Now Hiring : Back Office Male needed in Raipur
Travel Consultant Travel Advisor needed in Raipur
HR Manager Female in Raipur Work from Home
Sales Executive in Bank Raipur
Telecallers Male for Govt BPO in Raipur

बसपा के बाद गोंगपा ने भी छोड़ा कांग्रेस के हाथ का साथ

रायपुर (एजेंसी)। गठबंधन को लेकर छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ गई हैं। पहले बसपा ने हाथ छोड़ा उसके बाद अब गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने भी कांग्रेस का हाथ छोड़ दिया है। उईके के कांग्रेस छोड़ने के बाद कांग्रेस हाइकमान ने गोंगपा अध्यक्ष मरकाम को दिल्ली बुलाया था। मरकाम रविवार को दिल्ली पहुंच गए थे। उन्हें कांग्रेस का ऑफर मिला कि गठबंधन के लिए पांच सीट ही मिल सकती है। जबकि गोंगपा सुप्रीमो हीरासिंह मरकाम की मानें तो वे छत्तीसगढ़ में 11 सीटें मांग रहे थे। उस पर मंथन करने के बाद राहुल गांधी से मुलाकात कर सकते हैं। गोंगपा के महासचिव लाल बहादुर कोर्राम ने बताया कि मरकाम ने दिल्ली में ही दूसरे आदिवासी संगठनों से चर्चा की। उसके बाद यह तय किया कि कांग्रेस सम्मानजनक सीटें नहीं दे रही है। इस कारण राहुल से मिलने का औचित्य ही नहीं समझा। गोंगपा सुप्रीमो हीरासिंह मरकाम की मानें तो वे छत्तीसगढ़ में 11 सीटें मांग रहे थे, जबकि कांग्रेस उन्हें मात्र 5 सीटें देने को तैयार थी। इसमें भी 3 सीटें अघोषित तौर पर। इसलिए उन्होंने राहुल गांधी से मुलाकात करना भी उचित नहीं समझा। ज्ञात है कि कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष और पाली-तानाखार के विधायक रामदयाल उईके ने कांग्रेस छोड़ा तो कांग्रेस और गोंगपा के बीच गठबंधन की चर्चा तेज हो गई। इसका एकमात्र कारण यह था कि उईके दोनों राजनीतिक दलों के गठबंधन में रोड़ा बने हुए थे। उईके पाली-तानाखार सीट छोड़ने के लिए तैयार नहीं थे और गोंगपा सुप्रीमो हीरासिंह मरकाम की पहली प्राथमिकता में पाली-तानाखार सीट ही थी। इन 14 सीटों पर अच्छा था प्रदर्शन 2013 के विधानसभा चुनाव में गोंगपा 14 सीट भरतपुर सोनहत, मनेंद्रगढ़, बैकुंठपुर, भटगांव, प्रतापपुर, रामानुजगंज, अंबिकापुर, पाली-तानाखार, मरवाही, कोटा, सक्ती, लैलुंगा, पंडरिया और डोंगरगढ़ में तीसरे नम्बर पर थी। इसमें से सात सीटें ही ऐसी हैं, जहां मतदान प्रतिशत ठीक-ठाक था। पाली-तानाखार में 26.69, भरतपुर सोनहत में 15.82, बैकुंठपुर 15.52, भटगांव 5.18, कोटा 5.41 और सक्ती में 9.68 फीसद मतदान प्राप्त हुआ था।


Posted on 17-10-2018 12:09 PM
Share it

Home  »  News  »  बसपा के बाद गोंगपा ने भी छोड़ा कांग्रेस के हाथ का साथ

Recent News

खुले में बायो मेडिकल कचरा फेंकने वाले अस्पतालों के विरूद्ध होगी दंडात्मक कार्रवाई
विशाल रंगोली सजाकर दिया वोट की ताकत का संदेश
सुरक्षा की भावना जगाने जवानों ने किया फ्लेग मार्च
सीएम बघेल का पीएम पर तंज़, 'हम 'काम' पर वोट मांग रहे हैं, मोदी जी की तरह 'धर्म जाति' पर नहीं'
मीटिंग में बत्ती गुल, कांग्रेस ने 174 कर्मचारियों को किया निलंबित

Copyright © 2012-2019 | Chhattisgarh Rojgar
MSME Reg no: CG14D0004683