Shadow

दो सीटों का सौदा करने वाले कथित सीडी के सामने आने के बाद भाजपा और कांग्रेस में छिड़ी तीखी बहस

रायपुर (एजेंसी) | डोंगरगढ़ और खुज्जी की सीट का सौदा करते दिख रहे कथित सीडी के जारी होने के बाद मंगलवार को 5 मिनट का एक नया वीडियो जारी हुआ है, जिसमें कांग्रेस केे प्रमुख पदाधिकारी के भिलाई स्थित बंगले में सीडी बनाने वाले फिरोज सिद्दिकी और जनता से रिश्ता अख़बार के प्रधान संपादक पप्पू फरिश्ता उनसे डील करते हुए दिख रहे हैं। इस डील में कांग्रेस के केंद्रीय नेता और राज्य के सीएम पद के दो नेताओं को बदनाम करने के लिए सीडी बनाने का जिक्र आया है। लिहाजा सीडी पर भाजपा-कांग्रेस के बीच जुबानी जंग तेज हाे गई है। वही भाजपा ने कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने का आरोप लगाया तो कांग्रेस ने अंतागढ़ टेप कांड की जांच की मांग की है।

वीडियो देखे 

सीएम ने दिया जाँच का भरोसा  

कांग्रेस नेता की सीडी के बदले दूसरे नेता से सीटों के सौदे पर मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह ने कहा कि राजनीति में हम कहां तक जाएंगे इसकी कोई सीमा नहीं है। यदि किसी दल की ओर से शिकायत मिली तो जांच की जाएगी। भाजपा विधायक व प्रदेश प्रवक्ता शिवरतन शर्मा ने चुनाव आयोग से मांग की है कि कांग्रेस की मान्यता खत्म कर दी जाए। शर्मा ने सीडी कांड पर कांग्रेस पर हमला बोलते हुए पत्रकार वार्ता में कहा कि कभी जिस दल में गांधी जी थे उसके नेता सीडी का सहारा लेकर गंदी राजनीति कर रहे हैं। सीडी का यह मामला आपराधिक षड्यंत्र है। इसकी जांच होनी चाहिए। जिस तरह लगातार कांग्रेस के सीडी के मामले आ रहे हैं, उससे छत्तीसगढ़ का सर शर्म से झुका जा रहा है। पहले एक अश्लील सीडी का मामला आया, जिसकी सीबीआई जांच हुई और कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष फिलहाल ज़मानत पर हैं। अब यह नया खुलासा हुआ है। प्रदेश आज शर्मिन्दा है। ऐसा लग रहा था कि कांग्रेस का राष्ट्रीय नेतृत्व इस मामले को संज्ञान में लेगा, लेकिन अब लगता है कि राष्ट्रीय नेतृत्व भी ऐसी घटनाओं में बराबर का भागीदार है।




सभी सीडी की जांच हो: सिंहदेव

नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने कहा कि सरकार पहले इंदिरा प्रियदर्शनी बैंक की सीडी, अंतागढ़ की सीडी, झीरम कांड की सीडी की सत्ययता प्रमाणित करे फिर हम इस सीडी के बारे में बात करेंगे। कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि अंतागढ़ में लोकतंत्र का चीरहरण करने वाली पार्टी के नेता का बयान ठीक वैसा ही है जैसे दुशासन नारी अस्मिता पर प्रवचन दे रहा हो। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 में अंतागढ़ में हुए उपचुनाव में कांग्रेस के अधिकृत प्रत्याशी को खरीदकर चुनाव मैदान से हटा दिया गया था। वही लोग अब हायतौबा मचा रहे हैं। मंतूराम पवार समेत 11 निर्दलीयों को खरीदने के समय ऐसी नैतिकता की बातें नहीं हुई थीं।

तीन हजार सीडी है मेरे पास: फिरोज 

प्रदेश कांग्रेस के प्रमुख पदाधिकारी को एक्सपोज करने के लिए यह सीडी बनाई है। उसका आरोप भी है- ये पदाधिकारी अपने ही केंद्रीय नेता को सीडी बनाकर बदनाम करना चाहते हैं। उन्होंने कांग्रेस के सीएम पद के दावेदार दो अन्य नेताओं की सीडी बनाने की भी सहमति दी है। फिरोज ने कहा कि केंद्रीय नेता के सीडी होने की बात कही जा रही है, वह सही है। उनकी सीडी है। फिरोज के अनुसार बातचीत के लिए उसने पप्पू फरिश्ता को इसलिए चुना क्योंकि उसका कांग्रेस नेताओं से संबंध है। पप्पू को यह बात पता थी कि मैं रिकार्डिंग कर रहा हूं। उसने दावा किया कि उसके पास 3 हजार से अधिक सीडी है जिनमें कई सीडी बड़े नेताओं की है। उसने यह भी दावा किया कि वह 32 कैमरों से घिरा रहता है इसलिए कोई उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकता। उल्लेखनीय है कि फिरोज का नाम अंतागढ़ टेप कांड के अलावा जग्गी हत्याकांड में भी आ चुका है।



Leave a Reply