chhattisgarh news media & rojgar logo

नए डीजीपी डीएम अवस्थी ने लिया चार्ज, सौम्या चौरसिया मुख्यमंत्री की उपसचिव बनीं

रायपुर (एजेंसी) | प्रदेश के नए डीजीपी डीएम अवस्थी ने गुरुवार को पदभार ग्रहण कर लिया। वे गुरुवार सुबह पुलिस मुख्यालय पहुंचे। उन्होंने  एएन उपाध्याय से चार्ज लिया। राज्य सरकार ने अवस्थी को राज्य का नया डीजीपी नियुक्त किया है। डीएम अवस्थी 1986 बैच के आईपीएस अफसर हैं। अवस्थी के पास फिलहाल एसीबी ईओडब्लू समेत नक्सल का भी चार्ज है। एएन उपाध्याय के पास पुलिस हाउसिंग कॉर्पोरेशन का प्रभार होगा।

गुरुवार को ही मुख्यमंत्री सचिवालय से एक और नियुक्ति आदेश जारी किया गया। राज्य प्रशासनिक सेवा की 2008 बैच की अधिकारी सौम्या चौरसिया को मुख्यमंत्री का उप सचिव  नियुक्त किया गया है। फिलहाल वे रायपुर नगर निगम में अपर आयुक्त पद पर पदस्थ हैं।






सौम्या चौरसिया ने अपने कॅरियर की शुरुआत बिलासपुर जिले से की थी। वे 2008 से 2011 तक बिलासपुर जिले में पदस्थ रहीं। उन्होंने पेंड्रा और बिलासपुर में एसडीएम पद का दायित्व बखूबी निभाया। 2011 से 2016 तक वे दुर्ग जिले में पदस्थ रहीं। यहां उन्होनें भिलाई और पाटन में एसडीएम पद का दायित्व संभाला। इसके बाद भिलाई चरौदा नगर निगम की पहली आयुक्त बनाई गईं थी। 2016 में इनको रायपुर नगर निगम में अपर आयुक्त की जिम्मेदारी दी गई थी।

इसलिए किया गया डीएम अवस्थी का चयन

नक्सल मोर्चे पर तीन साल में कई सफल मुठभेड़ें और अभियान: डीएम अ‌वस्थी 2004 में रायपुर एसपी बने और उसके बाद ही अपनी तेजतर्रार पुलिसिंग तथा अन्वेषण के लिए चर्चा में आए। इसी वजह से उन्हें इंटेलिजेंस जैसी महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां मिलीं। 3 साल पहले अवस्थी स्पेशल डीजी नक्सल आपरेशंस बनाए गए। इन तीन सालों में फोर्स और नक्सलियों के बीच सबसे ज्यादा मुठभेड़ें हुईं और कई ऑपरेशंस सफल रहे। अवस्थी को नक्सल इलाके में पुलिस का खुफिया तंत्र मजबूत करने के मामले में भी जाना जाता है।

पुलिस के लिए 10 हजार मकान और 200 थाने बनवाए: अवस्थी पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन के एमडी बनाए गए, उसके बाद से अब तक कार्पोरेशन ने प्रदेशभर में पुलिस के 10 हजार से ज्यादा मकान बनवाए हैं। बेहद जर्जर मकानों में रहने वाली पुलिस के लिए इतने मकानों का निर्माण अब तक किसी राज्य में नहीं हुआ। इसके अलावा उन्हीं के कार्यकाल में प्रदेशभर में 200 से ज्यादा थाना भवनों का नए सिरे से निर्माण किया गया और उनमें वह सुविधाएं उपलब्ध करवाई गईं, जिनकी पुलिसिंग में आवश्यकता है।



Leave a Reply