Shadow

बड़े कांग्रेसी नेता से खुज्जी और डोंगरगढ़ के दो सीटो के साैदे का स्टिंग, सोशल मीडिया में वायरल

रायपुर (एजेंसी) | कांग्रेस प्रत्याशियों की घोषणा के ठीक पहले पार्टी में टिकटों का सौदा करने का खुलासा हुआ है।  इसका स्टिंग वीडियो वायरल हुअा है, जो तीन भागों में है। मीडिया के पास भी ये वीडियो पहुंचे। वीडियो में छत्तीसगढ़ के एक बड़े कांग्रेसी नेता अपनी ही पार्टी के केंद्रीय नेता का स्टिंग करने के बदले खुज्जी और डोंगरगढ़ सीट का साैदा करते दिख रहे हैं। स्टिंग आपरेशन से कांग्रेस में बवाल मच गया है। स्टिंग का वीडियो ऐसे समय आया है जब कुछ समय पहले ही कांग्रेस के भीतर टिकटों का सौदा करने की बात सामने आई थी। लेकिन नेता ऐसी किसी भी बात से इंकार कर रहे थे।




ये वीडियो नेशनल न्यूज चैनल टाईम्स नाउ (TIMES NOW) ने इसका पर्दाफाश करते हुए बताया कि कांग्रेस के एक लीडर ने अपने ही पार्टी के एक सीनियर नेता का स्टिंग करने के लिए पैसे के बदले दो सीट देने का प्रस्ताव दिया है। चैनल ने यह साफ किया कि कांग्रेस नेता की सीडी किसी और ने बनाई है, इसलिए उसका विजिअल नहीं दिखा रहा। लेकिन, उसके पास आडियो है। जिसमें कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता एक व्यक्ति से सीट का सौदा करते हुए सुनाई पड़ रहे हैं। हालांकि कैमरे में कैद हुए कांग्रेस नेता का नाम तो चैनल नहीं दिखाया है, लेकिन स्टिंग आपरेशन में एक पत्रकार से बातचीत करते हुए ये डील करते हुए कांग्रेस नेता दिखाये जा रहे हैं।

विडियो देखे 

विडियो नं. – 1

वीडियो नं. -2

वीडियो में आ रहे उन दो लोगों के नाम, जिनकी अंतागढ़ टेप कांड में महत्वपूर्ण भूमिका रही

कांग्रेस नेताओं की बातचीत की एक नई सीडी सामने अाने के बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि इनको जनता पर नहीं सीडी पर भरोसा है। इनको सिर्फ सत्ता चाहिए। इसके लिए ये किसी भी हद तक गिर सकते हैं। किसी का भी कहीं भी उपयोग कर सकते हैं। चाहे अपनी पार्टी के नेताओं को ही क्यू न फंसाना पड़े। कांग्रेस को सिर्फ सरकार चाहिए। वे सीडी की बदौलत चुनाव जीतना चाहते हैं।

वही कांग्रेस प्रवक्ता शैलेष नितिन त्रिवेदी ने कहा कि ये भाजपा आैर भाजपा के सहयोगियों द्वारा किया गया कृत्य है। इस मामले में कांग्रेस के किसी नेता कोई हाथ नहीं है।’ विधायक अमित जोगी ने कहा कि यह कांग्रेस पार्टी का आंतरिक मामला है। यह कोई नई बात नहीं है। वहां इस तरह की बातें होती रहती हैं। छत्तीसगढ़ में सीडी की जो गंदी राजनीति हो रही है, यह नहीं होनी चाहिए। सीडी की जगह सीजी की राजनीति होनी चाहिए।

वीडियो में जिन दो लोगों के नाम आ रहे हैं, उनका संबंध अंतागढ़ टेप कांड से रहा। इनमें फोन पर बात करने वाला कांग्रेसी नेता पार्टी के एक बड़े पदािधकारी का करीबी है। दूसरा व्यक्ति कारोबारी है और अंतागढ़ कांड में उसकी प्रमुख भूमिका रही।



RO-11243/71

Leave a Reply