Shadow

Tag: bhupesh baghel

छत्तीसगढ़ की फ्लोरेंस नाइटिंगेल दीदी ‘पुष्पा तिग्गा’ कैंसर से जंग हारी, घोर नक्सली इलाको में स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करती थी, मुख्यमंत्री ने जताया शोक

छत्तीसगढ़ की फ्लोरेंस नाइटिंगेल दीदी ‘पुष्पा तिग्गा’ कैंसर से जंग हारी, घोर नक्सली इलाको में स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करती थी, मुख्यमंत्री ने जताया शोक

chhattisgarh, News, Videos
सुकमा के छिंदगढ़ ब्लॉक से करीब 40 किमी दूर घोर नक्सल प्रभावित इलाका कुन्ना और डब्बा इलाके में पुष्पा पिछले 12 सालों से एनएम कार्यकर्ता के रूप में अपनी सेवा दे रही थीं. उनका इलाज बिलासपुर में चल रहा था. ब्रेस्ट कैंसर से पीड़ित तिग्गा की तबियत कुछ दिन से ज्यादा खराब थी. उन्हें मंगलवार को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां इलाज के दौरान बुधवार को उन्होंने दम तोड़ दिया. बुधवार देर शाम शव को गृहग्राम जशपुर ले जाया गया है. स्वास्थ्य विभाग में एनएम पद पर पर कार्यरत महिला पुष्पा तिग्गा सेवाभाव से भरी हुई थीं. न्यूज 18 से कुछ महीने पहले हुई चर्चा में पुष्पा तिग्गा ने कहा था कि जब उन्होंने ड्यूटी ज्वाइन किया था तब कुन्ना इलाके की हालात बहुत खराब थी. सिर पर टीके का डब्बा और दवाई रखकर 10 किमी पैदल पहाड़ी चढ़कर जाना पड़ता था. वैसे ही यहां से बस पकड़ने या दवाई लाने 16 किमी साइकिल से जाना पड़ता था.
लाॅकडाउन : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश के बाद छत्तीसगढ़ के सभी निजी स्कूलों द्वारा नही की जा सकेगी फीस की वसूली

लाॅकडाउन : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश के बाद छत्तीसगढ़ के सभी निजी स्कूलों द्वारा नही की जा सकेगी फीस की वसूली

chhattisgarh, News, Private, special
रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देश के बाद प्रदेश के सभी निजी स्कूलों में लाॅकडाउन के दौरान फीस वसूली पर रोक लगा दी गई है। लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा इस संबंध में निजी स्कूलों से फीस वसूली स्थिगित करने का आदेश जारी कर दिया गया है। कुछ निजी स्कूल लाॅकडाउन में भी फीस जमा करने संबंधी संदेश भेज रहे पालकों को संचालक लोक शिक्षण ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया है कि निजी स्कूल लाॅकडाउन की अवधि में स्कूल फीस वसूली स्थगित रखें, जिससे पालकों और बच्चों को अनावश्यक परेशानी नहीं हो। इस संबंध में सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को जारी निर्देश में कहा है कि राज्य शासन को ऐसी सूचनाएं मिल रही है कि अनेक निजी शालाओं द्वारा लाॅकडाउन की अवधि में भी स्कूल फीस जमा करने संबंधी संदेश पालकों को लगातर भेजे जा रहे है। लाॅकडाउन की अवधि में स्कूल फीस भुगतान के लिए दबाव डालना उचित नहीं
रायपुर : मुख्यमंत्री ने ‘डोनेशन ऑन व्हील्स अभियान‘ का किया शुभारंभ : अभियान में दानदाताओं के सहयोग से जरूरतमंद परिवारों तक  पहुंचायी जाएगी राशन सामग्री

रायपुर : मुख्यमंत्री ने ‘डोनेशन ऑन व्हील्स अभियान‘ का किया शुभारंभ : अभियान में दानदाताओं के सहयोग से जरूरतमंद परिवारों तक पहुंचायी जाएगी राशन सामग्री

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर. कोरोना की रोकथाम के लिए लागू लॉक डाउन की वजह से दैनिक रोजी-मजदूरी कर जीवन यापन करने वाले परिवारों को राहत पहुंचाने रायपुर जिला प्रशासन द्वारा राशन सामग्री प्रदान की जा रही है। जरूरतमंदों की सहायता के इच्छुक दानदाता राशन सामग्री का पैकेट तैयार कर उसे जिला प्रशासन को उपलब्ध करा सकते हैं। जिला प्रशासन द्वारा लोगों से राशन सामग्री के पैकेट एकत्र करने के लिए डोनेशन ऑन व्हील्स अभियान प्रारंभ किया है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास परिसर से इस अभियान का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने स्वयं जरूरतमंदों की सहायता के लिए राशन सामग्री के 500 पैकेट और 11 हजार रूपए की सहायता राशि जिला प्रशासन को सौंपी।  मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन द्वारा की गई इस पहल की सराहना की। रायपुर कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री आरिफ शेख, जिला पंचायत रायपुर के सीईओ डॉ. गौरव कुमार
रायपुर : ​​​​​​​मुख्यमंत्री के निर्देश में छत्तीसगढ़ के अन्य राज्यों में फंसे 26 हजार 505 श्रमिकों को पहुंचायी गई राहत, 5 हजार 316 श्रमिकों के खाते में 14.41 लाख रूपए किया जमा

रायपुर : ​​​​​​​मुख्यमंत्री के निर्देश में छत्तीसगढ़ के अन्य राज्यों में फंसे 26 हजार 505 श्रमिकों को पहुंचायी गई राहत, 5 हजार 316 श्रमिकों के खाते में 14.41 लाख रूपए किया जमा

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर. लॉकडाउन से प्रभावित छत्तीसगढ़ प्रदेश के अन्य राज्यों में फंसे स्थानिय मजदूरों के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देशन में राज्य सरकार ने सात अप्रैल शाम 4 बजे तक संकटग्रस्त 26 हजार 505 श्रमिकों को राहत पहुंचायी हैं। इनमें अब तक पांच हजार 316 श्रमिकों के खाते में तत्कालिक व्यवस्था के लिए लगभग 14 लाख 41 हजार रूपए भी जमा करवाया गया है। छत्तीसगढ़ के श्रमिक 20 अन्य राज्यों एवं तीन केन्द्र शासित प्रदेशों में संकट की स्थिति में होने के संबंध में जानकारी मिली है। छत्तीसगढ़ शासन द्वारा जम्मू में फंसे लगभग तीन हजार श्रमिकों के लिए स्थानीय प्रशासन से समन्वय कर उनके रहने-खाने की व्यवस्था करायी गई है। इसी तरह हिमाचल प्रदेश के धरमशाला में फंसे लगभग 900 श्रमिकों के लिए राशन आदि सामग्री की व्यवस्था की गई। इसके अलावा इन श्रमिकों को तत्काल राहत पहंुचाने के लिए जिला बेमेतरा के 3660 श्रमि
रायपुर : अंबेडकर हॉस्पिटल को कोविड हॉस्पिटल में तब्दील किए जाने का निर्णय विशेषज्ञ चिकित्सक, प्रशिक्षित स्टाफ, बेड एवं आईसीयू की व्यवस्था के मद्देनज़र लिया गया

रायपुर : अंबेडकर हॉस्पिटल को कोविड हॉस्पिटल में तब्दील किए जाने का निर्णय विशेषज्ञ चिकित्सक, प्रशिक्षित स्टाफ, बेड एवं आईसीयू की व्यवस्था के मद्देनज़र लिया गया

chhattisgarh, News, special
रायपुर। कोरोना पीड़ितों के ईलाज के लिए आधुनिक चिकित्सा सुविधा से  युक्त हॉस्पिटल की जरुरत को देखते हुए राज्य शासन ने रायपुर के डॉ. भीमराव अंबेडकर चिकित्सालय, मेकाहारा को कोविड हॉस्पिटल में तब्दील किए जाने का निर्णय लिया है । इसे जल्दबाजी में बिना सोचे समझे लिया गया फैसला कहा जाना उपयुक्त नहीं है। इसके पीछे कई ऐसे कारण है जिसकी वजह से डॉ. भीमराव अंबेडकर चिकित्सालय, मेकाहारा को वर्तमान में कोविड हॉस्पिटल में कन्वर्ट कर कोरोना के खिलाफ जारी जंग को मजबूती से लड़ा जा सकता है। छत्तीसगढ़ शासन के अधीन डॉ. भीमराव अंबेडकर चिकित्सालय, मेकाहारा ही एक मात्र ऐसा हॉस्पिटल है, जहाँ आधुनिक चिकित्सा सुविधा के साथ ही 500 बेड का हॉस्पिटल एवं 100 बेड वाला आईसीयू उपलब्ध है। यहाँ योग्य चिकित्सकों की टीम व प्रशिक्षित नर्सिंग स्टाफ भी उपलब्ध है।वर्तमान में राज्य के किसी भी शासकीय अस्पताल मे उपरोक्त सुविधा नही
छत्तीसगढ़ सरकार की अभिनव पहल : आंगनबाड़ी के बच्चों की घर में देखभाल और प्रारंभिक शिक्षा के लिए पालकों को वाट्सअप से मिलेगी जानकारी

छत्तीसगढ़ सरकार की अभिनव पहल : आंगनबाड़ी के बच्चों की घर में देखभाल और प्रारंभिक शिक्षा के लिए पालकों को वाट्सअप से मिलेगी जानकारी

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर। पोषण के साथ ही प्रारंभिक बाल्यावस्था देखरेख एवं शिक्षा भी बच्चों के विकास का महत्वपूर्ण पहलू है। इसे देखते हुए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देश पर महिला एवं बाल विकास विभाग ने शून्य से छह वर्ष के बच्चों के समग्र विकास के लिए प्रारंभिक बाल्यावस्था देखरेख एवं शिक्षा (ईसीसीई) पर आधारित एक अभिनव प्रयास शुरू किया है। इसके तहत डिजिटल प्लेटफार्म के माध्यम से अभिभावकों तक बच्चों के समग्र विकास की सटीक सूचनाएं प्रेषित की जाएंगी। सभी जिला कलेक्टरों को जिले में इस योजना के सुचारू क्रियान्वयन करने हेतु आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम और बचाव के लिए प्रदेश में लागू लाकडाउन के चलते सभी आंगनबाडि़यों का संचालन भी बंद है। आंगनबाडि़यों के बंद होने से बच्चों के स्वास्थ्य और प्रारंभिक शिक्षा प्रभावित न हो इसके लिए राज्य स
#Watch मुख्यमंत्री ने ऑनलाईन पोर्टल ‘‘पढ़ई तुंहर दुआर‘‘ का किया शुभारंभ

#Watch मुख्यमंत्री ने ऑनलाईन पोर्टल ‘‘पढ़ई तुंहर दुआर‘‘ का किया शुभारंभ

chhattisgarh, News, Videos
रायपुर | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्कूली बच्चों को घर पर ही रहकर पढ़ने के लिए देश के सबसे बड़े ऑनलाईन पोर्टल में से एक ‘‘पढ़ई तुंहर दुआर‘‘ का आज अपने निवास कार्यालय में शुभारंभ किया। इस पोर्टल के जरिए लाखों छात्र बिना किसी शुल्क के ऑनलाईन पढ़ाई कर सकेंगे। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि लाॅकडाउन के साथ ही आने वाले समय में बच्चों की निरंतर पढ़ाई में यह कार्यक्रम बहुत उपयोगी साबित होगा। https://youtu.be/6TkQnGb_UyQ मुख्यमंत्री ने ऑनलाईन पोर्टल का शुभारंभ करते हुए तिल्दा (जिला-रायपुर) की शाला की कक्षा आठवीं की स्कूली छात्रा दामिनी और दुर्ग जिले के पाटन विकासखण्ड की सेलूद प्राथमिक शाला के शिक्षक मिलिंद से ऑनलाइन बातचीत भी की और इस पोर्टल के लिए स्कूल शिक्षा विभाग की टीम को बधाई दी। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा मंत्री डाॅ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डाॅ. आलोक शुक्ला, संच
रायपुर : सजा पूरी करने, पैरोल और अंतरिम जमानत पर विभिन्न जेलों से रिहा किये गए 1 हजार 478 कैदी

रायपुर : सजा पूरी करने, पैरोल और अंतरिम जमानत पर विभिन्न जेलों से रिहा किये गए 1 हजार 478 कैदी

chhattisgarh, News, politics, special
रायपुर. कोरोना वायरस की रोकथाम के हेतु राज्य की विभिन्न जेलों से अब तक कुल 1 हजार 478 कैदियों को छोड़ा जा चुका है। जिनमें से 427 कैदियों को तीन माह से कम अवधि की अंतरिम जमानत पर, 742 कैदियों को तीन माह से अधिक की अंतरिम जमानत पर, 262 कैदियों को पैरोल पर और 46 कैदियों को सजा पूरी करने पर विभिन्न जेलों से छोड़ा गया है। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु जेलों में कैदियों की संख्या कम करने का निर्णय लिया गया था। जिससे जेलों में बंद कैदियों में कोरोना वायरस का खतरा कम किया जा सके। इसी क्रम में 7 अप्रैल तक इन कैदियों को कुछ शर्तों के अधीन अंतरिम जमानत और पैरोल पर छोड़ा गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने ट्वीट करके जानकारी दी ..और 46 कैदियों को सजा पूरी करने पर विभिन्न जेलों से छोड़ा गया है। — Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) April 8, 2020
रायपुर : मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के प्रदेशवासियों को हनुमान जयंती की दी शुभकामनाएं एवं प्रार्थना की है कि पूरा विश्व कोरोना संक्रमण रुपी संकट से जल्द मुक्त हो

रायपुर : मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के प्रदेशवासियों को हनुमान जयंती की दी शुभकामनाएं एवं प्रार्थना की है कि पूरा विश्व कोरोना संक्रमण रुपी संकट से जल्द मुक्त हो

chhattisgarh, india, News, special
रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों को हनुमान जयंती की बधाई और शुभकामनाएं दी है। अपने शुभकामना संदेश में मुख्यमंत्री ने आम जनता की सुख, समृद्धि और खुशहाली की कामना की है। उन्होंने कहा कि माना जाता है संकट मोचन हनुमान जी सभी विपत्तियों को हर कर कल्याण करने वाले  हैं। श्री बघेल ने प्रार्थना की है कि पूरा विश्व कोरोना संक्रमण रुपी संकट से जल्द मुक्त हो। सभी प्रदेशवासियों को हनुमान जयंती के पावन पर्व की बधाई और शुभकामनाएं। मैं प्रदेशवासियों की सुख, समृद्धि और खुशहाली की कामना करता हूँ। संकट मोचन हनुमान जी सभी विपत्तियों को हर कर कल्याण करने वाले हैं। कामना करता हूँ कि पूरा विश्व जल्द कोरोना संक्रमण रुपी संकट से मुक्त हो । pic.twitter.com/mEwXAO69r4 — Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) April 8, 2020
रायपुर : मुख्यमंत्री ने लाॅकडाउन के दौरान बच्चों की घर बैठे पढ़ाई के लिए ऑनलाईन पोर्टल ‘‘पढ़ई तुंहर दुआर‘‘ का किया शुभारंभ

रायपुर : मुख्यमंत्री ने लाॅकडाउन के दौरान बच्चों की घर बैठे पढ़ाई के लिए ऑनलाईन पोर्टल ‘‘पढ़ई तुंहर दुआर‘‘ का किया शुभारंभ

chhattisgarh, Govt Schemes, india, News, special
रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने स्कूली बच्चों को घर पर ही रहकर पढ़ने के लिए देश के सबसे बड़े ऑनलाईन पोर्टल में से एक ‘‘पढ़ई तुंहर दुआर‘‘ का आज अपने निवास कार्यालय में शुभारंभ किया। इस पोर्टल के जरिए लाखों छात्र बिना किसी शुल्क के ऑनलाईन पढ़ाई कर सकेंगे। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि लाॅकडाउन के साथ ही आने वाले समय में बच्चों की निरंतर पढ़ाई में यह कार्यक्रम बहुत उपयोगी साबित होगा। मुख्यमंत्री ने ऑनलाईन पोर्टल का शुभारंभ करते हुए तिल्दा (जिला-रायपुर) की शाला की कक्षा आठवीं की स्कूली छात्रा दामिनी और दुर्ग जिले के पाटन विकासखण्ड की सेलूद प्राथमिक शाला के शिक्षक श्री मिलिंद से ऑनलाइन बातचीत भी की और इस पोर्टल के लिए स्कूल शिक्षा विभाग की टीम को बधाई दी। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा मंत्री डाॅ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डाॅ. आलोक शुक्ला, संचालक लोक शिक्षण संस्था