chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

किन्नर विवाह समारोह: शादी करने आए किन्नरों को नहीं मिले 1 लाख नकद, 50 हजार का सामान; फिल्म निर्माता को बंधक बना पीटा

रायपुर (एजेंसी) | थर्ड जेंडर की शादी कराने वाले फिल्म निर्माता सुरेश शर्मा को किन्नरों ने ही रविवार को दिनभर रायपुर के पुजारी पार्क में बंधक बनाए रखा। उनकी पिटाई भी कर दी। वजह फिल्म निर्माता ने किन्नरों को शादी करने पर एक लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि और 50 हजार रुपए की गृहस्थी सामग्री देने का वादा किया था। लेकिन विदाई के वक्त वह पैसे देने से मुकर गया। विवाद बढ़ा तो सुबह किन्नरों को चेक थमा दिया जो 2010 का निकला। इसी पर किन्नर और भड़क गए और फिल्म निर्माता की पिटाई कर दी।

प्रोत्साहन राशि के भरोसे ही किसी ने शादी के लिए महंगे कपड़े और जेवर खरीदे तो कोई गुजरात से बस किराया कर अपने रिश्तेदारों के साथ छत्तीसगढ़ पहुंच गया। शादी तो निपट गई, लेकिन विदाई के वक्त आयोजक पैसे देने से मुकर गया। मामले ने तूल पकड़ा और किन्नरों ने आयोजक को समारोह स्थल पुजारी पार्क के ही एक कमरे में बंधक बना लिया।

फिल्म के प्रमोशन के लिए किया था आयोजन

किन्नरों का आरोप है कि फिल्म निर्माता ने थर्डजेंडर की जिंदगी पर ‘हंसा एक संयोग’ नामक फिल्म बनाई है। इसी फिल्म को प्रमोट करने के लिए उसने ऐसे विवाह समारोह का आयोजन किया जिसने राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लोगों का ध्यान खींचा।

शादी से प्रमोशन मिल गया तो फिल्म निर्माता वादे से मुकर गया। दरअसल, शादी करने पहुंचे 15 जोड़ों में 2 गुजरात, 2 पश्चिम बंगाल और 2 जोड़े मध्यप्रदेश के थे। जबकि 7 जोड़े छत्तीसगढ़ के थे। ज्यादातर जोड़े पहले से लिव इन में रह रहे थे। इन्हें बताया गया कि चित्रग्राही फिल्म्स और समाजसेवी संगठनों द्वारा रायपुर में किन्नरों के सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया है। सभी जोड़ों को प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। सामाजिक मान्यता के साथ नई जिंदगी बसाने का ख्वाब संजोए किन्नरों ने शादी के लिए पंजीयन करा लिया।

दिनभर पुलिस बैठी रही, दोबारा पिटाई हुई तो रात को थाने ले गई

पुलिस शनिवार रात को ही मौके पर पहुंच गई थी। फिल्म निर्माता अपने 2 साथियों के साथ अंदर था और किन्नर बाहर हंगामा कर रहे थे। सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने फिल्म निर्माता और उसके साथियों को कमरे में ही रखा। दिनभर फिल्म निर्माता इधर-उधर फोन लगाकर फंड का इंतजाम करने की बात कहता रहा। देर रात तक जब पैसे नहीं मिले तो कुछ किन्नरों ने अंदर घुसकर फिल्म निर्माता से दोबारा हाथापाई की। इसके बाद पुलिस फिल्म निर्माता को कोतवाली थाना लेकर चली गई।

आज 10 बजे तक 50 हजार देने का वादा, बाकी पैसे फिल्म रिलीज के बाद

आयोजक सुरेश शर्मा का कहना है कि रविवार को सारे बैंक बंद थे। इस वजह से वह प्रोत्साहन राशि नहीं दे पाया। आयोजक का दावा है कि सुबह 10 बजे तक वह किन्नरों को पैसे दे देगा, लेकिन एक जोड़े को 50 हजार रुपए ही देगा। बाकी पैसे और गृहस्थी का सामान फिल्म रिलीज होने के बाद देने की बात कही है। इधर, किन्नरों ने पूरे पैसे नहीं देने पर कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी है। फिल्म भी रिलीज नहीं होने देने की धमकी दी है।

Leave a Reply