chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

कांग्रेसियो पर लाठीचार्ज करने वाले एसपी नीरज चंद्राकर हटाए गए, मुख्यमंत्री ने जारी किया आदेश

रायपुर (एजेंसी) | मंगलवार को बिलासपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओ पर हुए लाठीचार्ज की घटना से सियासत गरम होने के बाद एडिशनल एसपी नीरज चंद्राकर को मुख्यमंत्री के आदेश के बाद हटा दिया गया है। मुख्यमंत्री ने बुधवार को सूरजपुर में हुई प्रेस कांफ्रेंस में इसकी घोषणा की। इसे लेकर आज गुरुवार को आदेश जारी कर दिए गए। एडिशनल एसपी चंद्राकर मजिस्ट्रेटियल जांच होने तक पुलिस मुख्यालय से अटैच रहेंगे। संभवत : यह पहला मौका है, जब किसी अधिकारी को हटाने की घोषणा सीएम ने प्रेसवार्ता में की है।

एसपी नीरज चंद्राकर के नेतृत्व में चलीं थी लाठियां

भाजपा के मंत्री अमर अग्रवाल के आवास पर 18 सितंबर को कूड़ा फेंकने के बाद सभी कार्यकर्ता कांग्रेस भवन में बैठे हुए आगे की रणनीति बना रहे थे। तभी पुलिस कांग्रेस भवन के अंदर घुसी और सभी कांग्रेसियों पर लाठीचार्ज कर दिया। बाद में सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओ को पुलिस बस में बिठाकर थाने ले गई। इसमें कांग्रेस के महामंत्री अटल श्रीवास्तव समेत कई कार्यकर्ता गंभीर रूप से घायल हो गए थे। आरोप है कि पुलिस की ओर से यह सारी कार्रवाई एडिशनल एसपी नीरज चंद्राकर के नेतृत्व में की गई।




मोदी की हुकूमत में तानाशाही  

बिलासपुर में हुए लाठीचार्ज मामले का मुद्दा गरमाने के बाद छत्तीसगढ़ में राजनीतिक भूचाल आ गया है। इस घटना की सभी निंदा कर रहे हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इसे मोदी की हुकूमत में तानाशाही पेशा करार दिया था। बिलासपुर में रमन सिंह की सरकार द्वारा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के मौलिक अधिकारों पर बुज़दिली से किए गए इस प्रहार को वहाँ की जनता सियासी ज़ुल्म के रूप में याद रखेगी

कॉग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल ने मुख्यमंत्री को तानाशाह कह दिया और कहा कि इस बार सिर्फ और सिर्फ जनता का ब्रह्मास्त्र चलेगा। छत्तीसगढ़ को अब इस तानाशाही और जंगलराज से मुक्ति चाहिए।


भूपेश बघेल ने दी थी सरकार को चेतावनी

प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज मामले को अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर सरकार को तानाशाह करार दिया था। उन्होंने कहा कि 20 सितंबर यानी 24 घंटे में दोषी अफसरों पर कार्रवाई नहीं की गई तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 22 सितंबर को छत्तीसगढ़ की धरती पर जोरदार स्वागत किया जाएगा।



RO No - 11069/ 14
CM Bhupesh Bhagel Mandi ko Maar

Leave a Reply