chhattisgarh news media & rojgar logo

politics

Exam Alert: छत्तीसगढ़ बोर्ड (CGBSE) परीक्षाओं के टाइम-टेबल जारी, 10वीं के 3.90 और 12वीं के 2.70 लाख विद्यार्थी होंगे शामिल

Exam Alert: छत्तीसगढ़ बोर्ड (CGBSE) परीक्षाओं के टाइम-टेबल जारी, 10वीं के 3.90 और 12वीं के 2.70 लाख विद्यार्थी होंगे शामिल

chhattisgarh, News, politics
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के स्टेट बोर्ड ने परीक्षाओं का एलान कर दिया है। मार्च 2020 में प्रदेश के स्कूलों के लाखों बच्चे जुट जाएंगे मिशन एग्जाम को फतह करने में। 2 मार्च से 12वीं और 3 मार्च से 10वीं कक्षाओं की परीक्षाएं होंगी। इन कक्षाओं के विषय वार परीक्षा की तरीखें तय कर दी गई हैं। गुरुवार को माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ने परीक्षा की समय-सारणी जारी की। दसवीं और बारहवीं दोनों कक्षाओं के परीक्षा की शुरुआत प्रथम भाषा विशिष्ट जैसे हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू, मराठी के साथ होगी। अमूमन परीक्षा 1 मार्च की तरीख से शुरू हो जाती है।  इस बार 1 मार्च 2020 को रविवार है, इसलिए परीक्षा 2 मार्च से शुरू होगी। माशिमं के अफसरों का कहना है कि परीक्षा केंद्रों का निर्धारण भी जल्द होगा। पिछली बार करीब ढ़ाई हजार केंद्रों पर बोर्ड परीक्षा हुई थी। बोर्ड परीक्षा के लिए आवेदन की प्रक्रिया खत्म हो चुकी है। दसवी
सामुदायिक अस्पताल में 35 बैगा-आदिवासी महिलाओं की नसबंदी, बेड न होने पर महिलाओं को जमीन पर लेटा दिया गया

सामुदायिक अस्पताल में 35 बैगा-आदिवासी महिलाओं की नसबंदी, बेड न होने पर महिलाओं को जमीन पर लेटा दिया गया

chhattisgarh, News, politics
छत्तीसगढ़ में संरक्षित बैगा-आदिवासी जनजाति की महिलाओं की नसबंदी पर प्रतिबंध है। इसके चलते क्षेत्र में बड़ी संख्या में महिलाएं नसबंदी कराने छग सीमा से लगे मध्यप्रदेश के सामुदायिक अस्पताल समनापुर (डिंडौरी) जाती है। गुरुवार को भी करीब 200 की संख्या में महिलाएं खुद के खर्च से गाड़ी किराया गए वहां गई थी। लापरवाही देखिए कि उस अस्पताल में पर्याप्त बेड (बिस्तर) नहीं था। इसके बावजूद एक के बाद एक 35 महिलाओं की नसबंदी कर दी गई। बेड न होने पर ऑपरेशन के बाद महिलाओं को जमीन पर लेटा दिया गया। फर्श पर लेटी महिलाएं ऐसी लग रही थी कि जैसे वे मरीज न होकर लाशें हैं। गुरुवार रात को जब अस्पताल में माहौल बिगड़ा, तो स्टाफ ने आनन-फानन में महिलाओं को वापस भेज दिया। ये सभी महिलाएं पंडरिया ब्लॉक के गांवों की रहने वाली है। दरअसल, अस्पतालों को महिला नसबंदी के लिए टारगेट दिया जाता है। सीमावर्ती इस अस्पताल में टारगे
सुकमा: जवानों को निशाना बनाने के लिए दो आईईडी ब्लास्ट, जवाबी कार्रवाई में दो नक्सली ढेर

सुकमा: जवानों को निशाना बनाने के लिए दो आईईडी ब्लास्ट, जवाबी कार्रवाई में दो नक्सली ढेर

chhattisgarh, News, politics
सुकमा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों ने गुरुवार को एक बार फिर जवानों को निशाना बनाने का प्रयास किया। नक्सलियों ने पहले तो दो आईईडी ब्लास्ट किए और फिर घेर कर जवानों पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में जवानों ने भी फायरिंग की। करीब अाधा घंटा से ज्यादा चली इस मुठभेड़ में दो नक्सली मारे गए। वहीं आईईडी ब्लास्ट की चपेट में आकर दो जवान घायल हो गए हैं। इनमें से एक जवान को एयरलिफ्ट कर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना चिंतलनार क्षेत्र के जंगलों में हुई है। दो दिन पहले सर्चिंग पर निकले थे जवान, लौटने के दौरान हुई मुठभेड़ जानकारी के मुताबिक, दो दिन पहले तिम्मापुरम के आस-पास के कैंप से डीआरजी और एसटीएफ की संयुक्त टीम सर्चिंग के लिए निकली थी। सर्चिंग से गुरुवार दोपहर लौट रहे जवानों को नक्सलियों ने निशाना बनाया। बताया जा रहा है कि चिंतलनार क्षेत्र में तिम्मापुरम और मोरपल्ली के बीच नक्सल
धमतरी: आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने दिया मतदाताओं को चेतावनी, कहा- वोट नहीं दिया तो विकास का पैसा सुकमा ले जाऊंगा

धमतरी: आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने दिया मतदाताओं को चेतावनी, कहा- वोट नहीं दिया तो विकास का पैसा सुकमा ले जाऊंगा

chhattisgarh, News, politics
धमतरी। छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा एक बार फिर अपने बयान के कारण चर्चा में है। इस बार उन्होंने मतदाताओं को ही धमकी दे डाली है। नगरीय निकाय चुनाव प्रचार को लेकर शुक्रवार को धमतरी पहुंचे आबकारी मंत्री लखमा ने खुलेआम मतदाताओं को चेतावनी दी है। उन्होंने मतदातओं से कहा कि वोट नहीं दिया तो धमतरी के विकास का पैसा सुकमा और दंतेवाड़ा ले जाऊंगा। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि जीत गए तो बस्तर का पैसा भी धमतरी ले आऊंगा। कार्यकर्ताओं को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बनकर प्रचार करने की दी सलाह दरअसल, प्रदेश के आबकारी और उद्योग मंत्री कवासी लखमा शुक्रवार को प्रचार के सिलसिले में धमतरी पहंुचे थे। वे धमतरी के जिला प्रभारी मंत्री भी हैं। इस दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं और मतदाताओं काे संबोधित करते हुए कहा कि अगर मेयर का चुनाव नहीं जीतेंगे तो धमतरी का पैसा सुकमा और दंतेवाड़ा ले जाऊंगा। वहीं यह भी कह
छत्तीसगढ़ में लागू नहीं होगी नागरिकता बिल(CAB) 2019 – सीएम भूपेश बघेल

छत्तीसगढ़ में लागू नहीं होगी नागरिकता बिल(CAB) 2019 – सीएम भूपेश बघेल

chhattisgarh, india, News, politics
रायपुर (एजेंसी) | नागरिकता संशोधन बिल (सीएबी) के लागू होने के बाद कई राज्यों के मुख्यमंत्री ने इसको लेकर विरोध जताया है। वहीं छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि सीएबी को लेकर जो कांग्रेस ने स्टैंड लिया है, हम भी उसी के साथ खड़े हैं। वहीं पासपोर्ट पर कमल का निशान छापे जाने का लेकर मुख्यमंत्री ने इसे भाजपा का गिरता हुआ स्तर बताया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शुक्रवार को दिल्ली रवाना होने से पहले रायपुर एयरपोर्ट पर मीडिया से बात कर रहे थे। स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने ट्वीट कर कहा था- राज्य में लागू नहीं होने देंगे सीएबी I would get in touch with Shri @BhupeshBaghel ji to ensure that we do not permit this assault on our Constitutional values and that Chhattisgarh does not allow implementation of #CAB.#CABBill2019 — TS Singh Deo (@TS_SinghDeo) December 12, 2019 दरअसल, प्रदेश
जशपुर महोत्सव-2019 : मुख्यमंत्री ने जशपुर जिले को दी उद्यानिकी महाविद्यालय की सौगत

जशपुर महोत्सव-2019 : मुख्यमंत्री ने जशपुर जिले को दी उद्यानिकी महाविद्यालय की सौगत

chhattisgarh, News, politics, special
जशपुर | मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने जशपुर जिले में उद्यानिकी महाविद्यालय खोलने की घोषणा की है। वें आज जशपुर जिले के कुनकुरी ब्लॉक मुख्यालय के समीपस्थ ग्राम पंचायत सलियाटोली में आयोजित तीन दिवसीय जशपुर महोत्सव के समापन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की प्राथमिकता राज्य के प्रत्येक व्यक्ति की उन्नति और भलाई है। उन्होंने जशपुर महोत्सव के सफल आयोजन के लिए सभी लोगों को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि जशपुर जिला प्राकृतिक सौन्दर्य से परिपूर्ण है, यहां के लोग मेहनतकश है। यहां के लोगों की तरक्की के लिए सरकार हर संभव प्रयास करेगी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने विधायक श्री यू.डी.मिंज द्वारा जशपुर में पर्यटन को लेकर लिखी गई पुस्तक जशपुर टूरिज्म का विमोचन भी किया। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने आगे कहा कि जशपुर जिले में कटहल, स्ट्रॉबेरी, काजू, लीची, नाशपत्ती और चाय की
गुवाहाटी : प्रदर्शनकारियों ने कर्फ्यू तोड़ा, सड़क पर उतरे हजारों लोग फ़ायरिंग में 3 लोग की मौत, 11 घायल

गुवाहाटी : प्रदर्शनकारियों ने कर्फ्यू तोड़ा, सड़क पर उतरे हजारों लोग फ़ायरिंग में 3 लोग की मौत, 11 घायल

india, News, politics
गुवाहाटी | असम, मणिपुर, त्रिपुरा, मिजोरम, अरुणाचल और मेघालय में चौथे दिन भी नागरिकता संशोधन बिल (कैब) के विरोध में उग्र आंदोलन जारी रहा। असम की राजधानी गुवाहाटी में प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने फायरिंग की, इसमें तीन लोगों मारे गए। राष्ट्रपति ने बिल को मंजूरी दी राज्य के कई जिलों में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लागू था, लेकिन राजधानी में ही प्रदर्शनकारियों ने कर्फ्यू तोड़ा। इसी तरह के हालात करीब-करीब पूरे राज्य में रहे। प्रदर्शनकारियों ने मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के गृह जिले डिब्रूगढ़ के छाबुआ में रेलवे स्टेशन के अलावा भाजपा विधायक का घर फूंक दिया। इसी बीच, देर रात राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नागरिकता संशोधन बिल पर दस्तखत कर दिए। अब यह कानून बन गया है। मोदी ने की शांति बनाए रखने की अपील आंदोलन की बागडोर मंगलवार को नॉर्थ ईस्ट स्टूडेंट ऑर्गनाइजेशन (नेसो) संभाल रहा है। इसे 30 छात्
राज्यसभा से पास नागरिकता संशोधन बिल (CAB) 2019 पर राष्ट्रपति के हस्ताक्षर हुए, मिली मंजूरी

राज्यसभा से पास नागरिकता संशोधन बिल (CAB) 2019 पर राष्ट्रपति के हस्ताक्षर हुए, मिली मंजूरी

chhattisgarh, india, News, politics
नई दिल्ली (एजेंसी) |  राज्यसभा से पास नागरिकता संशोधन बिल (CAB) पर राष्ट्रपति के हस्ताक्षर हो चुके है, ग़ौरतलब है नागरिकता संशोधन बिल बुधवार को राज्यसभा में पास हो गया था । विधेयक के पक्ष में 125, जबकि विरोध में 105 वोट पड़े। करीब 8 घंटे चली बहस का जवाब देते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा- यह विधेयक ऐतिहासिक भूल को सुधारने के लिए लाया गया। लोकसभा में यह बिल सोमवार को पास हो चुका है। निचले सदन में विधेयक पर 14 घंटे तक बहस के बाद रात 12.04 बजे वोटिंग हुई थी। बिल के पक्ष में 311 और विरोध में 80 वोट पड़े थे। राज्यसभा में किसने बिल का समर्थन किया, किसने विरोध बिल के समर्थन में बिल के विरोध में भाजपा 83 कांग्रेस 46 अन्ना द्रमुक 11 टीएमसी 13 बीजेडी 7 सपा 9 जेडीयू 6 वामदल 6 अकाली दल 3 डीएमके 5 नॉमिनेटेड 4 टीआरएस 6 बसपा 4
नागरिकता संशोधन बिल: लोकसभा से पास, राज्यसभा में कल पेश होगा; उच्च सदन में बिल के समर्थन में बहुमत से 7 सांसद ज्यादा

नागरिकता संशोधन बिल: लोकसभा से पास, राज्यसभा में कल पेश होगा; उच्च सदन में बिल के समर्थन में बहुमत से 7 सांसद ज्यादा

chhattisgarh, india, News, politics
नई दिल्ली. नागरिकता संशोधन बिल सोमवार रात लोकसभा में पास हो गया। रात 12.04 बजे हुई वोटिंग में बिल के पक्ष में 311 और विपक्ष में 80 वोट पड़े। इस पर करीब 14 घंटे तक बहस हुई। विपक्षी दलों ने बिल को धर्म के आधार पर भेदभाव करने वाला बताया। गृह मंत्री अमित शाह ने जवाब में कहा कि यह बिल यातनाओं से मुक्ति का दस्तावेज है और भारतीय मुस्लिमों का इससे कोई लेना-देना नहीं है। शाह ने कहा कि यह बिल केवल 3 देशों से प्रताड़ित होकर भारत आए अल्पसंख्यकों के लिए है और इन देशों में मुस्लिम अल्पसंख्यक नहीं हैं, क्योंकि वहां का राष्ट्रीय धर्म ही इस्लाम है। विधेयक राज्यसभा में कल पेश होगा। कांग्रेस समेत 11 विपक्षी दलों ने बिल को धार्मिक आधार पर भेदभाव करने वाला बताया। एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने बिल की कॉपी भी फाड़ दी। हालांकि, इसे सदन की कार्यवाही से बाहर निकाल दिया गया। राज्यसभा का गणित राज्यस
रायपुर : किसानों से हर हाल में खरीदेंगे प्रति एकड़ 15 क्विंटल धान, चाहे समय बढ़ाना पड़े या धान खरीदी किश्तों की संख्या: श्री भूपेश बघेल

रायपुर : किसानों से हर हाल में खरीदेंगे प्रति एकड़ 15 क्विंटल धान, चाहे समय बढ़ाना पड़े या धान खरीदी किश्तों की संख्या: श्री भूपेश बघेल

chhattisgarh, News, politics
रायपुर: मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के किसानों को आश्वस्त किया है कि राज्य सरकार हर हाल में किसानों से प्रति एकड़ 15 क्विंटल के मान से धान की खरीदी करेगी, इसके लिए चाहे धान खरीदी का समय बढ़ना पड़े या धान खरीदी किश्तों की संख्या।मान लीजिए तीन फेरी में या पांच फेरी में जमा करना है, तो यदि आवश्यकता पड़ती है तो इसकी संख्या बढ़ाई जाएगी। मुख्यमंत्री आज सवेरे यहां पुलिस लाइन मैदान में बालोद और बलौदाबाजार जिले के दौरे पर रवाना होने के पहले मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा कर रहे थे । मुख्यमंत्री ने किसानों से धान खरीदी के संबंध फैलाई जा रही अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील करते हुए कहा कि अपवाह वे लोग फैला रहे हैं, जो धान खरीदी में दलाली करते रहे हैं और दूसरे प्रदेशों का धान छत्तीसगढ़ में खपा रहे थे । धान की तौलाई और ट्रांसपोर्टिंग में गड़बड़ी करते थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने ध