chhattisgarh news media & rojgar logo

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जलाए गए दस्तावेजों की रिपोर्ट मंगवाई, अफसरों को चेताया फाइल नष्ट की तो होगी कार्रवाई

रायपुर (एजेंसी) | राज्य सरकार ने किसी भी सरकारी कार्यालय के अभिलेखों को आनन-फानन में नष्ट नहीं करने की सख्त हिदायत दी है। इसका उल्लंघन करने पर संबंधित अधिकारी-कर्मचारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी गई है। बतौर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के कार्यभार संभालने से ठीक  पहले अवंति विहार में इंटेलिजेंस विभाग के अफसरों ने  गोपनीय माने जा रहे  दो ट्रक दस्तावेज जलाए थे। अगले ही दिन गृहमंत्री पैकरा के घर में भी फाइलों को जलाया गया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसे गंभीरता से लिया है।

बघेल के निर्देश पर इंटेलिजेंस और गृहमंत्री के घर जलाए गए दस्तावेजों की रिपोर्ट मांगी गई है। सामान्य प्रशासन विभाग ने सभी अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिवों, सचिवों और विशेष सचिवों को सरकुलर भेजा है। इसमें सरकारी अभिलेखों को नष्ट न करने की सख्त हिदायत दी गई है। जीएडी को मीडिया से लगातार खबरें मिल रही हैं कि कुछ विभागों और पूर्व मंत्रियों के बंगलों में फाइलों और अभिलेखों को आनन-फानन में नष्ट किया जा रहा है।




सरकार बदलते ही इंटेलिजेंस और गृह मंत्री के घर जलाए गए दस्तावेजों के मामले को संज्ञान में लेते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कार्रवाई की बात कही है। साथ ही छत्तीसगढ़ शासन ने किसी भी सरकारी कार्यालय के अभिलेखों को नष्ट न करने की सख्त हिदायत दी है। अगर किसी अधिकारी-कर्मचारी ने इन निर्देशों का उल्लंघन किया तो उस पर कड़ी कार्रवाई होगी।

नई सरकार के सत्ता में आने से पहले अफसरों ने मिलकर सरकारी दस्तावेजों को आग के हवाले कर दिया था। अवंति विहार में इंटेलिजेस विभाग के अफसरों ने  गोपनीय माने जा रहे  दो ट्रक दस्तावेज जलाए थे। वहीं अगले ही दिन गृहमंत्री पैकरा के घर में भी दस्तावेज आग के हवाले किए गए थे।

मंत्रालय से मंगलवार को राज्य सरकार ने सभी विभागों को शासकीय कार्यालयों में अभिलेखों के सुरक्षित रख-रखाव के लिए कहा है। सामान्य प्रशासन विभाग ने सभी अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिवों, सचिवों और विशेष सचिवों को सरकुलर भेजा है। इसमें सरकारी अभिलेखों को आनन-फानन में नष्ट नहीं किए जाने की सख्त हिदायत दी गई है। इसमें कहा गया है कि इस संबंध में शासकीय मार्गदर्शिका और निर्देशों का उल्लंघन पाए जाने पर संबंधितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।



Leave a Reply