chhattisgarh news media & rojgar logo

हाउसिंग बोर्ड की 4 कॉलोनियों में नहीं बिक रहे घर, अब 20 % घटाई कीमत, 10 से 35 लाख रुपए तक मिलेंगे

housing-board

रायगढ़. गृह निर्माण मंडल ने खाली पड़े ईडब्ल्यूएस, एलआईजी और एमआईजी मकान और फ्लैट्स की कीमत 20 प्रतिशत तक घटाने का फैसला किया था। शहर के साथ खरसिया, धरमजयगढ़, पुसौर जैसे इलाकों के भी हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के मकानों के दाम भी घटाए गए हैं। शहर में कोतरा रोड, अतरमुड़ा, सर्किट हाऊस, जूटमिल, कबीर चौक जैसे इलाकाें के हाउसिंग बोर्ड कॉलोनियों में अलग-अलग कैटेगरी के मकान खाली हैं।

इन मकानों में छूट मिलेगी

हाउसिंग बोर्ड के कोतरा रोड स्थित अटल विहार में फ्लैट में एलआईजी, एमआईजी फ्लैट, अतरमुड़ा स्थित अटल विहार में एमआईजी मकान, सर्किट हाऊस स्थित भवानी शंकर षड़ंगी कॉलोनी में एमआईजी और एचआईजी मकान एवं कबीर चौक स्थित हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में ईडब्ल्यूएस में 20% की छूट दी जाएगी। इसमें एमआईजी, एचआईजी और एलआईजी मकान 25-35 लाख रुपए के बीच के हैं। ईडब्ल्यूएस मकान भी 10-15 लाख रुपए के हैं।

रियल इस्टेट मंदी का असर

शहर में छह से ज्यादा निजी कंपनियों के हाउसिंग प्रोजेक्ट्स में मकान खाली हैं। इन्हें महीनों से ग्राहक नहीं मिल रहे हैं। जानकार बताते हैं कि अब बाजार में जेनुइन बायर (जिन्हें घर की जरूरत है) तो आ रहे हैं लेकिन निवेश कम हुआ है। हाउसिंग बोर्ड के मकान इसका तुलना में बहुत ज्यादा सस्ते भी नहीं हैं। दूसरी वजह यह है कि शहर में बाहर से आए लोगों की संख्या घटी है। हाउसिंग बोर्ड ढिमरापुर समेत दूसरे इलाकों में आवासीय कालोनी बनाने के लिए जमीन की तलाश कर रहा था लेकिन पहले से तैयार प्रोजेक्ट के मकान खाली होेने के कारण ये अधर में लटके रहे।

पिछले दिनों हाउसिंग बोर्ड से जुड़े मकानों में 15-20 प्रतिशत की छूट दी गई थी। इसमें शहरी और ब्लॉक स्तर पर कॉलोनियों में एलआईजी, एमआईजी और ईडब्ल्यूएस मकान खाली हैं, उन्हें छूट की श्रेणी में रखा गया है।

एसके शर्मा, ईई, हाउसिंग बोर्ड

Leave a Reply