chhattisgarh news media & rojgar logo

छात्र मिलन समारोह में सीएम बघेल बोले, “फोन टैपिंग के डर से सीएस तक वाॅट्सएप कॉल करते थे, अब ऐसा नहीं होगा”

रायपुर (एजेसी) | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल रविवार को नागार्जुन स्नातकोत्तर विज्ञान महाविद्यालय पहुंचे। मौका था पूर्व छात्रों के मिलन समारोह का, जिसके भूपेश बघेल मुख्य अतिथि थे। बघेल ने यहां विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि पिछली सरकार के समय भय का माहौल था। यहां तक की तब सीएस रहे विवेक ढांड भी फोन पर बात करने से डरते थे, वे वाॅट्सएप कॉल करते थे।

बघेल ने भरोसा दिलाया कि प्रदेश में अब फोन टैपिंग कभी नहीं होगी। भाजपा को इस मामले में समर्थन करना चाहिए। पूर्व मंत्री ननकीराम कंवर ने इसका समर्थन किया है। उन्हें धन्यवाद देते हैं। समारोह में पूर्व सीएस विवेक ढांढ भी मौजूद थे।

समारोह में बघेल ने कहा कि 18 साल में पहली बार छत्तीसगढ़ियों की सरकार बनी है। हर छत्तीसगढ़ी को महसूस होना चाहिए कि ये उनकी सरकार है। बघेल ने आगे कहा कि आज पुराने दोस्तों से मिलकर ऐसा लग रहा है, जैसे मेले में बिछड़े जुड़वा भाई मिले हों। उन्होंने छात्रों से कहा कि हम सब मिलकर सुंदर छत्तीसगढ़ बनाएंगे। आज वक्त है पूर्वजों के सपने साकार करने का। सरकार विकसित और समृद्ध राज्य बनाने के लिए तेजी से कदम उठा रही है।

हाल के दिनों में फोन टैपिंग प्रदेश में बड़ा मुद्दा हो गया है। पिछली सरकार पर इंटेलिजेस इनपुट के नाम पर राजनीति, प्रशासन और मीडिया से जुड़े लोगों के फोन टैप कराने के आरोप हैं। झीरम कांड के बाद से आरोपों का यह सिलसिला चल रहा है। पुराने पीएचक्यू में तो बाकायदा एक प्रायवेट इंटरसेप्चर एक्सचेंज भी आॅपरेट करने की बात आई। कांग्रेस ने सरकार में आने के बाद टैपिंग की जांच के लिए एसआईटी बना दी। मामले में डीजी मुकेश गुप्ता और एसपी रजनेश सिंह पर केस दर्ज किया गया है। दोनों की दिल्ली-यूपी में तलाश की जा रही है।

Leave a Reply