chhattisgarh news media & rojgar logo

Tag: bamleshwari mata

नवरात्रि विशेष : मां बम्लेश्वरी मंदिर डोंगरगढ़, राजनांदगाव के बारे में जानिए

नवरात्रि विशेष : मां बम्लेश्वरी मंदिर डोंगरगढ़, राजनांदगाव के बारे में जानिए

chhattisgarh, News, special, tourism, Videos
छत्तीसगढ़ राज्य के राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ में स्थित है मां बम्लेश्वरी का भव्य मंदिर। पहाड़ों से घिरे होने के कारण इसे पहले डोंगरी और अब डोंगरगढ़ के नाम से जाना जाता है। यहां ऊंची चोटी पर विराजित बगलामुखी मां बम्लेश्वरी देवी का मंदिर। छत्तीसगढ़ ही नहीं देश भर के श्रद्धालुओं के लिए आस्था का केन्द्र बना हुआ है। हजार से ज्यादा सीढिय़ां चढ़कर हर दिन मां के दर्शन के लिए वैसे तो देश के कोने-कोने से श्रद्धालु यहां आते हैं लेकिन नवरात्रि के दौरान अलग ही दृश्य होता है। जो ऊपर नहीं चढ़ पाते उनके लिए मां का एक मंदिर पहाड़ी के नीचे भी है जिसे छोटी बम्लेश्वरी मां के रूप में पूजा जाता है। अब मां के मंदिर में जाने के लिए रोप वे भी लगाया गया है। मंदिर का इतिहास  लगभग ढाई हजार वर्ष पूर्व इसे कामाख्या नगरी के नाम से जाना जाता था। यहाँ राजा वीरसेन का शासन था। वे नि:संतान थे। संतान की कामना के ल
नवरात्री पर डोंगरगढ़ के लिए निःशुल्क 4 बसें रोजाना चलेगी, पहले दिन 300 लोगो ने किए दर्शन

नवरात्री पर डोंगरगढ़ के लिए निःशुल्क 4 बसें रोजाना चलेगी, पहले दिन 300 लोगो ने किए दर्शन

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | नवरात्र पर डोंगरगढ़ जाने के लिए 9 दिन तक रोज 4 निशुल्क बसें चलेंगी। बुधवार को मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सीएम हाउस से झंडी दिखाकर इसकी शुरुआत की। पहले दिन करीब तीन सौ श्रद्धालुओं ने माता बम्लेश्वरी के दर्शन किए। अगले 8 दिनों तक रोज सुबह 9 बजे आकाशवाणी चौक से बसें रवाना होंगी। काेई भी व्यक्ति काली मंदिर में पंजीयन करवाकर निशुल्क डोंगरगढ़ यात्रा कर सकता है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); काली माता अन्नदान भंडारा समिति पिछले 6 सालों से नवरात्र पर डोंगरगढ़ दर्शन के लिए निशुल्क बसें चला रही है। यह आयोजन का सातवां साल है। पहले दिन करीब 300 श्रद्धालु सुबह 11 बजे डोंगरगढ़ के लिए रवाना हुए। माता के दर्शन कर सभी रात 9 बजे वापस राजधानी पहुंच गए। जाने के वक्त उन्हें खाने का पैकेट दिया गया था। वापसी के वक्त उन्हें राजनांदगांव में खाना खिलाया गया। इसके लिए किसी