chhattisgarh news media & rojgar logo

Tag: bastar

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 25 और 26 जनवरी को बस्तर संभाग के दौरे पर, जगदलपुर गणतंत्र दिवस समारोह में ध्वजारोहण करेंगे

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 25 और 26 जनवरी को बस्तर संभाग के दौरे पर, जगदलपुर गणतंत्र दिवस समारोह में ध्वजारोहण करेंगे

chhattisgarh, News
रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 25 और 26 जनवरी को बस्तर संभाग के दौरे पर रहेंगे। मुख्यमंत्री 25 जनवरी को दंतेवाड़ा और जगदलपुर में आयोजित कार्यक्रमों में शामिल होंगे और अगले दिन 26 जनवरी को जगदलपुर के लालबाग परेड मैदान में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में ध्वजारोहण करेंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 25 जनवरी को भिलाई-3 से दोपहर 12 बजे हेलीकाफ्टर द्वारा रवाना होकर एक बजे कारली, जिला दंतेवाड़ा पहुंचेंगे और वहां पुलिस लाइन में 1.05 बजे से आयोजित ‘मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान‘ कार्यक्रम में शामिल होंगे। श्री बघेल दोपहर 1.35 बजे दंतेश्वरी मंदिर में दर्शन के बाद 2.35 बजे शासकीय दंतेश्वरी महाविद्यालय पहुंचकर वहां ‘बस्तर से गणतंत्र की बात‘ कार्यक्रम में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री श्री बघेल दंतेवाड़ा से शाम 4.40 बजे जगदलपुर आएंगे और शाम 6.30 बजे शासकीय कृषि महाविद्यालय, कुम्हरावंड
रायपुर : बस्तर संभाग में 50 लाख रूपए और अन्य संभागों में 20 लाख रूपए तक की निविदाएं अब मैनुअल पद्धति से

रायपुर : बस्तर संभाग में 50 लाख रूपए और अन्य संभागों में 20 लाख रूपए तक की निविदाएं अब मैनुअल पद्धति से

business, chhattisgarh, News
रायपुर. बस्तर संभाग क्षेत्र के अंतर्गत 50 लाख रूपए तक के निर्माण कार्यों की निविदाएं मैनुअल पद्धति से आमंत्रित की जाएगी। इम्पावर्ड कमेटी फॉर इन्फोरमेशन टेक्नोलॉजी प्रोजेक्ट की 13 जनवरी को हुई बैठक में निर्णय लिया गया है। इसी प्रकार बैठक में राज्य के अन्य संभागीय क्षेत्रों में 20 लाख रूपए तक के निर्माण कार्यों की निविदाएं भी मैनुअल पद्धति से आमंत्रित करने की अनुमति प्रदान की गई है। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि ई-प्रोक्यूरमेंट पोर्टल में आवश्यकतानुसार संशोधन और सुधार करते हुए मैनुअल पद्धति से आमंत्रित समस्त निविदाओं से संबंधित अन्य जानकारी यथा निविदा क्रमांक, निविदा का विवरण, निविदा की तिथि, न्यूनतम निविदाकार, कार्यादेश की प्रति आदि की जानकारी प्रदर्शित की जाए। इस संबंध में राज्य शासन के लोक निर्माण विभाग द्वारा आज मंत्रालय (महानदी भवन) से आदेश जारी किया गया है। यह आदेश तत्काल प्
‘आमचो संकल्प मलेरिया मुक्त बस्तर‘ का ग्राम चारगांव से हुआ आगाज, 15 जनवरी से 14 फरवरी चलेगा मलेरिया मुक्ति अभियान

‘आमचो संकल्प मलेरिया मुक्त बस्तर‘ का ग्राम चारगांव से हुआ आगाज, 15 जनवरी से 14 फरवरी चलेगा मलेरिया मुक्ति अभियान

chhattisgarh, News
बस्तर | विकासखण्ड कोण्डागांव के ग्राम चारगांव में आज कलेक्टर नीलकंठ टीकाम द्वारा मलेरिया मुक्ति के लिए चलाये जा रहे संभाग स्तरीय अभियान का जिले में शुभारंभ किया। ‘आमचो संकल्प मलेरिया मुक्त बस्तर‘ अभियान के शुरुवात पर कलेक्टर ने कहा कि कुछ वर्ष पूर्व तक पोलियो, चेचक जैसे रोगो को समाप्त करना एक परिकल्पना प्रतीत होता था। परन्तु निरंतर प्रयासों से आज इन रोगो से हमारा देश मुक्त हो चुका है इसी प्रकार संकल्प के द्वारा हमें मलेरिया को जड़ से उखाड़ फेकना है। सुपोषण का लक्ष्य भी तभी सफल हो पायेगा जब हम बच्चों को मलेरिया जैसे रोगो से बचा पायेंगे, क्योंकि ये रोग बच्चों में खून की कमी एवं कमजोरी लाते है जो इन्हें भविष्य में समर्थवान बनने से रोकता है। इस दौरान कलेक्टर ने मच्छरदानी लगाने अपने आस-पड़ोस में पानी जमा न होने देने एवं घरो के आस-पास साफ-सफाई रखने की अपील की साथ ही बीमार पड़ने पर तुरंत चिकित
रायपुर : किसानों से 36.43 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी, प्रदेश में अब तक 14.29 लाख मीट्रिक टन धान का कस्टम मिलिंग

रायपुर : किसानों से 36.43 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी, प्रदेश में अब तक 14.29 लाख मीट्रिक टन धान का कस्टम मिलिंग

chhattisgarh, News
रायपुर. खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में प्रदेश के किसानों से अब तक 36 लाख 34 हजार 508 मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई है। धान उपार्जन केन्द्रों से अब तक 14 लाख 29 हजार 6 सौ 86 मीट्रिक टन धान का कस्टम मिलिंग किया जा चुका है। पंजीकृत मिलरों को उपार्जन केन्द्रों से धान उठाने के लिए 16 लाख 67 हजार 143 मीट्रिक टन धान का डी.ओ. जारी कर दिया गया है। खाद्य विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह ने अधिकारियों को कस्टम मिलिंग में और तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश के बस्तर जिले में 14 हजार 543 मीट्रिक टन धान का कस्टम मिलिंग किया गया है। इसी प्रकार बीजापुर जिले में 36 हजार मीट्रिक टन धान, दंतेवाडा जिले में 262 मीट्रिक टन, कांकेर जिले में 39 हजार 682 मीट्रिक टन, नारायणपुर में 970 मीट्रिक टन, सुकमा में 1 हजार 476 मीट्रिक टन, जांजगीर-चांपा में एक लाख 57 हजार 809 मीट्रिक टन, कोरबा में 18 हजार 684 मीट्रिक ट
रायपुर सहित प्रदेशभर में मनाया जा रहा है नए साल का जश्न, मंदिर सहित बस्तर जैसे पर्यटन स्थलों में पहुंचे लोग

रायपुर सहित प्रदेशभर में मनाया जा रहा है नए साल का जश्न, मंदिर सहित बस्तर जैसे पर्यटन स्थलों में पहुंचे लोग

chhattisgarh, News, Videos
रायपुर | नए साल का आगाज हो चुका है। पूरे देश के साथ छत्तीसगढ़ में भी नए साल के स्वागत को लेकर लोगों में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। लोगों ने कई जगहों पर आतिशबाजियों और गीत संगीत के साथ नए साल का स्वागत किया। सब अलग-अलग तरह से नए साल यानी 2020 का स्वागत कर रहे हैं और इस पल को यादगार बना रहे हैं। रायपुर में रेस्तराओं, पबों, मॉल और अन्य स्थानों पर जोरदार ढंग से नए साल का स्वागत किया गया और पुराने साल को विदाई दी। हालांकि, इस अवसर पर सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम भी दिखे। सीएम बघेल ने समस्त प्रदेशवासियों को नए साल की शुभकामनाये दी। ट्ववीट करते हुए उन्होंने लिखा कि आप सबको नव वर्ष की बधाई एवं शुभकामनाएँ। यह वर्ष सभी देशवासियों के जीवन में ढेरों ख़ुशियाँ लेकर आए। हमारे समाज में भाईचारा एवं सौहार्द बढ़े, ऐसी मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ। हम सब नया साल 2020 का स्वागत करते हैं। आप
नक्सलगढ़ गांव पाहुरनार में लगा दंतेवाड़ा का सबसे बड़ा हेल्थ कैंप, पेड़ के नीचे ओटी बनाकर किया ऑपरेशन

नक्सलगढ़ गांव पाहुरनार में लगा दंतेवाड़ा का सबसे बड़ा हेल्थ कैंप, पेड़ के नीचे ओटी बनाकर किया ऑपरेशन

chhattisgarh, News, special, Videos
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले का नक्सगढ़ कहा जाने वाला गांव पाहुरनार। इस गांव में डेढ़ साल पहले नक्सलियों ने सरपंच पोसेराम की हत्या कर दी थी। अब इसी गांव में मंगलवार को जिले का सबसे बड़ा हेल्थ कैंप लगाया गया। इंद्रावती नदी पार कर पहली बार 300 जवानों के सुरक्षा घेरे में 20 से ज्यादा डॉक्टरों की टीम, 80 स्वास्थ्य कर्मचारी और ऑफिसर इस गांव में पहुंचे। जहां एक दिन का जिला अस्पताल खुला। खास बात यह रही कि पेड़ के नीचे ही ऑपरेशन थियेटर बनाकर दो ग्रामीणों की सर्जरी भी की गई। 2000 से ज़्यादा ग्रामीण यहां पहुंचे। इस दौरान 1734 ग्रामीणों ने अपना इलाज कराया। यहां ओपीडी खुली, फिजियोथेरेपी हुई, आंखों की जांच, ब्लड टेस्ट, हर तरह की बीमारियों की जांच कर दवाइयां दी गईं। नारायणपुर, बीजापुर ज़िले के 2000 से ज्यादा ग्रामीण पहुंचे https://youtu.be/WGYslWWIqOc पाहुरनार में पेड़ की छांव तले
जेल में बंद निर्दोष आदिवासियों के रिहाई के लिए आज किया गया आंदोलन, हजारो आदिवासी जुटे

जेल में बंद निर्दोष आदिवासियों के रिहाई के लिए आज किया गया आंदोलन, हजारो आदिवासी जुटे

chhattisgarh, News, Videos
बस्तर (एजेंसी) | बस्तर की जेलों में बंद निर्दोष आदिवासियों की रिहाई के लिए आज एक दिवसीय आंदोलन किया गया। सामजिक कार्यकर्ता और आप नेत्री सोनी सोरी ने इलाके के एक दर्जन सरपंचों के साथ दंतेवाड़ा पहुंचकर एसडीएम से आंदोलन किया। एसडीएम ने 9 अक्टूबर को कुआकोंडा में पांच से 6 हजार लोगों की भीड़ के साथ सिर्फ एक दिन आंदोलन करने की अनुमति दे दी थी। इससे पहले सभी अनिश्चितकालीन आंदोलन करने की मांग कर रहे थे। अब एक दिन की अनुमति के बाद भी आंदोलन जारी रखने की बात कही जा रही है। https://youtu.be/QyKMSoVSJhU मिली जानकारी के अनुसार 5 अक्टूबर से दंतेवाड़ा, सुकमा और बीजापुर के आदिवासी बस्तर की अलग-अलग जेलों में बंद निर्दोष आदिवासियों की रिहाई की मांग को लेकर पालनार में डटे हुए हैं। आदिवासियों को कुआकोंडा से अनिश्चितकालीन आंदोलन की शुरुआत करनी थी लेकिन आंदोलन के लिए वैधानिक अनुमति नहीं मिलने के कारण
नवरात्रि विशेष: जानिए बस्तर की कुलदेवी माँ दंतेश्वरी के बारे में

नवरात्रि विशेष: जानिए बस्तर की कुलदेवी माँ दंतेश्वरी के बारे में

chhattisgarh, News, tourism, Videos
दन्तेश्वरी मंदिर जगदलपुर शहर से लगभग 84 किमी (52 मील) स्थित है। माता दंतेश्वरी का यह मंदिर बहुत ही प्रसिद्ध एवं पवित्र मंदिर है, यह माँ शक्ति का अवतार है। माना जाता है कि इस मंदिर में कई दिव्य शक्तियां हैं। दशहरा के दौरान हर साल देवी की आराधना करने के लिए आसपास के गांवों और जंगलों से हजारों आदिवासी आते हैं। यह मंदिर जगदलपुर के दक्षिण-पश्चिम में दंतेवाड़ा में स्थित है और यह पवित्र नदियां शंकिणी और डंकिनी के संगम पर स्थित है, यह छह सौ वर्ष पुराना मंदिर भारत की प्राचीन विरासत स्थलों में से एक है और यह मंदिर बस्तर क्षेत्र का सांस्कृतिक-धार्मिक-सामाजिक का प्रतिनिधित्व है। आज का विशाल मंदिर परिसर इतिहास और परंपरा की सदियों से वास्तव में खड़ा स्मारक है। इसके समृद्ध वास्तुशिल्प और मूर्तिकला और इसके जीवंत उत्सव परंपराओं का प्रमाण है। दंतेश्वरी माई मंदिर इस क्षेत्र के लोगों के लिए सबसे महत्वपूर्ण
दंतेवाड़ा उपचुनाव: गांवों में लोगों के सवाल-4 महीना पहले तो वोट डाले थे, अब फिर क्यों! अंदरूनी गांवों में चुनाव को लेकर ज्यादातर मतदाताओं को कोई जानकारी नहीं

दंतेवाड़ा उपचुनाव: गांवों में लोगों के सवाल-4 महीना पहले तो वोट डाले थे, अब फिर क्यों! अंदरूनी गांवों में चुनाव को लेकर ज्यादातर मतदाताओं को कोई जानकारी नहीं

chhattisgarh, News
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में उपचुनाव को लेकर राजनीतिक दल जोर-आजमाइश में लगे हैं, लेकिन मुख्य सड़क छोड़ दें तो अंदरूनी गांवों में चुनाव को लेकर कोई खास उत्साह नहीं दिख रहा है। मतदाता या तो मुद्दों को लेकर मौन हैं या उदासीन बने हैं। दंतेवाड़ा से 20 किमी दूर जिस मेटापाल में चार दिन पहले 16 सितंबर को सीएम भूपेश बघेल सभा लेकर लौटे और उसी जगह पर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की सभा को अनुमति नहीं मिली, वहीं साप्ताहिक बाजार में खास चुनावी उत्सुकता नहीं दिखी। बाजार के बाहर तोरण और पोस्टर, लेकिन मतदान की जानकारी नहीं दंतेवाड़ा विधानसभा उपचुनाव के लिए शनिवार को प्रचार का अंतिम दिन है। यहां पर 23 सितंबर को मतदान होना है। भास्कर ने वोटरों का मन टटोलने इस बाजार का जायजा लिया। बाजार के बाहर चुनावी चिह्न वाले तोरण और पोस्टर लगे थे। बाजार में कावड़गांव, मेंडोली, जारम, लखापाल, मुस्केल, तो
छत्तीसगढ़: गीदम में ढाई घंटे के रोड-शो में बोले भूपेश विकास रुका पर भाजपा के ठेकेदारों का

छत्तीसगढ़: गीदम में ढाई घंटे के रोड-शो में बोले भूपेश विकास रुका पर भाजपा के ठेकेदारों का

News, politics
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | गीदम में गुरुवार को पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह के रोड शो के अगले दिन शुक्रवार को सीएम भूपेश बघेल ने करीब ढाई घंटे रोड-शो किया। इससे पहले दो दिनों तक दंतेवाड़ा में ओजस्वी मंडावी के समर्थन में डेरा डालने व सभाएं लेने के बाद डॉ. रमन सिंह गुरुवार की शाम वापस चले गए। प्रचार के आखिरी के दो दिन सीएम भूपेश बघेल ने खुद प्रचार की कमान संभाली है। शनिवार को पनेड़ा चौक से खुली गाड़ी में बैठे सीएम शहर के लोगों का अभिवादन करते हुए हारम चौक तक पहुंचे। यहां नुक्कड़ सभा में 12 मिनट लोगों को सं‍बोधित किया। सीएम ने कांग्रेस सरकार की ओर से किसानों के लिए की गई कर्जमाफी, धान खरीदी, हाट बाजारों के हेल्थ कैम्प, सुपोषण अभियान से लेकर तमाम काम गिनाए। उन्होंने कहा कि सालभर पहले भाजपा की सरकार में मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कार्यकर्ताओं को कहा था 1 साल कमीशनखोरी बंद कर दो 30 साल तक राज करेंगे। लेकिन