Shadow

मुख्यमंत्री ने अमेरिका से प्रवास के दौरान भी दुर्ग की दिव्यांग छात्रा अविका पाल की पढ़ाई की दिक्कत दूर की

chennai-think-n-do-conclave-cm-bhupesh-2020

रायपुर | दिव्यांग छात्रा अविका पाल की पढ़ाई की दिक्कत अब दूर हो गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दुर्ग जिले के कलेक्टर को निजी स्कूल शंकराचार्य विद्यालय के प्रबंधन से चर्चा कर छात्रा की आगे की पढ़ाई के संबंध में हल निकालने निर्देश दिए थे। मुख्यमंत्री के निर्देश के पश्चात जिला प्रशासन से हुई चर्चा में स्कूल प्रबंधन इस सत्र की फीस से छात्रा को राहत देने तैयार हो गया है।

अब अविका अपनी पढ़ाई अच्छी तरह से जारी रख पाएगी। अविका की पढ़ाई की राह की दिक्कतें दूर हो गई है। ज्ञातव्य है कि शंकराचार्य विद्यालय की पांचवी कक्षा की छात्रा अविका पाल को फीस नहीं जमा हो पाने की दिक्कत के कारण इस सत्र में पढ़ाई में मुश्किल आने के प्रकरण के संज्ञान में आने पर मुख्यमंत्री ने त्वरित पहल करते हुए दुर्ग जिला प्रशासन को स्कूल प्रबंधन से चर्चा कर छात्रा की आगे की पढ़ाई के संबंध में हल निकालने निर्देश दिए थे।

भिलाई के एक विद्यालय में पढ़ने वाली दिव्यांग छात्रा की मार्मिक चिट्ठी ने सात समंदर पार बैठे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के हृदय को पिघला दिया। अब उस छात्रा को पढ़ाई के लिए आर्थिक दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा। दरअसल छात्रा ने एक चिट्ठी के जरिए अपनी व्यथा मुख्यमंत्री को बताई।

जब तक यह चिट्ठी सीएम तक पहुंचती है, तब तक वे अफसरों के साथ अमेरिका की यात्रा पर रवाना हो चुके थे। लेकिन, अब अमेरिका पहुंचने के बाद जब उन्हें इस पत्र की जानकारी मिली, तो उन्होंने तत्काल दुर्ग कलेक्टर अंकित आनंद समेत सभी संबंधित अफसरों को वहीं से निर्देश दिया कि बच्ची की पढ़ाई में कोई समस्या नहीं आनी चाहिए।

अविका ने यह चिट्ठी न केवल सीएम को, बल्कि कलेक्टर और शिक्षा विभाग के अफसरों को भी भेजी थी। लेकिन उस पर संज्ञान सीएम ने लिया।

RO-11243/71

Leave a Reply