chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

लोकसभा चुनाव 2019: जोगी कांग्रेस नहीं लड़ेगी चुनाव, सभी 11 सीटों पर बसपा उतारेगी प्रत्याशी

रायपुर (एजेंसी) | जोगी कांग्रेस लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेगी। प्रदेश की सभी 11 सीटों पर बसपा अपने प्रत्याशी उतारेगी। हालांकि, जनता कांग्रेस ने बसपा के साथ गठबंधन का दावा करते हुए चुनाव में उतरने की बात की थी, लेकिन बसपा ने लगातार तीन सूची जारी कर 8 लोकसभा सीटों के लिए अपने प्रत्याशियों के नाम घोषित कर दिए। इसके बाद से गठबंधन के चुनाव में उतरने को लेकर संशय की स्थिति उत्पन्न हो गई। इस संशय को दूर करने के लिए पहले तो अमित जोगी ने कोरबा से अजीत जोगी के चुनाव लड़ने के संकेत दिए।

बाद में अजीत जोगी ने खुलकर कोरबा सीट से चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया। इसके साथ ही पार्टी ने लोरमी विधायक धर्मजीत सिंह को बिलासपुर सीट से चुनाव में उतारने के संकेत दिए। हालांकि पार्टी ने रायपुर सीट को लेकर कभी अपना पत्ता नहीं खोला, लेकिन माना जाने लगा था कि लोकसभा में बसपा 8 सीटों पर और जोगी कांग्रेस 3 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

बसपा ने रायपुर समेत बची तीन सीटों के लिए नामांकन पत्र खरीदे

सूत्रों के अनुसार बसपा ने शेष तीन सीटों रायपुर, बिलासपुर और कोरबा सीट के लिए भी नामांकन पत्र खरीद लिया है। बसपा ने ये नामांकन पत्र पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी से चर्चा के बाद खरीदे हैं। ऐसे में स्पष्ट है कि जनता कांग्रेस लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेगी। बता दें कि बसपा ने पहले ही प्रदेश की 8 सीटों के लिए अपने प्रत्याशी घोषित कर चुकी है।

इसलिए पीछे हटी जोगी कांग्रेस

विधानसभा चुनाव में गठबंधन में चुनाव लड़ने वाली बसपा और जोगी कांग्रेस की अपनी-अपनी मजबूरी है। राष्ट्रीय दल का दर्जा बचाने के लिए उसे पूरे देश में वोट प्रतिशत बढ़ाना है। ऐसे में वह जनाधार वाले प्रदेशों में ज्यादा से ज्यादा सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारकर वोट प्रतिशत बढ़ाने की रणनीति पर काम कर रही है। दूसरी तरफ जोगी कांग्रेस को खुद को क्षेत्रीय पार्टी के रूप में स्थापित करना है।

ऐसे में उसका लक्ष्य निकाय चुनाव है। बताया जा रहा है कि प्रदेश में भी जोगी कांग्रेस और बसपा के बीच इस बात को लेकर समझौता हुआ है कि लोकसभा के चुनाव में जोगी कांग्रेस बसपा के पक्ष में वोट डलवाने में मदद करेगी। इसके एवज में जोगी कांग्रेस निकाय चुनावों में बसपा की मदद लेगी। इसके अलावा जोगी कांग्रेस के पीछे हटने की एक और वजह यह है कि विधानसभा चुनाव के बाद कई दिग्गज नेताओं ने पाला बदलते हुए कांग्रेस का दामन थाम लिया है। ऐसे में फिलहाल संगठन को एकजुट रखने की बड़ी चुनौती सामने है।

Leave a Reply