chhattisgarh news media & rojgar logo

Govt Schemes

रायपुर : छत्तीसगढ़ में राष्ट्रीय पहल एकीकृत शिक्षण प्रशिक्षण कार्यक्रम ’निष्ठा’ प्रारंभ स्कूल शिक्षा मंत्री ने किया शुभारंभ

रायपुर : छत्तीसगढ़ में राष्ट्रीय पहल एकीकृत शिक्षण प्रशिक्षण कार्यक्रम ’निष्ठा’ प्रारंभ स्कूल शिक्षा मंत्री ने किया शुभारंभ

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर. स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि बच्चों में शैक्षिक नेतृत्व क्षमता और वैज्ञानिक सोच विकसित की जाए। बच्चों को किताबी ज्ञान के साथ व्यवहारिक ज्ञान देना भी जरूरी है। बच्चों को समग्र शिक्षा देने की आवश्यकता है। इससे बच्चों का बौद्धिक विकास होगा। डॉ.टेकाम आज राजधानी रायपुर में राष्ट्रीय पहल के एकीकृत शिक्षण प्रशिक्षण कार्यक्रम ’निष्ठा’ के शुभारंभ अवसर पर उपस्थित प्रतिभागियों को सम्बोधित कर रहे थे। छत्तीसगढ़ में निष्ठा कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेश के सभी प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों के डेढ़ लाख से अधिक शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण सत्र का शुभारंभ राज्यगीत से किया गया। यह सात दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम 10 जनवरी तक संचालित होगा। निष्ठा के साथ शिक्षक दक्षता और संवर्धन कार्यक्रम का भी प्रशिक्षण दिया जाएगा। इससे शासकीय विद्यालयों की शिक्षकों की व्यावसा
रायपुर : मलेरिया से मुक्ति के लिए 2.75 लाख घरों में पहुंचेगी स्वास्थ्य विभाग की टीम

रायपुर : मलेरिया से मुक्ति के लिए 2.75 लाख घरों में पहुंचेगी स्वास्थ्य विभाग की टीम

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
स्कूलों, आश्रम-छात्रावासों, पैरा-मिलेट्री कैंपों में भी मलेरिया की सघन जांच, पॉजिटिव्ह पाए जाने पर त्वरित इलाज स्वास्थ्य विभाग की टीम पौने तीन लाख से अधिक घरों में पहुंचकर करीब 14 लाख लोगों के खून की जांच कर मलेरिया पाए जाने पर त्वरित इलाज उपलब्ध कराएगी। हर घर के साथ ही स्कूलों, आश्रम-छात्रावासों और पैरा-मिलेट्री कैंपों में भी मलेरिया की जांच की जाएगी। बस्तर को मलेरिया मुक्त करने स्वास्थ्य विभाग द्वारा 15 जनवरी से 14 फरवरी 2020 तक ‘मलेरियामुक्त बस्तर अभियान’ चलाया जाएगा। बस्तर संभाग के 26 विकासखंडों में यह गहन अभियान संचालित किया जाएगा। दंतेवाड़ा, बीजापुर, सुकमा और नारायणपुर जिले के सभी विकासखंडों में तथा बस्तर जिले के बड़े किलेपाल, तोकापाल व दरभा विकासखंड के पूरे क्षेत्र में व लोहंडीगुड़ा, नानगूर और बस्तर विकासखंड के 15 उपस्वास्थ्य केंद्रों में, कांकेर के भानुप्रतापपुर, दुर्गकोंदल औ
रायपुर : 12 जनवरी से होगा राज्य स्तरीय युवा महोत्सव, जुटेंगे 6 हजार से ज्यादा प्रतिभागी

रायपुर : 12 जनवरी से होगा राज्य स्तरीय युवा महोत्सव, जुटेंगे 6 हजार से ज्यादा प्रतिभागी

chhattisgarh, Govt Schemes, india, News
रायपुर | छत्तीसगढ़ में होने जा रहे राज्य स्तरीय यूथ फेस्टिवल की तारीखों का एलान कर दिया गया है। गुरुवार को सरकार की तरफ से जारी की गई जानकारी के मुताबिक युवा महोत्सव 12 जनवरी से शुरू होकर 14 जनवरी तक चलेगा।  युवा महोत्सव के अंतर्गत प्रदेश के सभी विकासखण्डों और जिला स्तर पर प्रतियोगिताएं आयोजित की गई है। इनमें चयनित प्रतिभागी 12 जनवरी से राजधानी में आयोजित राज्य स्तरीय युवा महोत्सव में अपनी खेल प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। राजधानी रायपुर में आयोजित राज्य स्तरीय युवा महोत्सव में 15 से 40 वर्ष और 40 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के प्रदेश भर के छह हजार 521 प्रतिभागी भाग लेंगे। इनमें 3 हजार 613 पुरूष,2 हजार 433 महिला प्रतिभागी और 301 पुरूष और 174 महिला अधिकारी कर्मचारी शामिल हैं। इस दौरान लोक नृत्य, लोकगीत, शास्त्रीय संगीत, शास्त्रीय नृत्य, वादन, एकांकी नाटक, निबंध, चित्रकला, तात्कालिक भाषण, पारम
सर्वाधिक खाद्यान्न उत्पादन के लिए छत्तीसगढ़ को मिला कृषि कर्मण पुरस्कार, पीएम नरेन्द्र मोदी ने दिया पुरस्कार

सर्वाधिक खाद्यान्न उत्पादन के लिए छत्तीसगढ़ को मिला कृषि कर्मण पुरस्कार, पीएम नरेन्द्र मोदी ने दिया पुरस्कार

chhattisgarh, Govt Schemes, india, News, special
कर्नाटक (तुमकर) | छत्तीसगढ़ काे सर्वाधिक खाद्यान्न उत्पादन के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को कृषि कर्मण पुरस्कार से सम्मानित किया। कृषि मंत्री रवीन्द्र चौबे ने यह पुरस्कार ग्रहण किया। प्रदेश को वर्ष 2016-17 में कुल खाद्यान्न उत्पादन श्रेणी-2 के अंतर्गत सर्वाधिक खाद्यान्न उत्पादन के लिए भारत सरकार द्वारा इस पुरस्कार के लिए चुना गया है। कर्नाटक के तुमकुर में आयोजित पुरस्कार समारोह में मोदी ने प्रदेश के दो किसानों विरेन्द्र कुमार साहू एवं अदिति कश्यप को भी पुरस्कृत किया। छत्तीसगढ़ को वर्ष 2016-17 में कुल खाद्यान्न उत्पादन श्रेणी-2 के अंतर्गत सर्वाधिक खाद्यान्न उत्पादन के लिए भारत सरकार द्वारा इस पुरस्कार के लिए चुना गया है। कृषि मंत्री रवीन्द्र चौबे ने प्रदेश के किसानों और विभागीय अधिकारियों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है। कर्नाटक के तुमकुर में आयोजित पुरस्कार समारोह में प्
पीएम किसान निधि योजना : 6 करोड़ किसानों की राशि जारी लेकिन जिले के 20 हजार किसानों को नहीं मिलेगा लाभ

पीएम किसान निधि योजना : 6 करोड़ किसानों की राशि जारी लेकिन जिले के 20 हजार किसानों को नहीं मिलेगा लाभ

chhattisgarh, Govt Schemes, india, News
कर्नाटक (तुमकर) | प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुरुवार को कर्नाटक के तुमकुर में एक सार्वजनिक समारोह में दिसंबर 2019-मार्च 2020 की अवधि के लिए 2000 रुपए (प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि) की तीसरी किस्त जारी किया। लगभग 6 करोड़ लाभार्थियों को इसका फायदा होगा। इन किसानों में कबीरधाम जिले के भी करीब 20 हजार से अधिक किसान शामिल है। लेकिन राशि के लिए इंतजार करना पड़ सकता है। दरअसल दूसरे किस्त के बाद से ही आधार अनिवार्य कर दिया गया था। करीब 23 हजार किसानों ने आधार कार्ड जमा भी कराया। लेकिन 20 हजार किसानों को पीएम सम्मान निधि के पोर्टल में एंट्री नहीं हुई। इसके चलते इन्हें राशि के लिए इंतजार करना पड़ सकता है। कलेक्टोरेट के भू-अभिलेख शाखा से प्राप्त जानकारी अनुसार कवर्धा जिले के 84 हजार 702 किसान इस योजना अंतर्गत पंजीकृत हैं। इसमें अभी तक 60 हजार 716 लोगों को राशि दी गई है। लेकिन पहले से लेकर त
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इन्फ़्रास्ट्रक्चर सेक्टर को नये साल का तोहफा दिया, 102 लाख करोड़ रुपये इन्फ्रा प्रोजेक्टों पर खर्च होंगे

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इन्फ़्रास्ट्रक्चर सेक्टर को नये साल का तोहफा दिया, 102 लाख करोड़ रुपये इन्फ्रा प्रोजेक्टों पर खर्च होंगे

business, Govt Schemes, india, News
विकास दर सुधारने के लिए पांच साल में इन्फ्रा प्रोजेक्टों पर 102 लाख करोड़ रुपये खर्च होंगे सरकार ने नए साल की पूर्व संध्या पर घोषणा की है कि देश की अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने और 2024-25 तक 5 ट्रिलियन डॉलर (350 लाख करोड़) रुपये जीडीपी का लक्ष्य हासिल करने के लिए अगले पांच साल में 102 लाख करोड़ रुपये बुनियादी क्षेत्र पर खर्च किए जाएंगे। 21 मंत्रालयों को आवंटित होगी  निर्धारित रकम  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि सरकार ने इन्फ्रास्ट्रक्चर विकास पर 51 लाख करोड़ रुपए खर्च किए हैं। यह देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 5-6 फीसदी हिस्सा है। सरकार ने अगले 5 साल में इस पर करीब 102 लाख करोड़ रुपए खर्च करने का लक्ष्य रखा है। इस फंड को 21 मंत्रालयों के बीच आवंटित किया जाएगा। इस फंड से राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में इन्फ्रास्ट्रक्चर विकास पर काम किया जाएगा। इन क्षे
भिलाई : दो शिफ्ट में होगी सरकारी अस्पतालों में जांच और इलाज की सुविधा, छुट्टी के दिन भी खुलेगी ओपीडी

भिलाई : दो शिफ्ट में होगी सरकारी अस्पतालों में जांच और इलाज की सुविधा, छुट्टी के दिन भी खुलेगी ओपीडी

chhattisgarh, Govt Schemes, News
भिलाई : छत्तीसगढ़ में नए साल से सरकारी अस्पतालों में जांच व इलाज की सुविधा सुबह-शाम दो पारी में मिलेगी। ठंड के चार माह (नवंबर से फरवरी तक) छोड़ कर पूरे साल एक ही कैलेंडर व टाइम शेड्यूल लागू रहेगा। सभी अस्पताल सुबह की पाली में चार घंटे और पुन: शाम की पाली में दो घंटे के लिए खुलेंगे। इस दौरान जांच व इलाज से संबंधी सभी सुविधा संचालित रहेंगी। अब तक शासकीय अस्पतालों में सुबह 8 बजे से लेकर 2 या 4 बजे तक ही ओपीडी की सुविधा मुहैया कराई जा रही थी। 1 जनवरी से सभी अस्पतालों में दो टाइम ओपीडी संचालित की जाएगी। रविवार या अन्य छुट्टी के दिनो में अस्पताल प्रभारी कैजुअल्टी में ओपीडी रन करेंगे। नए ओपीडी का शेड्यूल जिला या सिविल अस्पताल शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सुबह: 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक सुबह : 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक शाम : 5 बजे से 7 बजे तक शाम : 5 बजे से 8 बजे तक रजि
रोजगार देने में छत्तीसगढ़ का देश में चौथा स्थान, प्रदेश सरकार की मंदी के दौरान रोजगार क्षेत्र में बड़ी उपलब्धि

रोजगार देने में छत्तीसगढ़ का देश में चौथा स्थान, प्रदेश सरकार की मंदी के दौरान रोजगार क्षेत्र में बड़ी उपलब्धि

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर | छत्तीसगढ़ ने मनरेगा के क्रियान्वयन में फिर उत्कृष्टता हासिल की है। 2019-20 में मनरेगा जॉब कार्डधारी परिवारों को 100 दिनों का रोजगार उपलब्ध कराने में छत्तीसगढ़ देश में चौथे स्थान पर है। अप्रैल 2019 से 21 दिसम्बर 2019 तक पिछले नौ महीनों में प्रदेश के 83 हजार 436 परिवारों को 100 दिनों का रोजगार उपलब्ध कराया गया है। राजस्थान, आंध्रप्रदेश और तेलंगाना के बाद छत्तीसगढ़ इस मामले में पूरे देश में चौथे स्थान पर है। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने अधिकारियों-कर्मचारियों की तारीफ करते हुए कहा है कि वे आगे भी इस योजना का क्रियान्वयन बेहतर ढंग से जारी रखें ताकि वित्तीय वर्ष की समाप्ति पर हम इसमें देश के प्रथम तीन राज्यों में अपनी जगह पक्की कर सकें। मनरेगा की जिला एवं जनपद टीम द्वारा ऐसे परिवार जिन्हें 25, 50 और 75 दिन का रोजगार उपलब्ध कराया जा चुका है।, उन पर फोकस कर उन
राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव 2019 : लद्दाख का दल विवाह नृत्य और निकोबारी दल, पूर्वजों के सम्मान वाला नृत्य करेंगे प्रस्तुत

राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव 2019 : लद्दाख का दल विवाह नृत्य और निकोबारी दल, पूर्वजों के सम्मान वाला नृत्य करेंगे प्रस्तुत

chhattisgarh, entertainment, Govt Schemes, News, tourism
रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में आगामी शुक्रवार 27 दिसंबर से आयोजित तीन दिवसीय राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में शामिल होने वाले दलों के अपने अपने स्थानों से प्रतियोगिता में सम्मिलित होने के लिए रायपुर रवाना होने की जानकारियां प्राप्त होने लगी है। अरुणाचल प्रदेश जैसे दूरदराज के कलाकार रविवार को रायपुर के लिए रवाना हो चुके हैं और उत्तराखंड के कलाकार आज रवाना होने वाले  हैं। प्रतिभागियों में जबरदस्त उत्साह है। देश के 25 राज्यों के आदिवासी नृत्यदल इस समारोह में भाग ले रहे हैं। इनमे कुछ स्थानों के आदिवासी दल पहली बार छत्तीसगढ़ आ रहे हैं। अंडमान के निकोबारी और लद्दाख के आदिवासी समूह इस महोत्सव में भाग ले रहे हैं। इनमें लद्दाख का नृत्यदल एक विवाह नृत्य प्रस्तुत करेगा वहीं निकोबारी के कलाकार अपने पूर्वजों के सम्मान के किये जाने वाला नृत्य प्रस्तुत करेंगे। लद्दाखी विवाह नृत्य लद्दाख दे
महिला स्वसहायता समूह ने लघु उद्योग स्थापित किया, अब महिलाओं और छात्राओं को मिलेगा कम कीमत पर सेनेटरी नैपकिन

महिला स्वसहायता समूह ने लघु उद्योग स्थापित किया, अब महिलाओं और छात्राओं को मिलेगा कम कीमत पर सेनेटरी नैपकिन

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
छत्तीसगढ़ : महिलाओं और छात्राओं को सस्ती कीमत पर सेनेटरी नैपकिन उपलब्ध करवाने के लिए महिलाओं के समूह ने अनोखी शुरूआत की है। इसके लिए 11 महिलाओं ने समूह बनाकर स्वयं के सहयोग से 60 हजार और बैंक से लोन लेकर उद्योग की स्थापना की। वहीं समूह की महिलाओं को नैपकिन बनाने के लिए मुंबई से आए प्रशिक्षक प्रशिक्षण दे रहे हैं। स्त्री स्वाभिमान सेनेटरी नैपकिन के नाम से बनाए जा रहे इस उत्पाद की कीमत बाजार में बिकने वाले सेनेटरी नैपकिन से आधी  होगी। बीते बुधवार कलेक्टर सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने इसका शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने छात्राओं को सैंपल के रूप में सेनेटरी नैपकिन का वितरण भी किया। बाजार से आधी कीमत पर मिलेंगे उद्योग में बने सेनेटरी नैपकिन, कलेक्टर ने किया शुभारंभ लघु उद्योग के उद्घाटन अवसर पर मिले सेनेटरी नैपकिन दिखाती छात्राएं। मालूम हो कि मां शक्ति स्व-सहायता समूह ने लगाया है। दिसंब