chhattisgarh news media & rojgar logo

पोस्टल अधीक्षक ने की खुदकुशी, भ्रष्टाचार मामले में शामिल कर्मी बना रहे थे दबाव

रायगढ़ | पोस्ट ऑफिस के रायगढ़ रीजन के पोस्टल सुपरिटेंडेंट डीके पंडा ने रविवार की सुबह रायपुर स्थित अपने निवास में जहर खाकर जान दे दी। वे पिछले डेढ़ वर्षों से रायगढ़ में पदस्थ थे, पुसौर ब्लाक के पड़िगांव के पंडा अपने परिवार के साथ रायपुर में रहते थे। गांव के लोगों के साथ ही ऑफिस के कर्मचारियों को हादसे का पता चलने के बाद सभी सकते में हैं।

स्थानीय पोस्टल विभाग के कर्मचारी और परिवार से नजदीकी लोगोंं ने बताया कि पंडा पिछले काफी दिनों से कामकाज को लेकर काफी दबाव में थे। तीन वर्ष पहले कोरिया जिले में उनकी पोस्टिंग के दौरान जनकपुर में विभाग में भ्रष्टाचार का उन्होंने खुलासा किया था। इसमें 3 कर्मचारियों ने वित्तीय अनियमितता की थी। मामले में कर्मचारियों की गिरफ्तारी भी हुई थी। यह मामला अभी कोर्ट में चल रहा है। पंडा की रायगढ़ पोस्टिंग के बाद कोरिया के दोषी कर्मचारियों द्वारा पोस्टल सुपरिटेंडेंट पंडा दबाव बनाया जा रहा था।




2017 में हुई थी पदस्थापना

विभाग के कर्मचारी बताते हैं कि पिछले वर्ष फरवरी 2017 में उनकी पोस्टिंग रायगढ़ में हुई थी। इससे पहले वे नार्थ ईस्ट में पोस्टेड थे। यहां उनकी पोस्टिंग होने वे शहर में अकेले ही रहते थे, छुटि्टयों में वे अपने घर रायपुर जाते थे। पिछले हफ्ते लगातार चुनाव के बाद छुटि्टयों में वे रायपुर चले गए थे।

यहां कई अहम काम किए

रायगढ़ पोस्टिंग के दौरान यहां पर उन्होंने कई अहम काम किए थे। शहर में पासपोर्ट सेवा केन्द्र स्थापना को लेकर उन्होंने मुख्य डाक घर में डाक विभाग एवं पासपोर्ट से जुड़े अफसरों का निरीक्षण कराकर एक बड़े हाल में काम शुरू करा दिया था, जो दिसंबर तक पूरा कराकर केंद्र को अगले माह ही शुरू करने की योजना भी उन्होंने बनाई थी। इसी तरह जिले में पोस्ट पेमेंट बैंक को 65 उप डाकघर और 637 शाखा डाक घरों में खोलने की काम भी शुरू करा दिया था, इसे भी अगले माह दिसंबर तक खोलने की योजना उनकी थी।



One Comment

  • Smiles

    Kya yah news yai paper tak hi he ya aage iski janch hogi .
    Kisi bade adhikari dwara abhi tak koi jawab kyo ni mila .

Leave a Reply