chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

Tag: bilaspur

‘गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही’ जिला का नाम बदलकर ‘नर्मदांचल’ करने की मांग

‘गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही’ जिला का नाम बदलकर ‘नर्मदांचल’ करने की मांग

chhattisgarh
बिलासपुर (एजेंसी) | पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी पत्रकारों से बातचीत में कहा कि ‘गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही’ जिला का नाम बदलकर 'नर्मदांचल' कर दिया जाये क्योकि यहाँ के लोग नर्मदा नदी के प्रति गहरी आस्था रखता है, इसलिए जिले का नाम गौरेला-पेंड्रा-मरवाही से बदलकर नर्मदांचल करने की मांग कांग्रेस सरकार से करते हैं। जब उनसे नया जिला बनाने को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि  जब वे मुख्यमंत्री बने तो खजाना खाली था। जब मै सीएम बना तो खज़ाना खाली था -अजित जोगी केवल 4 हजार करोड़ का बजट था और प्रदेश में 3 साल तक भीषण अकाल पड़ा। न कोई जिला बनाया न तहसील। बनाते तो लोगों को सड़क, बिजली और पानी कैसे देते? केवल गौरेला-पेंड्रा-मरवाही इलाके के नेता तो नहीं हैं। पूरे प्रदेश के नेता हैं। इसलिए नया जिला बनाकर राजनीति को वहीं तक समेटने जैसी बात नहीं है। जोगी से पूछा गया था कि उन्होंने क्यों जिला नहीं बनाया? उन
Assistant Programmer CG Vyapam Recruitment 2019

Assistant Programmer CG Vyapam Recruitment 2019

CG Govt, Jobs
Job type : CG govt Post name : Assistant Programmer Openings : 3 Job Locations : Raipur, Durg, Bilaspur, Bhilai, Korba Main Qualification : BCA, MCA, Btech, BSc (60% marks) Assistant Programmer Recruitment 2019 Examination How to apply Company Name : CG Vyapam Please click on apply online for details. APPLY ONLINE Last date : 11-Aug-2019
बिलासपुर हाईकोर्ट: 15 हजार शिक्षकों की भर्ती के विज्ञापन को निरस्त करने की मांग खारिज

बिलासपुर हाईकोर्ट: 15 हजार शिक्षकों की भर्ती के विज्ञापन को निरस्त करने की मांग खारिज

chhattisgarh
बिलासपुर (एजेंसी) | प्रदेश में करीब 15 हजार शिक्षकों की भर्ती के लिए जारी विज्ञापन को निरस्त करने की मांग करते हुए लगाई गई अपील हाईकोर्ट ने खारिज कर दी है। हाईकोर्ट ने दो विषयों में आवेदकों को शैक्षणिक योग्यता में दी गई छूट को अनुचित बताते हुए दिए गए तर्क को नामंजूर कर दिया। राज्य शासन ने 9 मार्च 2019 को प्रदेश के विभिन्न जिलों में शिक्षकों के करीब 15 हजार पदों पर भर्ती के लिए मार्च 2019 में विज्ञापन जारी किया था। शिक्षा विभाग में व्याख्याता, शिक्षक और सहायक शिक्षकों के पदों पर भर्ती होगी। इसके लिए बीएड, डीएड और टीईटी अनिवार्य योग्यता निर्धारित किए गए हैं। वहीं, एग्रीकल्चर और फिजिकल एजुकेशन विषय में बीएड, डीएड और टीईटी को अनिवार्य योग्यता के रूप में छूट दी गई है। इस छूट को नियमविरुद्ध बताते हुए हाईकोर्ट में याचिका लगाई गई थी, लेकिन यह 14 मई 2019 को खारिज कर दी गई। याचिका खारिज करने के
बिलासपुर हाईकोर्ट: प्रदेश में बढ़ रहे जल संकट और उद्योगों को ज्यादा पानी देने के मामले में 2 सप्ताह बाद होगी सुनवाई

बिलासपुर हाईकोर्ट: प्रदेश में बढ़ रहे जल संकट और उद्योगों को ज्यादा पानी देने के मामले में 2 सप्ताह बाद होगी सुनवाई

chhattisgarh
बिलासपुर (एजेंसी) | प्रदेश में लगातार गहरा रहे जल संकट, पीने के पानी का खराब हो रहा स्तर, जल संचय की दिशा में उचित प्रयास नहीं करने, उद्योगों को पानी की अधिक सप्लाई सहित अन्य मुद्दों को लेकर हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाई गई है। हाईकोर्ट ने पिछली सुनवाई के दौरान राज्य शासन को स्टेटस रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए कहा था। मंगलवार को याचिकाकर्ता के नहीं उपस्थित होने के कारण सुनवाई दो सप्ताह के लिए बढ़ा दी गई। अंबिकापुर में रहने वाले आरएन गुप्ता जल विशेषज्ञ हैं, उन्होंने हाईकोर्ट में जनहित याचिका प्रस्तुत कर प्रदेश में लगातार बढ़ रहे जल संकट, उद्योगों को अधिक पानी देने की वजह से पीने के पानी की हो रही कमी, जल संचय की दिशा में पर्याप्त प्रयास नहीं करने सहित पानी को लेकर कई अहम मुद्दे उठाए हैं। याचिका पर प्रारंभिक सुनवाई के बाद हाईकोर्ट ने याचिकाकर्ता द्वारा उठाई गई समस्याओं पर राज्य शासन को अ
अरपा पर अवैध कब्जा: नदी की जमीन घेरने के लिए खड़े कर लिए कॉलम

अरपा पर अवैध कब्जा: नदी की जमीन घेरने के लिए खड़े कर लिए कॉलम

chhattisgarh
बिलासपुर (एजेंसी) | शहर में बेजा कब्जा के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। नगर निगम की भवन शाखा की मिलीभगत से अवैध निर्माण पर अंकुश नहीं लगाया जा सका है। बेजा कब्जा करने वालों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि अब वे नदी की जमीन पर बेजा कब्जा करने लगे हैं। इससे पहले सरकंडा चटर्जी गली के पास नदी में दो कमरों के मकान के अवैध निर्माण का मामला सामने आया था। भवन शाखा ने दो बार नोटिस देकर आगे कोई कार्रवाई नहीं की। ताजा मामला इंदिरा सेतु से राम मंदिर की ओर नदी के किनारे की जमीन पर अवैध निर्माण की गरज से कॉलम खड़े करने का है। इस पर भी भवन अनुज्ञा शाखा ने नोटिस देकर काम बंद कराने का दावा किया है। पौधरोपण के नाम पर भी बेजा कब्जा अरपा में बेजा कब्जा के लिए अब पौधरोपण का भी सहारा लिया जा रहा है। खबर है कि कोनी रोड पर नदी किनारे कुछ सामाजिक संगठनों ने पौधरोपण के लिए अच्छा काम किया है, परंतु इनकी आड़ में
छॉलीवुड मूवी शो ‘हंस झन पगली फंस जाबे’ के दौरान छेड़खानी के विरोध में टॉकीज मैनेजर और कर्मचारी को पेट्रोल डालकर जलाया

छॉलीवुड मूवी शो ‘हंस झन पगली फंस जाबे’ के दौरान छेड़खानी के विरोध में टॉकीज मैनेजर और कर्मचारी को पेट्रोल डालकर जलाया

chhattisgarh
बिलासपुर (एजेंसी) | छॉलीवुड मूवी के शो के दौरान मंगलवार शाम को हुए विवाद को सुलझाना टॉकीज मैनेजर और उसके एक कर्मचारी पर भारी पड़ गया। दोनों पक्षों का विवाद तो शांत हो गया, लेकिन इसकी रंजिश में बदमाशों ने टॉकीज मैनेजर और कर्मचारी पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। इसके बाद अफरा तफरी मच गई। सूचना पर मुंगेली थाना पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों घायलों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पर टॉकीज मैनेजर की हालत गंभीर देख बिलासपुर रेफर कर दिया गया है। इस पर पुलिस टॉकीज पहुंची तो दोनों में से एक युवक फरार हो गया और दूसरे पुलिस थाने में गई। बाद में पुलिस ने आरोपी को नाबालिग बता कर छोड़ दिया। छेड़खानी के विवाद के बाद पुलिस बुलाई, पर आरोपी को नाबालिग बता थाने ले जाकर छोड़ा जानकारी के मुताबिक, मुख्य रोड स्थित मनुराज टॉकीज में छत्तीसगढ़ी फिल्म 'हंस झन पगली फंस जाबे' लगी है। शो के दौरान दो व्यक्ति सिनेम
व्यक्ति विशेष: जेल में रह रही 6 साल की मासूम का स्कूल में दाखिला कराकर, कलेक्टर ने पेश की इंसानियत की मिसाल

व्यक्ति विशेष: जेल में रह रही 6 साल की मासूम का स्कूल में दाखिला कराकर, कलेक्टर ने पेश की इंसानियत की मिसाल

chhattisgarh, special
बिलासपुर (एजेंसी) | बिलासपुर के जिला कलेक्टर डॉ. संजय कुमार अलंग ने 6 वर्षीय ख़ुशी (बदला हुआ नाम) का स्कूल में दाखिला कराकर उसे नई जिंदगी दी और इंसानियत की एक मिसाल पेश की। बीते दिनों, जब बिलासपुर के कलेक्टर डॉ. संजय अलंग ने जेल का दौरा किया, तो उनकी मुलाक़ात इस बच्ची से हुई। ख़ुशी ने उन्हें बताया कि वह जेल की चारदीवारी से बाहर निकलकर पढ़ना चाहती है। बाकी बच्चों की तरह बाहर के स्कूल में जाना चाहती है। शिक्षा के प्रति इस बच्ची का लगाव देखकर, आईएएस अफ़सर डॉ. संजय अलंग ने इस बारे में कुछ करने की ठानी। उन्होंने जेल के अधिकारियों से बात करके शहर के किसी अच्छे स्कूल में ख़ुशी का दाखिला करवाने का फ़ैसला किया। महज छह साल की ख़ुशी जेल की सलाखों के पीछे रहने के लिए इसलिए मजबूर है क्यूँकि उसके पिता यहाँ पर सजा काट रहे हैं। ख़ुशी की माँ का देहांत उसके जन्म के कुछ समय बाद ही हो गया था। घर में कोई और नहीं
सरकार ने बैंकों को नहीं दिए रुपए, 26,616 किसानों को खेती के लिए नहीं मिल रहा कर्ज

सरकार ने बैंकों को नहीं दिए रुपए, 26,616 किसानों को खेती के लिए नहीं मिल रहा कर्ज

chhattisgarh
बिलासपुर (एजेंसी) | खरीफ की खेती शुरू होने वाली है पर किसानों को कर्ज नहीं मिल पर रहा है। जिले में 21 राष्ट्रीयकृत, 9 प्राइवेट और ग्रामीण बैंक हैं जहां 26616 किसानों के लोन अटके हुए हैं। इन्होंने बैंकों से 339.65 करोड़ रुपए कर्ज लिया था। सरकार कर्जमाफी की घोषणा की लेकिन अब तक इन बैंकों को पैसा नहीं दिया। बैंकों ने कर्ज देना तो दूर इन किसानों को डिफाल्टर सूची में डाल दिया है। ऐसे में अब भविष्य में भी किसानों को लोन लेने के रास्ते बंद हो गए हैं। सरकार ने सहकारी बैंक को 436 करोड़, ग्रामीण बैंक को 20 फीसदी रकम ही दी, राष्ट्रीयकृत बैंकों को कुछ नहीं मिला पिछले खरीफ सीजन से पहले जिले के 1 लाख 74 हजार 616 किसानों ने खेती करने के लिए सभी तरह के बैंकों से 820.68 करोड़ रुपए किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से कर्ज लिया। इसमें 1 लाख 48 हजार किसानों ने जिला सहकारी एवं केंद्रीय बैंक से 481 करोड़ 3 लाख रुप
244 एकड़ में लगाई सागौन की नर्सरी देखरेख नहीं होने पर काटे जा रहे पेड़

244 एकड़ में लगाई सागौन की नर्सरी देखरेख नहीं होने पर काटे जा रहे पेड़

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | बिलासपुर से मुलमुला के बीच कुटीघाट और आरसमेटा रोड में वन विभाग द्वारा करीब दस साल पहले सागौन की नर्सरी लगाई गई थी। उस नर्सरी के पौधे अब बड़े हो गए हैं। हालांकि अभी पौधे इतने मजबूत नहीं हो पाए हैं कि सागौन लकड़ी का उपयोग घरों में खिड़की, दरवाजा या अन्य कार्यों के लिए किया जा सके। फिर भी इसमें से जलाऊ लकड़ी के लिए पेड़ों की कटाई हो रही है। मुलमुला बिलासपुर मुख मार्ग के दोनों तरफ सागौन का पौधा तीन अलग अलग रकबा में करीब 244 एकड़ एरिया में लगाया गया था। ये पौधे अब बढ़ कर छोटे जंगल की तरह हो गए हैं। शुरूआत में इस क्षेत्र को फेंसिंग तार के घेरे से सुरक्षित किया गया था परन्तु घेरे में उपयोग किए गए सीमेंट के खंभे टूट चुके हैं। इस वजह से सागौन के इस छोटे जंगल में लोग आसानी से प्रवेश कर जाते हैं तथा लकड़ी काटकर ले जा रहे हैं। देखरेख से बनाया जा सकता है अच्छा बिलासपुर-शिवरीनारायण मुख्यम
महाधिवक्ता विवाद: भाजपा-जोगी कांग्रेस भी कूदी, सरकार ने कहा, ‘विवाद नहीं चाहते, नियुक्ति नियमों के आधार की गई है’

महाधिवक्ता विवाद: भाजपा-जोगी कांग्रेस भी कूदी, सरकार ने कहा, ‘विवाद नहीं चाहते, नियुक्ति नियमों के आधार की गई है’

politics
बिलासपुर (एजेंसी) | बिलासपुर हाइकोर्ट में महाधिवक्ता की नियुक्ति पर चल रहे विवाद ने शनिवार को तूल पकड़ लिया। इसमें आज भाजपा व जोगी कांग्रेस भी कूद पड़ी। भाजपा ने इसे संवैधानिक संकट बताया तो जोगी कांग्रेस ने सरकार की कार्य प्रणाली पर उंगली उठाई। जबकि राज्य सरकार की ओर से प्रभारी विधि मंत्री मोहम्मद अकबर ने कहा है कि नियुक्ति पूरी प्रक्रिया और नियमों के आधार की गई है। नियुक्ति में बाकायदा राज्यपाल का अनुमोदन भी लिया गया है। सरकार इस विषय पर विवाद नहीं चाहती। अकबर ने कहा कि दस्तावेजों के आधार पर निर्णय हुआ है, इसलिए इसे विवादित नहीं किया जाना चाहिए। वन विभाग की बैठक के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए विधि मंत्री ने कहा कि कनक तिवारी ने काम करने की अनिच्छा जताई थी। इसलिए नए महाधिवक्ता सतीशचंद्र वर्मा की नियुक्ति की गई है। राज्यपाल के अनुमोदन के पश्चात ही नई नियुक्ति की गई है। महाधिवक्ता का अप