chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

Tag: chhattisgarh vidhansabha session

विधानसभा मानसून सत्र: स्कूलों में बच्चों को अंडा वितरण को लेकर विधानसभा में हुआ जमकर हंगामा

विधानसभा मानसून सत्र: स्कूलों में बच्चों को अंडा वितरण को लेकर विधानसभा में हुआ जमकर हंगामा

politics
रायपुर (एजेंसी) | विधानसभा में मानसून सत्र के दूसरे दिन सोमवार को एक बार फिर जमकर हंगामा हुआ। स्कूली बच्चों को अंडा वितरण से लेकर शराबबंदी को लेकर विपक्ष ने सरकार पर जोरदार हमला बोला। आरोप लगाया कि सरकार खुद शराब को बढ़ावा दे रही है। पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने के लिए अब प्लास्टिक की बोतलों में शराब परोसने की नीति पर काम किया जा रहा है। वही मध्यान्ह भोजन में अंडा परोसने को लेकर कहा कि आज स्कूलों में अंडा खाने को दिया जा रहा है, कल कहेंगे बीफ खाओ। वहीं सड़क गुणवत्ता, राजस्व नुकसान, मनरेगा के बकाये को लेकर सरकार अपने ही विधायकों के निशाने पर भी रही। वर्ग संघर्ष की स्थिति मत बनने दीजिए, जिद से राजनीति नहीं होती जैसा अंदेशा था, वहीं हुआ। सत्र की शुरुआत से ही सरकार पर हमलावर हुआ विपक्ष ने दूसरे दिन भी इसे बरकरार रखा। जेसीसीजे विधायक धर्मजीत सिंह ने सदन में शून्यकाल के दौरान अंडा वितरण का माम
छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र: विधायक भीमा की हत्या, हिरासत में मौत पर हंगामे के आसार

छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र: विधायक भीमा की हत्या, हिरासत में मौत पर हंगामे के आसार

politics
रायपुर (एजेंसी) | मानसून सत्र में भाजपा दंतेवाड़ा विधायक भीमा मंडावी की नक्सल हत्या, हिरासत में मौतों से लेकर छह महीनों में वित्तीय स्थिति गड़बड़ाने पर राज्य सरकार को घेरेगी। हालांकि बदले में कांग्रेस अपनी उपलब्धियों के साथ-साथ पिछली सरकार में हुए घोटालों को सामने लाएगी। सत्र के लिए भाजपा व जनता कांग्रेस गठबंधन के साथ-साथ सत्ता पक्ष के विधायकों ने भी तैयारी कर ली है। नक्सल और कानून व्यवस्था के मुद्दे पर भाजपा स्थगन प्रस्ताव लाने की तैयारी में है। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया शुक्रवार को विधायक दल के साथ बैठक करेंगे। मानसून सत्र की शुरुआत शुक्रवार को होगी। इसके बाद दो दिन छुट्टी है। सोमवार से शुक्रवार के बीच पांच दिन की कार्यवाही होगी। इन पांच दिनों में प्रश्नकाल के साथ-साथ शून्यकाल में जबर्दस्त हंगामे के आसार हैं। नक्सल हमले में भाजपा विधायक मंडावी की मौत पर भाजपा स्थगन ला सकती
छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र: सदन से सभी 12 मंत्री अनुपस्थित, स्पीकर महंत ने रोकी कार्यवाही

छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र: सदन से सभी 12 मंत्री अनुपस्थित, स्पीकर महंत ने रोकी कार्यवाही

politics
रायपुर (एजेंसी) | सरकार के पहले ही बजट सत्र के आठवें ही दिन मंत्रियों की अनुपस्थिति से नाराज स्पीकर डा. चरणदास महंत को सदन की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी। इस पर विपक्ष ने भी  सरकार के प्लोर मैनेजमेंट की विफलता को लेकर घेरा। मंगलवार को यह वाकया मंत्री टीएस सिंहदेव के विभागों के बजट चर्चा के दौरान हुआ। चर्चा बिना भोजनावकाश के लगातार करने का फैसला हुआ था। दोपहर करीब 3.45 बजे स्पीकर महंत  सत्तापक्ष के विधायकों के नाम पुकार रहे थे और एक-एक कर सभी गैरहाजिर थे। तभी भाजपा के अजय चंद्राकर ने स्पीकर से कहा कि चर्चा के लिए नाम देकर गैरहाजिर रहने वाले विधायकों को आसंदी से प्रताड़ित किया जाना चाहिए। यह कहते-कहते चंद्राकर की नजर ट्रेजरी बैंच (मंत्रियों की कुर्सियों) पर पड़ी। वहां 12 में से एक भी मंत्री मौजूद नहीं थे। यह देख चंद्राकर ने कहा कि सदस्य बोलेंगे तो कौन सुनेगा और नोट करेगा। मंत्री भी नहीं
विधानसभा में उठा एनीकट के निर्माण में हुई गड़बड़ियों की जाँच की मांग

विधानसभा में उठा एनीकट के निर्माण में हुई गड़बड़ियों की जाँच की मांग

politics
रायपुर (एजेंसी) | राज्य में एनीटक निर्माण में हुई गड़बड़ी का मुद्दा दूसरे दिन भी गुरुवार को विधानसभा सदन में छाया रहा। बजट सत्र के दौरान चर्चा में कांग्रेस विधायक संतराम नेताम के एक बार फिर से मामला उठाए जाने के बाद जल संसाधन मंत्री रविंद्र चौबे ने अब इसकी जांच का ऐलान कर दिया है। एनीकट कैसे बनते थे, कैसे टूटे, ठेके कैसे दिए, सब जांच का विषय दरअसल कांग्रेस विधायक संतराम नेताम ने बजट सत्र के दौरान गुरुवार को सदन में केशकाल विधानसभा क्षेत्र में एनीकट, स्टॉपडेम और चेकडेम के निर्माण में गड़बड़ी का मामला उठाया था।जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा- पिछली सरकार में एनीकट कैसे बनते थे? टूट-फूट कैसे होते थे? ठेके कैसे दिया जाते थे? यह तो सब जांच का विषय है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); जिसके बाद संतराम नेताम ने सवाल किया कि क्या गड़बड़ी की जांच कराई जाएगी? जिसके जवाब मे