chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

शराब के नशे में धुत कांस्टेबल ने डिप्टी डायरेक्टर के बंगले में घुसा दी बस, भड़के डीजीपी

रायपुर (एजेंसी) | पुलिस की क्यूआरटी बस के ड्राइवर रंग साय मरकाम ने शराब के नशे में गाड़ी मंत्रालय में पदस्थ डिप्टी डायरेक्टर गिरिश काले के बंगले में घुसा दी। पास वाले बंगले में रह रहे प्रदेश के डीजीपी डीएम अवस्थी मौके पर पहुंचे पुलिस की लापरवाही पर जमकर भड़के। अधिकारियों के देर से मौके पर पहुंचने पर उन्होंने खूब लताड़ लगाई।

बता दें कि वित्त विभाग के डिप्टी डायरेक्टर गिरिश काले का बंगला डीजीपी डीएम अवस्थी के बंगले से लगा हुआ है। लिहाजा इस हादसे के बाद खुद डीजीपी डीएम अवस्थी भी यहां पहुंच गए।

सिविल लाइन्स में है बंगला

मंत्रालय में डिप्टी डायरेक्टर गिरीश कर्ले का बंगला सिविल लाइंस में है। यहीं बगल में डीजीपी और पास में ही प्रदेश के कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव का बंगला है। रविवार को सुबह करीब साढ़े नौ बजे कांस्टेबल रंग कुमार मरकाम पुलिस की क्यूआरटी बस लेकर जा रहा था। मरकाम शराब के नशे में धुत था। उसने बस डिप्टी डायरेक्टर के बंगले में घुसा दी। बस बंगले की दीवार को तोड़ भीतर घुस गई। जोरदार धमाके की आवाज के बाद सभी चौकन्ना हो गए।

अधिकारियों पर भड़के डीजीपी

बस के दीवार तोड़कर भीतर घुसने के बाद इलाके में सुरक्षा की पोल खुल गई। डीजीपी ने एसपी समेत राजधानी के सभी आला अधिकारियों को सूचित किया। वे खुद मौके पर डटे रहे। अधिकारियों के देरी से पहुंचने पर वे जमकर भड़के और उन्हें लताड़ लगाई। डीजीपी ने शराब पीकर बस चला रहे कांस्टेबल के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए।

नाराज डीजीपी ने आरोपी नगर सैनिक के खिलाफ गैर जमानती धाराओं में केस दर्ज करने के दिये निर्देश दिए। साथ सिविल लाइन थाने के टीआई को ताकीद किया कि आरोपी की जमानत नहीं होनी चाहिए। सिविल लाइन पुलिस ने आरोपी नगर सैनिक किया गिरफ्तार कर थाने ले गई।

Leave a Reply