chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

सीटों पर भितरघातियों से परेशान कांग्रेस प्रत्याशी, पुनिया, बघेल से शिकायत कर कार्यवाही की मांग, राजीव भवन में हुई बैठक

रायपुर (एजेंसी) | अभी हाल ही में संपन्न हुए छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस के प्रत्याशी 25 से ज्यादा सीटों पर अपनी ही पार्टी के नेताओं से परेशान रहे। उन्होंने इस सम्बन्ध में बुधवार को प्रदेश प्रभारी पी एल पुनिया और पीसीसी चीफ भूपेश बघेल के सामने अपनी व्यथा बयान की। अधिकांश प्रत्याशियों ने पार्टी द्वारा चयनित प्रत्याशी के लिए काम नही किया बल्कि, अन्य दल के लोगों को अपनी ही पार्टी की कमजोरी बताते रहे।

वहीं कुछ नेता तो घरों से निकले ही नहीं, और कुछ निकले भी तो पार्टी के लिए काम नहीं किया। शिकायत करने वाले लगभग सभी प्रत्याशियों ने ऐसी ही बातें अपने नेताओ को बताई। शिकायत करने वाले नेताओं ने ऐसे भितरघातियों पर परिणाम आने के पहले कार्रवाई करने की मांग की है।




बुधवार को राजीव भवन में विधानसभा चुनाव लड़ने वाले प्रदेश के सभी 90 प्रत्याशियों के अलावा जिले और ब्लॉक स्तर के प्रतिनिधियों को बुलाया गया था। प्रदेश के सभी बड़े नेताओं की मौजूदगी में हुई इस बैठक में नए पुराने सभी नेताओं ने चुनाव में साथ नही देने वाले नेताओं को पार्टी से बाहर करने की मांग की है। संकेत हैं कि 11 दिसंबर को नतीजों के बाद इन पर कार्रवाई की जाएगी। वह भी सरकार बनने की स्थिति में क्योंकिपार्टी को 6 माह बाद लोकसभा चुनाव भी लड़ना है।
किसकी क्या शिकायत रही 

  • पश्चिम विधानसभा के प्रत्याशी विकास उपाध्याय ने हरदीप बेनीपाल,वंदना गुप्ता और सुबोध हरितवाल की शिकायत की। उन्होंने कुछ तथ्य भी दिए हैं।
  • उत्तर के प्रत्याशी कुलदीप जुनेजा ने तेलीबांधा में पिता-पुत्र की जोड़ी के काम नहीं करने की शिकायत की है। दोनों ने पोलिंग के दिन कुछ लोगों को बस में बिठाकर बाहर भेज दिया।
  • ग्रामीण विधानसभा प्रत्याशी सत्यनारायण शर्मा ने अपनी शिकायत में कहा कि मोवा के पार्षद से किसी भी तरह का कोई सहयोग नहीं मिला। पूरे चुनाव में पार्षद ने काम नहीं किया।
  • गुरमुख सिंह होरा ने पार्टी के ही एक कद्दावर नेता पर एक निर्दलीय प्रत्याशी खड़ा करने की शिकायत की। यह स्वयं टिकट के दावेदार रहे हैं।
  • शैलेष पांडे ने भी संकेतों में बिलासपुर में दूसरे दावेदार के सहयोग और असहयोग की विस्तृत जानकारी दी।
  • कवर्धा ,पंडरिया के लोगों ने पूर्व विधायक योगीराज सिंह की भूमिका की शिकायत की है।

इन सीटों पर भितरघात की शिकायत

राजनांदगांव, रायपुर पश्चिम, रायपुर उत्तर, रायपुर ग्रामीण, आरंग, धरसींवा, भाटापारा, बसना, सराईपाली, महासमुंद, धमतरी, कुरूद, बिलासपुर, कोटा, अहिवारा, कोरबा, कवर्धा, पंडरिया, चंद्रपुर, दुर्ग ग्रामीण, रायगढ़, लोरमी, नवागढ़, बिलाईगढ़ कसडोल जैसी सीटें शामिल हैं। ये सब सीटें त्रिकोणिय संघर्ष में फंसी हुई हैं, जहां बसपा के साथ जोगी कांग्रेस और निर्दलियों का भी दबदबा है।



Leave a Reply