chhattisgarh news media & rojgar logo

लोकसभा चुनाव 2019: साफ़ हुई तस्वीर रायपुर सीट से बृजमोहन नहीं, पूर्व महापौर सुनील सोरी लड़ेंगे चुनाव, भाजपा ने सभी 11 सीटों के लिए प्रत्याशियों की घोषणा की

रायपुर (एजेंसी) | लोकसभा चुनाव के लिए प्रदेश भाजपा ने आज शाम रविवार को बाकी बची छह लोकसभा सीटों के लिए  प्रत्याशियों के नामों की घोषणा कर दी है। पार्टी ने रायपुर से सुनील सोरी और राजनांदगांव सीट से संतोष पांडेय को उम्मीदवार बनाया है। इसके साथ विधायक बृजमोहन अग्रवाल और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के लोकसभा चुनाव लड़ने की अटकलों पर विराम लग गया है।

भाजपा ने इस बार बड़ा दांव चलते हुए मुख्यमंत्री के गढ़ दुर्ग से उनके ही भतीजे और पूर्व संसदीय सचिव विजय बघेल को मैदान में उतारा है। वही पूर्व सांसदों के टिकट काटे जाने के बाद भी पार्टी से नाराज़ नहीं होने पर पूर्व सीएम रमन सिंह ने तारीफ की।

दिल्ली में हुई मंथन बैठक के बाद रमन सिंह ने ही की नामों की घोषणा

इससे पहले दिल्ली में केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में प्रत्याशियों को लेकर मंथन हुआ। इसमें छत्तीसगढ़ से भाजपा नेता रमन सिंह, विक्रम उसेंडी, धरमलाल कौशिक, रामविचार नेताम शामिल हुए। सुबह लौटने पर पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में नाम फाइनल हो गए हैं।

सभी नेताओं की बीच टिकट को लेकर आम सहमति बनी है। टिकट कटने वाले सांसदों में कहीं कोई नाराजगी नहीं है। रमन सिंह ने पहले ही साफ कर दिया था कि किसी भी वर्तमान सांसद को टिकट नहीं दिया जा रहा है।

पूर्व सीएम सिंह ने रायपुर सांसद रमेश बैस की तारीफ की

पूर्व सीएम सिंह ने रायपुर सांसद रमेश बैस की तारीफ करते हुए कहा कि सात बार के सांसद रहने के बाद टिकट कटने से भी नाराज नहीं हैं। उन्होंने खुलकर कहा कि वे पार्टी के निर्णय के साथ हैं। इसी तरह केंद्रीय मंत्री विष्णु देव साय ने भी टिकट कटने से कहीं कोई नारजगी नहीं दिखाई। ये भाजपा है जहां नेता पार्टी के प्रति समर्पित हैं।

नेता अनुशासन के साथ रहते हैं। इसके साथ ही शाम को रमन सिंह ने लोकसभा चुनाव के लिए छह उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की। इसमें कोरबा से ज्योतिनंद दुबे, बिलासपुर से अरुण साव और महासमुंद से चुन्नी लाल साहू को टिकट दिया गया है।

Leave a Reply