chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

नक्सलियों के हमले में दूरदर्शन का एक कैमरामैन समेत दो जवान हुए शहीद, भावुक एसपी बोले, “30 जवानों ने 300 नक्सलियों को भागने पर मज़बूर कर दिया।”

प्रतीकात्मक फोटो 

दंतेवाड़ा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले के अरनपुर में नक्सलियों ने मंगलवार को करीब सुबह 6 बजे गांव के विकास कार्यों की रिपोर्टिंग कर रहे दूरदर्शन मीडियाकर्मियों पर हमला कर दिया। नक्सलियों ने कैमरामैन को काफी करीब से गोली मार दी जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। इसके बाद नक्सलियों की पुलिस से मुठभेड़ हुई। इसमें दो जवान शहीद हो गए।




घटना के बारे में बताते हुए दंतेवाड़ के एसपी अभिषेक पल्लव भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि शहीदों और 30 अन्य जवानों को मैं शाबाशी देना चाहूंगा। उन्हीं के कारण 300 नक्सली भागने को मजबूर हुए। आपको बता दे कि फायरिंग में एएसआई रुद्र प्रताप और सहायक आरक्षक मंगलराम शहीद हो गए। कैमरामैन अच्युतानंद साहू की भी मौत हो गई।

नक्सलियों ने घात लगाकर हमला 

अरनपुर थाने से सुबह करीब 6 बजे जवान सर्चिंग के लिए निकले थे। दूरदर्शन के कैमरामैन और दिल्ली से आए दो रिपोर्टर भी उनके साथ थे। सुबह करीब 11 बजे जिला मुख्यालय से करीब 30 किलोमीटर दूर नीलावाया के जंगलों में नक्सलियों ने सुरक्षाबलों की टीम को घेर लिया और फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग में एएसआई रुद्र प्रताप और सहायक आरक्षक मंगलराम शहीद हो गए। कैमरामैन अच्युतानंद साहू की भी मौत हो गई।

भावुक एसपी अपने आंसू नहीं रोक पाए 

दंतेवाड़ा के एसपी अभिषेक पल्लव ने कहा, ‘‘मीडियाकर्मी लोगों से यह पूछ रहे थे कि विकास और पुलिस-प्रशासन के बारे में उनकी क्या राय है? गांव वालों की नक्सली 10 दिन से पिटाई कर रहे थे। इसी बौखलाहट में नक्सलियों ने मीडिया पर हमला कर दिया। दो रिपोर्टर्स 150 मीटर रेंगकर गए। नक्सलियों ने उन्हें पास आकर मारने की कोशिश की। तब मेरे एक सहायक आरक्षक ने कूदकर उन्हें धक्का दिया।’’ यह कहते हुए एसपी भावुक हो गए। उन्होंने आगे कहा, ‘‘गोलीबारी में वह शहीद हो गया। मैं उन्हें शाबाशी देता हूं। हमारे 30 जवान थे, जिन्होंने 300 नक्सलियों को भागने को मजबूर किया। ऐसा नहीं होता तो 30 जवान शहीद हो सकते थे।

नक्सलियों ने चुनाव बहिष्कार की धमकी दी

डीआईजी (नक्सल) पी सुंदर ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सीआरपीएफ और स्थानीय पुलिस के जवान एरिया डॉमिनेशन के लिए निकले थे। अरनपुर में पहली बार वोटिंग होनी है। नक्सलियों ने चुनाव बहिष्कार की धमकी दी है।

12 नवंबर को 8 नक्सल प्रभावित जिलों में होना है मतदान

छत्तीसगढ़ में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने हैं। यहां दो चरणों में 12 नवंबर और 20 नवंबर को मतदान होगा। पहले चरण में 8 नक्सल प्रभावित जिलों की 18 सीटों पर चुनाव होगा। इनमें बस्तर, कंकेर, सुकमा, बीजापुर, दंतेवाड़ा, नारायणपुर, कोंडागांव और राजनांदगांव शामिल हैं। नतीजे 11 दिसंबर को आने हैं।

बीजापुर में हमले में चार जवान हुए थे शहीद

इससे पहले शनिवार को बीजापुर जिले के मुरदंडा में नक्सलियों ने जवानों की बख्तरबंद गाड़ी आईईडी ब्लास्ट कर उड़ा दी थी। विस्फोट में चार जवान शहीद हो गए थे।



RO No - 11069/ 14
CM Bhupesh Bhagel Mandi ko Maar

Leave a Reply