chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

भारत माता की जय बोलने पर स्कूल में रोक, परिजनों ने किया प्रदर्शन

कांकेर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के निजी स्कूल में भारता माता की जय का नारे पर रोक लगाने को लेकर शुक्रवार को हंगामा हो गया। परिजनों और कई संगठनों ने स्कूल पर आरोप लगाते हुए प्रदर्शन शुरू कर दिया। साथ ही स्कूल प्रबंधन के खिलाफ प्रशासन ने शिकायत करने की भी बात कही। यह स्कूल क्रिश्चियन समुदाय की ओर से संचालित किया जाता है।

लोग धरने पर बैठने के साथ ही नारेबाजी करने लगे। उन्होंने स्कूल प्राचार्य का पुतला भी फूंका। हंगामा बढ़ने पर स्कूल प्रशासन भी सामने आ गया और उसने सफाई दी है कि इस तरह के नारे लगाने पर कोई रोक नहीं लगाई गई है। वहीं नारेबाजी को लेकर सियासत भी शुरू हो गई है और भाजपा- कांग्रेस आमने-सामने हो गए हैं।

कांग्रेस बोली- जांच में सही मिला तो लगेगा स्कूल पर प्रतिबंध

दरअसल, भानुप्रतापपुर में संचालित जोसेफ इंग्लिश मीडियम स्कूल में शुक्रवार सुबह बच्चों के परिजनों के साथ ही कुछ हिंदूवादी संगठन पहुंच गए। वहां धरने पर बैठने के साथ ही नारेबाजी करने लगे। उन्होंने स्कूल प्राचार्य का पुतला भी फूंका। आरोप है कि स्कूल परिसर में भारत माता की जय बोलने पर बैन है। बच्चों को ये नारा लगाने से रोका जाता है और नारा लगाने की स्थिति में उनपर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी जाती है। यह भी आरोप लगाया कि स्कूल क्रिश्चियन समुदाय के लोगों द्वारा संचालित किया जाता है, इसलिए यहां भारत माता की जय बोलने पर प्रतिबंध लगाया गया है।

वहीं इस हंगामे के बीच अब सियासत भी शुरू हो गई है। भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने हैं और एक दूसरे पर गंभीर आरोप भी लगा रहे है। भाजपा प्रवक्ता केदार गुप्ता का कहना है कि स्कूल में ही संस्कृति और परंपरा सिखाई जाती है। भारत माता के जय पर इस तरह के प्रतिंबध लगाने वालों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। वहीं कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी का कहना है कि मामले की पुष्टि होने के बाद अगर इस तरह की बात सामने आती है तो स्कूल के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।  उन्होने कहा कि प्रदेश में कहीं भी भारत माता की जय या वंदे मातरम बोलने पर प्रतिबंध नहीं है।

Leave a Reply