ ही नक्सली कमांडरों पाली, विज्जे ,सुक्की, ज्योति व मीटू के एनकाउंटर में मारे जाने और अडानी को जमीन दिए जाने का विरोध किया है। नक्सली साईंनाथ दंडकारण्य स्पेशल जोन और दरभा डिवीजन कमेटी का सचिव है। अर्बन माओवादी का लेबल लगा सामाजिक कार्यकर्ताओं के उत्पीड़न का आरोप साईंनाथ ने भाजपा सरकार को हिंदू राष्ट्र का पक्षधर होने और भीमा मंडावी को कट्‌टर हिंदू नेता बताया है। नक्सली नेता ने आरोप लगाया कि आरएसएस के हिंदू राष्ट्र बनाने के एजेंडे के चलते ही दलितों, मुस्लिमों, आदिवासियों की हत्याएं हो रही हैं और महिलाओं का उत्पीड़न किया जा रहा है। दरभा कमेटी ने जवानों के हथियार लूटे
वोटिंग से 2 दिन पहले नक्सलियों ने किया 50 किलो आईईडी ब्लास्ट, भाजपा विधायक और ड्राइवर की मौत, 3 जवान शहीद

वोटिंग से 2 दिन पहले नक्सलियों ने किया 50 किलो आईईडी ब्लास्ट, भाजपा विधायक और ड्राइवर की मौत, 3 जवान शहीद

chhattisgarh
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | अभी-अभी दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने 50 किलो आईईडी बम से विस्फोट किया है। आपको बता दे लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान में दो दिन ही बाकि है और उसके पहले नक्सलियों ने दंतेवाड़ा में आईईडी ब्लास्ट से हमला कर दिया। नक्सलियों के निशाने पर स्थानीय भाजपा विधायक भीमा मंडावी का काफिला था, जो मंगलवार दोपहर नकुलनार से करीब दो किमी दूर श्यामगिरी से गुजर रहा था। डीआईजी पी सुंदरराज ने बताया कि ब्लास्ट के बाद विधायक मंडावी और उनके ड्राइवर की मौके पर ही मौत हो गई। उनकी सुरक्षा में तैनात 3 जवान भी हमले में शहीद हो गए। लोकसभा चुनाव से दो दिन पहले इतना बड़ा नक्सली हमला होने से अंदेशा लगाया जा रहा है कि लोगो को मतदान करने से रोकने के लिए नक्सलियों ने यह हमला किया है। भाजपा विधायक भीमा मंडावी चुनाव प्रचार कर लौट रहे थे हमला तब हुआ जब विधायक मंडावी चुनाव प्रचार कर लौट रहे थे। नक्सल प्रभ
खुलासा: फ़ोर्स को ट्रैप करने के लिए नक्सलियों ने साजिश के तहत थानेदार की हत्या की अपवाह फैलाई थी

खुलासा: फ़ोर्स को ट्रैप करने के लिए नक्सलियों ने साजिश के तहत थानेदार की हत्या की अपवाह फैलाई थी

chhattisgarh
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | दंतेवाड़ा के अरनपुर थाना क्षेत्र के जलेबी गांव से अगवा किये गए प्रभारी थानेदार ललित कश्यप और शिक्षक जय सिंह कुरेटी को नक्सलियों ने कड़ी पूछताछ के बाद सोमवार रात को छोड़ दिया। दोनों सुबह मंगलवार को समेली स्थित सीआरपीएफ कैम्प पहुंचे। आपको बता दे दोनों को सोमवार को नक्सलियों ने अगवा कर लिया था। जिसके बाद एसआई ललित कुमार की हत्या करने की अफवाह फैल गई थी। ग्रामीणों की ओर से मुख्यालय आकर भी इसकी सूचना दी गई। हालांकि पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की थी। पुलिस की ओर से सर्चिंग तेज की गई और उन्हें ढूंढ निकाला गया। फ़ोर्स को फ़साने की थी साजिश एसआई और शिक्षक दोनों सुबह समेली कैंप पहुंच गए थे। जहां से  दंतेवाड़ा पुलिस दोनों को दंतेवाड़ा ला रही है। जहां उनसे पूछताछ की जाएगी। सूत्रों के मुताबिक, नक्सलियों ने साजिश के तहत बड़ी सर्चिंग पार्टी को फंसाने के लिए एंबुश लगा रखा था। दोनों का अगवा
थानेदार की हत्या निकली अफवाह, नक्सलियों के चंगुल से छूटकर शिक्षक और एसआई लौटे

थानेदार की हत्या निकली अफवाह, नक्सलियों के चंगुल से छूटकर शिक्षक और एसआई लौटे

chhattisgarh
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | नक्सलियों के कब्जे में कैद थानेदार ललित कुमार कश्यप और उनके साथी शिक्षक जय सिंह कुरेटी दोनों आज मंगलवार सुबह सकुशल लौट आए हैं। दोनों को सोमवार को नक्सलियों ने अगवा कर लिया था। जिसके बाद एसआई ललित कुमार की हत्या करने की अफवाह फैल गई थी। ग्रामीणों की ओर से मुख्यालय आकर भी इसकी सूचना दी गई। हालांकि पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की थी। पुलिस की ओर से सर्चिंग तेज की गई और उन्हें ढूंढ निकाला गया। देर रात ही नक्सलियों ने दोनों को छोड़ा एसआई और शिक्षक दोनों सुबह समेली कैंप पहुंच गए थे। जहां से  दंतेवाड़ा पुलिस दोनों को दंतेवाड़ा ला रही है। जहां उनसे पूछताछ की जाएगी। सूत्रों के मुताबिक, नक्सलियों ने साजिश के तहत बड़ी सर्चिंग पार्टी को फंसाने के लिए एंबुश लगा रखा था। दोनों का अगवा करने का मकसद भी जवानों को एंबुश में फंसाने का था। हालांकि नक्सली अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो सके। फ
प्रधानमंत्री ने जिस दंतेश्वरी योजना को सराहा था, थम गए उसके पहिए, बेरोजगार हुईं महिलाएं

प्रधानमंत्री ने जिस दंतेश्वरी योजना को सराहा था, थम गए उसके पहिए, बेरोजगार हुईं महिलाएं

chhattisgarh
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | गीदम में बेरोजगार महिलाओं को रोजगार देने के लिए महिलाओं को बांटे गए ई-रिक्शा अब कबाड़ के ढेर में पड़े हैं। इन ई-रिक्शा में बैटरी खराब होने पर महिलाओं ने इसे लाइवलीहुड कॉलेज में अधिकारियों को सौंप दिया था। अब अधिकारी बैटरी लगवाने में दिलचस्पी नहीं दिखा रहे। ऐसे में ये कई महीनों से कॉलेज परिसर में रखे-रखे जंग खा रहे हैं। इधर ई-रिक्शा नहीं होने से स्वयं सहायता समूह की महिलाओं के लिए वापस रोजगार का संकट पैदा हो गया है। बेरोजगार महिलाओ को रोजगार देने के लिए जिला प्रशासन ने दंतेश्वरी सेवा योजना के तहत ई-ऑटो रिक्शा को शहर की सड़कों पर उतारा था। https://www.youtube.com/watch?v=5C18w-AqyW4 अक्टूबर 2017 को पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के हाथों स्वसहायता समूह की महिलाओं को ई-रिक्शा दिया गया। इन महिलाओं को लाइवलीहुड कॉलेज में ई-रिक्शा चलाने का प्रशिक्षण भी दिया गया। (adsbyg