11 साल की बच्चे की डेंगू से हुई मौत, संख्या बढ़कर 43 हुई

भिलाई (एजेंसी) | दुर्ग के रहने वाले गगन रघुवंशी (11) की रायपुर में डेंगू से मौत हो गई। उसका इलाज रायपुर के  रामकृष्ण केयर सेंटर में चल रहा था। पिछले शनिवार ही उसे बुखार आया था। डेंगू से दुर्ग जिले में यह 43वीं मौत है। गगन के परिजनों ने बताया उसे 10 सितंबर को बुखार आया था। परिजन उसे डॉक्टर के पास ले गए। 5 दिन दवा खाने के बाद भी जब बुखार नहीं उतरा, तो 15 सितंबर को गगन को रायपुर के बाल गोपाल अस्पताल ले जाया गया। यहां जांच कराने पर उसे डेंगू होने की पुष्टि हुई और उसे भर्ती कर लिया गया। गगन के शरीर में डेंगू वायरस 10 दिन पुराना था और उसकी हालत भी अच्छी नहीं थी। इसलिए बाल गोपाल अस्पताल के प्रबंधन ने उसे बेहतर उपचार के लिए रामकृष्ण केयर सेंटर भेजा। वहां इलाज के दौरान गगन की हालत सुधरने के बजाय बिगड़ती चली गई। शुक्रवार रात उसने अस्पताल में दम तोड़ दिया। 31 जुलाई से जानलेवा हुए डेंगू ने सबसे ज्यादा बच्चों पर कहर बरपाया है। लगभग साढ़े सात हजार संक्रमित मरीजों में से आधे तो बच्चे ही हैं। इसके अलावा जिन 43 लोगों की अब तक जान गई है, उनमें भी ज्यादातर बच्चे ही हैं। वही 10 साल तक के 12 बच्चे अब तक डेंगू की चपेट में आने से दम तोड़ चुके हैं।


Posted on 23-09-2018 09:13 AM
Share it

Home  »  News  »  11 साल की बच्चे की डेंगू से हुई मौत, संख्या बढ़कर 43 हुई

Recent News

राज्य में पहली बार ऐसा मामला, मंत्री ने अपनी पत्नी को बनाया विशेष सहायक, सीएम ने रद्द किया आदेश
शेख आरिफ रायपुर एसपी, नीतू कमल को बलौदाबाजार भेजा, 10 आईपीएस समेत 32 एएसपी के तबादले 
रमन सरकार की एक और योजना बंद, वन मंत्री बोले-इस साल से चरण पादुका नहीं बांटेंगे
देशभर में 16 करोड़ लोग शराब पीते हैं; छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा 35 प्रतिशत से ऊपर 
60 साल पार कर चुके किसानों को 1500 रुपए तक पेंशन की घोषणा आज संभव 
छात्र मिलन समारोह में सीएम बघेल बोले, "फोन टैपिंग के डर से सीएस तक वाॅट्सएप कॉल करते थे, अब ऐसा नहीं होगा"
पुलवामा हमला: शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए छत्तीसगढ़ समेत देश में व्यापारियों ने किया बंद का आह्वान 
स्वास्थ्य विभाग के ज्वाइंट डायरेक्टर महेन्द्र जंघेल की स्वाइन फ्लू से मौत 
अगर आपके फ़ोन में है ये एप, तो हो जाइए सावधान; बैंक खाता हो जाएगा खाली, आरबीआई ने जारी की चेतावनी
पुलवामा शहीदों के खिलाफ आपत्तिजनक शब्द कहने वाला प्राधानाचार्य निलंबित

Copyright © 2012-2019 | Chhattisgarh Rojgar | MSME Reg no: CG14D0004683