chhattisgarh news media & rojgar logo

नक्सलियों की गॉंव वालों को धमकी, खेती बंद करो नहीं तो जाओगे

जगदलपुर (एजेंसी) | जबसे लोकसभा चुनावो की तारीखों की घोषणा हुई है तब से नक्सलियों का उत्पाद कुछ ज्यादा ही देखने को मिल रहा है। वैसे तो नक्सलियों का कोई विशेष दिन नहीं होता। ये आए दिन गॉंव वालो को परेशान करने के नए नए हथकंडे अपनाते रहते है। इसी क्रम में जगलपुर जिले के दरभा के कोलेंग इलाके में नक्सलियों का उत्पात फिर से शुरू हो गया है। यहां नक्सली पूरी मजबूती से अपना प्रभाव कायम करने में लगे हुए हैं।

कोलेंग कैंप से महज सात किमी दूर छिंदगुर पंचायत में नक्सली रोज रोज आना जाना कर रहे हैं और ग्रामीणों से मारपीट कर रहे हैं। ग्रामीणों से मारपीट तक की बात तो अंदर ही दब गई लेकिन दो दिनों पहले जब नक्सली फिर से इस गांव में आए। यहां के ग्राम पटेल व अन्य लोगों की पिटाई करते हुए गॉंव के दस लोगों को मारने की बात कही।

खेती करना बंद कर दो नहीं तो मार दिए जाओगे

गांव वालों पर खेती किसानी करने से भी रोक लगा दी तो डरे सहमे गांव वालों को मजबूरी में शहर आना पड़ा। सोमवार को इस इलाके के दर्जनों ग्रामीण कलेक्टर के पास पहुंचे और गांव में सीआरपीएफ कैंप खोलने की मांग की। कलेक्टर को सौंपे गए पत्र में इलाके के तीन गांवों के लोगों ने कहा कि नक्सली अक्सर गांव में आते हैं मारपीट करते हैं हम इसकी जानकारी कोलेंग सीआरपीएफ कैंप को भी देते हैं लेकिन कोलेंग कैंप का डर नक्सलियों में नहीं है।

अब इन नक्सलियों को कौन समझाए सभी गॉंव वाले तो नक्सलियों की तरह लूट पात नहीं करते। उनकी आय और जीविका का जरिया ही कृषि है। क्या नक्सली आदिवासियों को उनके जंगलो से खदेड़ देना चाहती है, ताकि अपना जंगल राज चला सके। ये तो सरकार काम है कि इन गरीब वनवासियों को सुरक्षा दे।

Leave a Reply