Shadow

पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह के निजी सचिव ओपी गुप्ता पर छात्रा के यौन शोषण का आरोप, 16 जनवरी तक भेजा गया जेल

gupta-cm-raman-sachiv

रायपुर | छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के निजी सहायक ओमप्रकाश गुप्ता को नाबालिग छात्रा के यौन शोषण मामले में न्यायिक हिरासत में 16 जनवरी तक जेल भेज दिया गया है। अोपी गुप्ता को पुलिस ने गुरुवार को जस्टिस राधिका सैनी की फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश किया, यहां से उसे जेल भेजने के आदेश दिए गए। राजनांदगांव की रहने वाली नाबालिग छात्रा ने गुप्ता पर यौन शोषण का आरोप लगाया है। उसकी शिकायत पर रायपुर की राखी थाना पुलिस ने बुधवार देर रात ओपी गुप्ता को उसके घर से गिरफ्तार किया था। आरोपी गुप्ता पहले पूर्व सीएम सिंह का ओएसडी था। अभी निजी सचिव (पीए) के तौर पर काम कर रहे थे।

मीडिया को देख मुंह छिपाता रहा ओपी गुप्ता, बोला- मुझे कुछ नहीं कहना

इससे पहले पुलिस सुबह रायपुर के पंडरी स्थित जिला अस्पताल में ओपी गुप्ता का मेडिकल कराने के लिए लेकर पहुंची। इस दौरान मीडिया को देखकर ओपी गुप्ता अपना मुंह छिपाते रहे। आराेपी से छात्रा के यौन शोषण को लेकर सवाल पूछा गया तो उसने ‘मुझे कुछ नहीं कहना है’ कहकर बात करने से इनकार कर दिया।

इधर, भाजपा ने गुप्ता की गिरफ्तारी से अपना पल्ला झाड़ लिया है। प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव का कहना है कि ये ‘ओपी गुप्ता का निजी मामला है। भाजपा का इससे कोई लेना-देना नहीं है। पार्टी को इसकी जानकारी भी नहीं है। वहीं, पूर्व सीएम रमन सिंह ने कहा है कि पुलिस से तथ्यों काे लेकर जानकारी मांगी गई है। इसके बाद ही कुछ कह पाएंगे।

पढ़ाई के दौरान किशोरी ने दो साल तक यौन शोषण करने का लगाया है आरोप

राजनांदगांव के एक गांव की रहने वाली किशोरी को उसके पिता पढ़ाई के लिए वर्ष 2016 में गुप्ता आवास पर छाेड़ गए थे। यहां छात्रा पढ़ाई के साथ घरेलू काम किया करती थी। तब नाबालिग 8वीं कक्षा की छात्रा थी। वर्ष 2016 से दिसंबर 2019 के बीच उसका कई बार शारीरिक शोषण किया गया गया। आरोपी गुप्ता ने नया रायपुर स्थित अपने सरकारी आवास में छात्रा से दुष्कर्म किया। विरोध करने पर आरोपी उसे जान से मारने की धमकी देता था।

छात्रा का कहना है कि उसके पिता भी मिलने के लिए कम ही आते थे, ऐसे में वह डर गई थी। बाद में छात्रा ने सारी बात परिजन को बताई। पहले तो वह डर से चुप रहे, लेकिन फिर एक एनजीओ के माध्यम से महिला थाने में इसकी शिकायत दर्ज कराई गई। पुलिस की ओर से मामले की जांच में पुष्टि होने के बाद बुधवार देर रात 2 बजे ओपी गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया गया।

RO-11243/71

Leave a Reply