chhattisgarh news media & rojgar logo

अश्लील सीडी कांड के मुख्य आरोपी कैलाश मुरारका का कोर्ट में सरेंडर, कुछ ही घंटों में जमानत

रायपुर (एजेंसी) | प्रदेश के मंत्री राजेश मूणत की कथित चर्चित सेक्स सीडी मामले के मुख्य आरोपी पूर्व भाजपा नेता कैलाश मुरारका ने बुधवार को सीबीआई की विशेष कोर्ट के समक्ष सरेंडर कर दिया। हालांकि कुछ घंटों बाद ही मुरारका को जमानत भी मिल गई। मुरारका को एक लाख रुपए के मुचलके पर कोर्ट ने जमानत दे दी। सीबीआई कोर्ट में चालान पेश हाेने के बाद तीन दिन से ही मुरारका फरार चल रहे थे। श्लील सीडी मामले में नाम आरोप तय होने के बाद प्रदेश भाजपा ने उन्हें पार्टी से निष्काषित कर दिया है।

सरेंडर करने के साथ ही लगाई थी जमानत याचिका

कैलाश मुरारका ने आज बुधवार को कोर्ट में सरेंडर करने के साथ हीअपनी जमानत के लिए अग्रिम याचिका भी दाखिल कर दी थी। इस पर कुछ ही देर में कोर्ट ने जमानत स्वीकार कर ली। इससे पूर्व सोमवार को जांच एजेंसी ने कोर्ट में चालान पेश किया गया था, जिसमें कैलाश मुरारका, भूपेश बघेल, विनोद वर्मा, विजय भाटिया, दिवंगत रिंकू खनूजा और विजय पांडया को आरोपी बनाया गया है।




भाजपा ने किया पार्टी से निष्कासित

सीबीआई की ओर से चालान पेश होने के बाद कैलाश मुरारका और विजय पांडया कोर्ट में उपस्थित नहीं हुए थे। इसके बाद अटकलें लग रहीं थी कि कैलाश मुरारका फरार हो सकते हैं। इसी बीच सीडी कांड में कोर्ट द्वारा आरोप तय होने के बाद मंगलवार को भाजपा ने कैलाश मुरारका को पार्टी से निष्कासित कर दिया। मुरारका पर आरोप है कि अश्लील सीडी बनाने का आईडिया उसी का था और 75 लाख रुपए देकर सीडी बनवाई थी।

कई बडे़ चेहरे करूंगा बेनकाब- कैलाश मुरारका

सीबीआई कोर्ट से जमानत मिलने के बाद कैलाश मुरारका ने कहा है कि मै इस मामले से जुड़े कई बड़े चेहरों को बेनकाब करूंगा। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जल्द ही दिल्ली ही प्रेस कांफ्रेंस होगी। उन्होंने कहा कि मैं जिनको राम मानता था वे रावण निकले।

प्रदेश की राजनीति में भूचाल

दूसरी ओर सीडी कांड मामले में कोर्ट ने आरोप तय होने के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। बघेल के जमानत से इनकार करने के बाद प्रदेशभर में कांग्रेसी प्रदर्शन कर रहे हैं।



Leave a Reply