chhattisgarh news media & rojgar logo

रायपुर: नगर निगम के सार्वजनिक नल में मिला सांप, दो दिन पहले केंद्र ने अपनी रिपोर्ट में बताया था क्वालिटी को बेस्ट

रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में लोगों को पीने के लिए साफ पानी नहीं मिल रहा है। सोमवार को शहर के तात्यापारा इलाके में पीने के पानी में सांप निकल आया। खास बात यह है कि केंद्र सरकार की एक रिपोर्ट बीते शनिवार को जारी हुई थी, जिसमें देश के टॉप 5 शहरों में रायपुर शामिल हैं, जहां अच्छी क्वालिटी का पानी लोगों को मिल रहा है। अब नल से निकल आया जिंदा सांप को लेकर आम लोग पूछ रहे हैं यह किस तहर की क्वालिटी हुई भला।

निगम के अधिकारी बच रहे जवाब देने से

महापौर प्रमोद दुबे, शहर के नगर निगम के कमिश्नर शिव अनंत तायल मीडिया को इस मामले में कोई सही जवाब नहीं दे रहे। फोन पर भी उनसे संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने कॉल रीसीव ही नहीं किया। जानकारी के मुताबिक स्थानीय स्तर पर लोगों की शिकायत मिलने पर कुछ कर्मचारी मौके पर पहुंचे और जांच करने का आश्वासन देकर चले गए।

पानी की क्वालिटी से जुड़ी रिपोर्ट केंद्रीय खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने जारी की। भारतीय मानक ब्यूरो ने इस रिपोर्ट को तैयार किया। मुंबई, हैदराबाद, भुवनेश्वर, रांची और रायपुर के पानी की क्वालिटी को अच्छा माना गया। दिल्ली के पानी की क्वालिटी को इस रिपोर्ट ने घटिया माना । इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद पूरे गर्व से मीडिया को बयान देते हुए रायपुर के महापौर प्रमोद दुबे ने कहा था कि पानी की मात्रा के साथ ही शुद्धता पर लगातार काम करने का ही परिणाम है कि हमारा पानी शुद्धता के मामले में देश में पांचवें नंबर पर है।

मैं खेद प्रकट करता हूं

पानी से सांप निकलने की बात सामने आने के कुछ घंटों बाद, नगर निगम के जल कार्य विभाग के अध्यक्ष नागभूषण राव ने इस मुद्दे पर बात की। उन्होंने कहा कि पाइप लाइन में कहीं लिकेज होगा, वहां से सांप घुस गया होगा। यह  डिस्ट्रीब्यूशन लाइन की समस्या है, यह बेहद चिंता जनक है क्षेत्र अधिकारी इसके लिए पूरी तरह से जिम्मेदार हैं, यह मॉनिटरिंग में चूक है। मैं इस पर खेद प्रकट करता हूं इस तरह गड़बड़ी नहीं होनी चाहिए, यह बहुत बड़ी बात है।

Leave a Reply