chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

शशि थरूर के फिर बिगड़े बोल इस बार प्रधानमंत्री मोदी के लिए बेहद आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया है, जिसे हम हिन्दी में लिख भी नहीं पा रहे हैं

बेंगलुरु (एजेंसी) | कांग्रेस के नेता शशि थरूर ने रविवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संघ की सीमाएं लांघ चुके हैं। कांग्रेस के सासंद शशि थरूर के विवादित कमेंट करने का सिलसिला थमता हुआ नहीं दिख रहा है। इस बार थरूर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए बेहद आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया है। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को निशाने पर लेने के लिए ऐसे शब्दों का प्रयोग किया है जिसे हम हिन्दी में लिख भी नहीं पा रहे हैं।




बेंगलुरु के एक कार्यक्रम में शशि थरूर ने एक अज्ञात राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) कार्यकर्ता और पत्रकारों के बीच हुई बातचीत का जिक्र कर रहे थे। यहां उन्होंने RSS कार्यकर्ता के हवाले से बताया कि वह पीएम मोदी के लिए किस तरह के शब्दों का प्रयोग कर रहा था।

थरूर रविवार को बेंगलुरु में लिटरेचर फेस्टिवल में शामिल हुए। वे यहां अपनी किताब ‘द पेराडॉक्सियल प्राइम मिनिस्टर’ के बारे में बात कर रहे थे। उन्होंने कहा, “मोदी का मौजूदा व्यक्तित्व उनके समकक्षों के लिए निराशा का विषय बन गया है। ‘मोदित्व, मोदी प्लस हिंदुत्व’ के चलते वे संघ से भी ऊपर हो चुके हैं।”

गृहमंत्री को पता नहीं था सीबीआई प्रमुख हटाए गए -शशि थरूर 

मोदी सरकार की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा, “मौजूदा सरकार में मंत्रालय और अधिकार प्राप्त अफसरों को भी अपने फैसले पर पीएमओ से सहमति का इंतजार करना पड़ा है। यह इसी का नतीजा है कि गृहमंत्री को भी नहीं पता होता कि सीबीआई प्रमुख हटाए जा रहे हैं। विदेश मंत्री को विदेश नीति से जुड़े बदलावों के बारे में जानकारी नहीं होती, रक्षा मंत्री को अंतिम क्षण तक राफेल डील में हुए बदलाव नहीं पता चलते।”

माफी मांगे थरूर: भाजपा

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, “राहुल खुद को शिव भक्त बताते हैं, लेकिन उनकी पार्टी के एक नेता सूत्र का हवाला देकर शिवलिंग और महादेव भगवान की पवित्रता को लेकर अमर्यादित बयान देते हैं। हिंदु देवी देवताओं का अपमान ये देश नहीं सहेगा। राहुल को थरूर के बयान पर माफी मांगनी चाहिए और जवाब देना चाहिए।”
भाजपा से राज्यसभा सांसद राकेश सिन्हा ने थरूर के बयान की निंदा की। उन्होंने कहा कि थरूर को इसके लिए माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने पूछा, क्या थरूर ने ये बयान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की अनुमति से दिया है?

राममंदिर पर दिया था विवादित बयान

इससे पहले 15 अक्टूबर को शशि थरूर ने अयोध्या के राम मंदिर को लेकर एक बयान दिया था, जिसके बाद बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने उन्हें नीच आदमी तक कह दिया था। कांग्रेस नेता ने द हिंदू लिट फॉर लाइफ डायलॉग 2018 में कहा था, ‘कोई भी अच्छा हिंदू विवादित स्थान पर राम मंदिर नहीं चाहेगा। हिंदू अयोध्या को राम का जन्म स्थान मानते हैं इसलिए अच्छा हिंदू ढहाए गए पूजा स्थल पर राम मंदिर नहीं चाहेगा।’ थरूर के इस बयान पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने पलटवार किया है। स्वामी ने इस बयान के लिए थरूर को ‘नीच आदमी’ तक कह दिया था।

हिन्दू पाकिस्तान जैसे बयान भी दिए है शशि थरूर ने 

इससे पहले शशि थरूर ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा था कि अगर भारतीय जनता पार्टी 2019 के लोकसभा चुनाव में जीतती है, तो इससे देश ‘हिंदू पाकिस्तान’ बन जाएगा। तिरुअंनंतपुरम में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शशि थरूर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अगर जीतती है, तो वह नया संविधान लिखेगी, जिससे यह देश पाकिस्तान बनने की राह पर प्रशस्त होगा। जहां, अल्पसंख्यकों के अधिकारों का कोई सम्मान नहीं किया जाता है। उन्होंने कहा था कि आगामी लोकसभा चुनाव में बीजेपी की जीत से लोकतांत्रिक मूल्य खतरे में पड़ जाएंगे।



Leave a Reply