Shadow

बैटरी चलित ट्राई सायकल मिलते ही दिव्यांग के चहरे में आयी मुस्कान, रिपेयरिंग भी दिव्यांग ही करेंगे नही जाना पड़ेगा जबलपुर

divyaang-cycle-yojna-18-feb-2020

जिला कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने आज अपने हाथों से अनेक दिव्यागों एवं बुजुर्ग व्यक्तियों को सहायक उपकरण का वितरण किया। इन उपकरण मिलते ही उनकी चहरों में एक मुस्कान सी छा गई। समाज कल्याण विभाग द्वारा जिला स्तरीय सहायक उपकरण वितरण शिविर का आयोजन जिला मुख्यालय स्थित स्पोर्ट्स स्टेडियम के प्रांगण में किया गया। समाज कल्याण विभाग के उपसंचालक आशा शुक्ला ने बताया इस शिविर में कुल 44 उपकरण हितग्राहियों को दिया गया। जिसमें 20 बैटरी चलित ट्राई सायकल,5 ट्राई सायकल, 6 व्हील चेयर, 10 श्रवण यंत्र एवं 3 जोड़ी बैशाखी कलेक्टर के हाथों प्रदान किया गया। कलेक्टर ने सभी दिव्यागों से बात कर उनका हाल चाल जाना। सभी ने शासन को धन्यवाद दिया।

कुछ दिव्यागों ने बैटरी चलित ट्राई सायकल में खराबी आती है तो वर्तमान में इनका रिपेयर जबलपुर से कराया जाता है। जिससे दिव्यागों को बढ़ा तकलीफ होती है। कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने कहा क्यो ना आप में से कोई व्यक्ति को इसका प्रशिक्षण दिया जाएगा और आप ही लोग इन ट्राईसायकल का रेपीयर कर सकें। इसके लिये जल्द ही कौशल विकास और समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है। जल्द ही लावलीहुड कॉलेज में इसके लिए नयी बैच चलाने की कार्ययोजना बनाने कहा गया है। दिव्यांग भुलऊँ राम निषाद उम्र 29 वर्ष,ग्राम सिनोंधा जो अपने पिता के साथ बढई काम करता है। इन्होंने बताया मेरे पास हाथ वाला ट्राइ सायकल था उससे आने जाने में तकलीफ और समय भी लगता था

परन्तु इसके मिलने से मेरा समय भी बचेगा ओर ऊर्जा भी साथ ही साथ मैं अपना व्यापार भी बढ़ेगा।इसके लिये उन्होंने शासन का आभार माना। उसी तरह ग्राम पनगांव निवासी नवीन कुमार कम्प्यूटर आपरेटर का काम करता हैं। उन्होंने भी कहा इससे आवजाही आसान हो जायेगा। दिव्यांग दीप्ति सोनी ने भी टायपिंग सीखने की इच्छा जाहिर की इसके लिए सम्बंधित अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश कलेक्टर ने दिया है। तिहारू राम साहू उम्र 62 वर्ष  ग्राम मनोरा निवासी ने बताया कि मोला सुने बर बहुत परेशानी होथे अब ये नवा मशीन मिल गेहे जेमे अच्छा आवज आवत हाबे। इस कार्यक्रम में अपर कलेक्टर जोगेन्द्र नायक, समाज कल्याण  विभाग के वरिष्ठ अधिकारी श्री नंद लाल सिदार एवं दिव्यांगो के परिवार वाले और बड़ी संख्या में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया एवं प्रिंट मीडिया के पत्रकार भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply