Shadow

Govt Schemes

रायपुर : अब मोबाइल एम्बुलेंस के जरिए होगा सैंपल कलेक्शन : कोरोना संभावितों के घर पहुंचेंगी मोबाइल एम्बुलेंस

रायपुर : अब मोबाइल एम्बुलेंस के जरिए होगा सैंपल कलेक्शन : कोरोना संभावितों के घर पहुंचेंगी मोबाइल एम्बुलेंस

chhattisgarh, Govt Schemes, india, News, special
रायपुर. छत्तीसगढ़ राज्य में कोरोना के सभी संभावित लोगों को तेजी से टेस्ट सुनिश्चित करने के उद्देश्य से एक नई रणनीति अमल में लाई जाएगी। इसके तहत सभी संभावितों का सैंपल उनके घर पहंुचकर लिया जाएगा। सैंपल कलेक्शन के लिए मोबाइल एम्बुलेंस में सभी सुविधाओं एवं आवश्यक सामग्री के साथ सैंपल कलेक्शन विशेषज्ञ मौजूद रहेंगे। यह निर्णय आज राज्य स्तरीय कमांड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की सचिव श्रीमती निहारिका बारिक सिंह की मौजूदगी में आयोजित बैठक में लिया गया। सैंपल कलेक्शन की इस व्यवस्था से उपलब्ध संसाधनों का उचित उपयोग तथा टेस्टिंग में तेजी आएगी। बैठक में स्वास्थ्य सचिव श्रीमती सिंह ने सैंपल कलेक्शन की इस नई व्यवस्था के संबंध में सभी कलेक्टरों को पत्र प्रेषित कर इसकी व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। मोबाइल एम्बुलेंस संग्रहण के लिए संभावित मरीजों के घर के स
रायपुर : चौक-चौराहों पर तैनात पुलिस जवानों, आम नागरिकों को सामाजिक कार्यकर्ता बांट रहे दूध

रायपुर : चौक-चौराहों पर तैनात पुलिस जवानों, आम नागरिकों को सामाजिक कार्यकर्ता बांट रहे दूध

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के आव्हान पर कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम और अत्यावश्यक सेवा से जुडे अधिकारी-कर्मचारियों तथा जरूरतमंद लोगों को स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से लगभग अब तक एक हजार लीटर दूध पिलाया गया। छत्तीसगढ़ राज्य वक्फ बोर्ड के चेयरमैन श्री सलाम रिजवी के द्वारा एन.वी. मार्बल के प्रोप्राइटर श्री विवेक जैन के सहयोग से शहर के पेटी लाइन, नयापारा, राजातालाब, संजय नगर, बैजनाथपारा, छोटापारा, रहमानिया चौक, बैरन बाजार के साथ शहर के विभिन्न चौराहों पर ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों एवं आम नागरिकों को निरंतर दूध वितरित किया जा रहा है। विगत एक सप्ताह में लगभग 1000 लीटर से ज्यादा दूध वितरित किया जा चुका है। दूध वितरण के कार्य में अधिवक्ता श्री शाहिद सिद्दीकी, श्री अशरफ हुसैन, श्री काशिफ रहमान, श्री रउफ रजा, वक्फ बोर्ड के कर्मचारी श्री जावेद अख्तर, श्री इकबाल अहमद, श्री
रायपुर : मुख्यमंत्री ने वृद्धाश्रम पहुंच कर जाना बुजुर्गों का हाल-चाल, स्वास्थ्य के संबंध में विशेष सतर्कता बरतने के दिये निर्देश

रायपुर : मुख्यमंत्री ने वृद्धाश्रम पहुंच कर जाना बुजुर्गों का हाल-चाल, स्वास्थ्य के संबंध में विशेष सतर्कता बरतने के दिये निर्देश

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज रायपुर के माना स्थित शासकीय वृद्धाश्रम पहुंचे। वृद्धाश्रम में मुख्यमंत्री ने वहां रहने वाले बुजुर्गों का हाल-चाल जाना और उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बुजुर्गों के स्वास्थ्य के संबंध में विशेष सतर्कता बरतने के दिये निर्देश दिये हैं। उल्लेखनीय है कि इस आश्रम में राज्य के 26 बुजुर्ग निवास करते हैं। मुख्यमंत्री ने बुजुर्गों से उनके सुख-दुख, खान-पान, निवास और दिनचर्या के बारे में पूछा और किसी तरह की परेशानी होने के संबंध में जानकारी ली । बुजुर्गों श्री गंगेश भट्टाचार्य, श्री चंदन चौधरी, श्री जायसवाल, श्रीमती फिरंतिन ने बताया कि वृद्धाश्रम में खाने और रहने की अच्छी व्यवस्था है। उनके परिवार के लोग भी बीच-बीच में उनसे मिलने आते हैं। उन लोगों को कोरोना वायरस की जानकारी है और इसके लिए सोशल डिस्ट
रायपुर : दिव्यांगजनों के लिए राज्य स्तर पर 5 करोड़ की राशि से बनेगा मॉडल सेंटर: मुख्यमंत्री ने की घोषणा

रायपुर : दिव्यांगजनों के लिए राज्य स्तर पर 5 करोड़ की राशि से बनेगा मॉडल सेंटर: मुख्यमंत्री ने की घोषणा

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज राजधानी रायपुर के माना कैम्प स्थित शासकीय बहुदिव्यांग गृह पहुंचकर विशेष आवश्यकता वाले बच्चों से मुलाकत की और उनसे चर्चा कर उनके शिक्षण-प्रशिक्षण सहित अन्य व्यवस्थाओं की जानकारी ली। मुख्यमंत्री को अपने बीच पाकर बच्चे बड़े प्रसन्न हुए। मुख्यमंत्री ने बच्चों से बड़ी ही आत्मीयता से मिले और उन्हें दी जा रही सुविधाओं की जानकारी दी। इस अवसर पर बच्चों ने जसगीत भी प्रस्तुत किया। मुख्यमंत्री ने इन बच्चों का हौसला बढ़ाया और उनके लय में लय भी मिलाया और बच्चों को आशीष भी दिया दिव्यांग बच्चों से मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री श्री बघेल ने माना स्थित समाज कल्याण परिसर में दिव्यांग एवं विशेष आवश्यकता वाले बच्चों के लिए एक माडल सेन्टर के रूप में विकसित किए जाने और इसके लिए 5 करोड़ रूपए प्रदान करने की घोषणा की। माना स्थित लगभग 6 एकड़ में फैले इस परिसर के पुराने बैरक
मुख्यमंत्री ने किया ई-पास एनराइड एप का शुभारंभ : अतिआवश्यक सेवा प्रदाताओं के लिए आवागमन में होगी सुविधा

मुख्यमंत्री ने किया ई-पास एनराइड एप का शुभारंभ : अतिआवश्यक सेवा प्रदाताओं के लिए आवागमन में होगी सुविधा

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज राजधानी रायपुर के माना केम्प स्थित शासकीय वृद्धाश्रम में जिला प्रशासन द्वारा रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड और नगर निगम के सहयोग से बनाए गए सी.जी. कोविड-19 “ई-पास“ एनराइड ऐप का शुभारंभ किया। इसके जरिए 22 प्रकार की आवश्यक सेवा के परिवहन में लगे सेवा प्रदाताओं को ऑनलाइन आवागमन की स्वीकृति आसानी से मिल सकेगी। इस ऑनलाइन सिस्टम से रायपुर शहर के भीतर सहित छत्तीसगढ़ के अन्य शहरों और जिलों में आने-जाने के लिए आवश्यक प्रशासनिक स्वीकृति घर बैठे प्राप्त होगी। कोविड-19 ई-पास की अनुमति की पूरी प्रक्रिया अत्यधिक सरल हैै। इसके लिए  https://rebrand-ly/z9k75qp लिंक पर जाकर कोविड-19 ई-पास एप्प डाउनलोड करके इसे इंस्टॉल करना होगा। इंस्टॉल करने के बाद अपना मोबाईल नं. व ओटीपी दर्ज कर अपना आवेदन पत्र पूर्ण करना होगा। आवेदन के साथ आधार कार्ड व वाहन का नंबर भी दर्ज करना
रायपुर : मुख्यमंत्री ने कोरोना संक्रमण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए महिलाओं को किया सलाम

रायपुर : मुख्यमंत्री ने कोरोना संक्रमण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए महिलाओं को किया सलाम

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण से लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए छत्तीसगढ़ की महिलाओं के ज़ज्बे को सलाम किया है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा है कि चाहे पोषण आहार पहुंचाने की बात हो या फिर कोरोना के सुरक्षा के उपाय लोगों को बताने का छत्तीसगढ़ की महिलाएं प्रेरक भूमिका निभा रही हैं। महिलाएं हमेशा से प्रेरणा देती हैं। #COVID-19 से लड़ाई में छत्तीसगढ़ की महिलाएं प्रेरक भूमिकाएं निभा रही हैं। चाहे पोषण आहार पहुंचाने की बात हो या फिर कोरोना से सुरक्षा के उपाय लोगों को बताने का। उनके ज़ज़्बे को मेरा सलाम। pic.twitter.com/y7MwIrIoB2 — Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) April 3, 2020
मुख्यमंत्री के निर्देश पर स्कूलों में सूखा मध्यान्ह भोजन का वितरण प्रारंभ, छत्तीसगढ़ के लगभग 29 लाख बच्चों को मिलेगा लाभ

मुख्यमंत्री के निर्देश पर स्कूलों में सूखा मध्यान्ह भोजन का वितरण प्रारंभ, छत्तीसगढ़ के लगभग 29 लाख बच्चों को मिलेगा लाभ

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर। नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण की रोकथाम के उद्देश्य से राज्य शासन ने सभी स्कूल लॉकडाउन की स्थिति में 14 अप्रैल तक बंद कर दिए है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देश पर अवकाश अवधि में स्कूली बच्चों को मध्यान्ह भोजन दिए जाने का निर्णय लिया गया है। राज्य के लगभग 29 लाख बच्चों को मध्यान्ह भोजन योजना का लाभ उठाते हैं। जिसमें 18 लाख प्राथमिक स्कूल के और 11 लाख बच्चे अपर प्राथमिक शाला में अध्ययनरत हैं। शासन के निर्देशानुसार राज्य के सभी 28 जिलों में मध्यान्ह भोजन योजना अंतर्गत सूखा राशन वितरण किया गया। इसके वितरण के लिए 3 और 4 अप्रैल की तिथि निर्धारित है। यदि वितरण 2 दिन में पूरा नहीं होता तो इसे और आगे भी बढ़ाया जाएगा। राज्य में फ्लेक्सी मद से 4 जिलों और मुख्यमंत्री अमृत योजना के तहत 2 जिलों में सुगंधित सोया मीठा दूध भी पिलाया गया स्कूलों में सामाजिक दूरी बनाए रखते
मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री को लिखा पत्र : रायपुर के अम्बेडकर अस्पताल के माइक्रोबायलॉजी विभाग को कोरोना वायरस टेस्टिंग हेतु अधिकृत करने का आग्रह

मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री को लिखा पत्र : रायपुर के अम्बेडकर अस्पताल के माइक्रोबायलॉजी विभाग को कोरोना वायरस टेस्टिंग हेतु अधिकृत करने का आग्रह

chhattisgarh, Govt Schemes, india, News, special
रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को पत्र लिखकर छत्तीसगढ़ में नोवेल कोरोना वायरस टेस्टिंग के केन्द्रों की संख्या में वृद्धि का आग्रह किया है। श्री बघेल ने पत्र में लिखा है कि राजधानी रायपुर के डॉ. भीमराव अम्बेडकर स्मृति चिकित्सालय रायपुर के माइक्रोबायलॉजी विभाग को नोवेल कोरोना वायरस टेस्टिंग हेतु अधिकृत किया जाना चाहिए। यहां कोरोना वायरस की जांच के लिए सभी सुविधाएं उपलब्ध हैं। मुख्यमंत्री ने पत्र में लिखा है कि भारत सरकार द्वारा नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण को राष्ट्रीय आपदा घोषित किया गया है तथा छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा इसे सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ में संक्रामक रोग घोषित किया गया है। राज्य में कोरोना वायरस (कोविड-19) के महामारी से बचाव हेतु समुदाय स्तर पर सक्रिय निगरानी कर मरीज की त्वरित पहचान व उपचार किया जा रहा है। उन्होंने
रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दिया निर्देश – ‘कोरोना संकट और लाॅकडाउन के लिए छत्तीसगढ़ के कर्मचरियों के वेतन से नहीं होगी कटौती’

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दिया निर्देश – ‘कोरोना संकट और लाॅकडाउन के लिए छत्तीसगढ़ के कर्मचरियों के वेतन से नहीं होगी कटौती’

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कोरोना संकट और लाॅकडाउन के दौरान छत्तीसगढ़ सरकार के अधिकारी-कर्मचारियों के वेतन से किसी प्रकार की कटौती नहीं करने का निर्णय लिया है। कोविड-19 के संक्रमण से निपटने के लिए राज्य सरकार द्वारा व्यापक प्रयास और इंतजाम किए जा रहे हैं। कई राज्य सरकारों ने कर्मचारियों के वेतन से कोरोना संकट के लिए अनिवार्य कटौती के आदेश किए हैं जारी मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा है कि राज्य शासन के अधिकारी-कर्मचारी स्वेच्छा से संकट की इस घड़ी में मुख्यमंत्री सहायता कोष में अपना आर्थिक योगदान कर सकते हैं। छत्तीसगढ़ शासन ने राज्य के सभी निजी औद्योगिक और व्यापारिक संस्थानों से भी यह कहा है कि वे लाॅकडाउन के दौरान अपने कर्मियों का वेतन नहीं काटे। यदि कोई कर्मचारी स्वेच्छा से आर्थिक योगदान करना चाहे तो कर सकता है। उल्लेखनीय है कि देश के कतिपय राज्यों में वहां की सरकार ने कोर
मुख्यमंत्री ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को लिखा पत्र :  कहा खुद के साथ बच्चों और माताओं के स्वास्थ्य का रखें ख्याल

मुख्यमंत्री ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को लिखा पत्र : कहा खुद के साथ बच्चों और माताओं के स्वास्थ्य का रखें ख्याल

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने प्रदेश की सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को छत्तीसगढ़ी में पत्र लिखकर कहा कि इस संकट की घड़ी में आप लोगों को फिर से गंभीर जिम्मेदारी निभाने की जरूरत है। आपकी जिम्मेदारी है कि आप खुद के स्वास्थ्य के साथ-साथ बच्चों और माताओं के स्वास्थ्य का ध्यान रखें और उनकों पोषण आहार उपलब्ध कराएं। श्री बघेल ने छत्तीसगढ़ी में लिखा पत्र: कहा मिलके लड़बो अऊ कोरोना ला हराबो मुख्यमंत्री ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से कहा कि मिलके लड़बो अऊ कोरोना ला हराबो। उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस के कारण सब तरफ संकट मंडराया हुआ है। इस बीमारी से बचने के लिए एक ही उपाय है कि हम लोग घर के अंदर रहें और सुरक्षित रहने के तरीका का समुचित रूप से पालन करें। आप सभी गांव-गावं में सभी लोगों के संपर्क में रहते हैं और आपके समझाइश को लोग मानते भी हैं। इस संकट की घड़ी में आप लोगों को फिर से गंभीर जिम्