Shadow

मंत्री बघेल का चुनाव आयोग को जवाब- पूजापाठ का वीडियो मनगढ़ंत

रायपुर (एजेंसी) | मतदान केंद्र में वोटिंग से पहले पूजा-पाठ को लेकर पर्यटन मंत्री और नवागढ़ से भाजपा प्रत्याशी दयालदास बघेल ने चुनाव आयोग को अपना जबाव भेज दिया है। बघेल ने इस वीडियो को मनगढ़ंत बताया है। वहीं, जिला निर्वाचन अधिकारी महादेव कावरे द्वारा गुरुवार को पीठासीन अधिकारी को भी नोटिस जारी किए जाने के बाद मामले की जांच और आगे बढ़ गई है।




मंगलवार को नवागढ़ के कूंरा बूथ में वोटिंग से पहले बीजेपी प्रत्याशी बघेल ने पूरे बूथ में घूम-घूमकर पूजा-पाठ की। उन्होंने अगरबत्ती से ईवीएम की आरती उतारी, फिर बूथ के गेट पर नारियल भी फोड़ा। यह पूजा पूरी होते तक बूथ में वोटिंग रुकी रही। इसका वीडियो बुधवार को वायरल होने के बाद सीईओ सुब्रत साहू ने डीआरओ के जरिए मंत्री बघेल को नोटिस देकर 24 घंटे मं जवाब मांगा था।

मंत्री बघेल ने आज निर्धारित समय पर 11 बजे अपना जवाब नवागढ़ के आरओ डीएस उइके को भेज दिया है। बघेल ने अपने एक लाइन के जवाब में कहा है कि मेरे द्वारा ऐसा कोई कृत्य नहीं किया गया है। जो वीडियो वायरल हुआ है वो मनगढ़ंत है। उइके ने अपने रिमार्क के साथ यह जवाब डीआरओ को भेज दिया है।

यह भी पढ़े: मंत्री ने अगरबत्ती जलाकर किया पूजा-पाठ, परिक्रमा करने के बाद EVM में टीका लगाकर किया मतदान, हर कोई मौन होकर देखता रहा

डीआरओ कावरे के मुताबिक वे इसे सीईओ साहू को भेजेंगे। इस मामले में आज भी मंत्री बघेल के तीनों सैल नंबर नो रिप्लाई मोड में थे इसलिए उनका पक्ष नहीं मिल पाया है। डीआरओ कावरे ने कूरा बूथ के पीठासीन अधिकारी विदेशी राम को भी नोटिस जारी कर 24 घंटे में अपना पक्ष रखने कहा है।

आयोग अपनी सीमा में रहे : विहिप

मामले में  विश्व हिंदू परिषद भी कूद गया है। विहिप के अध्यक्ष संतोष गोलछा ने आयोग को पत्र लिखा है। उन्होंने नोटिस को हिंदू धार्मिक अास्था पर कुठाराघात बताते हुए लिखा है कि मतदान के पूर्व यह शुभ कार्य किया तो क्या अनुचित किया? चुनाव आयोग द्वारा अति उत्साह में अपनी सीमा से बाहर नोटिस जारी करना किसी भी प्रकार से उचित नहीं है।



Leave a Reply