chhattisgarh news media & rojgar logo

बस्तर में फोर्स ढूंढ रही 2 हजार बूथों के रास्ते में बिछी बारुदी सुरंग, 15 दिन में 110 से जगह मिले विस्फोटक

जगदलपुर (एजेंसी) | बस्तर में चुनाव के पहले सुरक्षा बल मतदान केंद्रों के रास्तों में दबी बारुदी सुरंगें और लैंडमाइन तलाश रहे हैं। 4 हजार से ज्यादा मतदान केंद्रों में 2 हजार को संवेदनशील घोषित किया गया है। इन्हीं में जहां इंटेलिजेंस का इनपुट है, उन मतदान केंद्रों तक पहुंचने वाले हर रास्ते में लैंड माइन और बारुदी सुरंग को ढूंढा जा रहा है।




15 दिन में 110 से ज्यादा रास्तों को खोदकर बारुद निकाला जा चुका है। खुफिया सूत्रों के मुताबिक, नक्सलियों ने मतदान के दिन केंद्र जाने वाले दलों को निशाना बनाने की साजिश की है। बस्तर के नक्सली इलाकों में ज्यादातर मतदान केंद्रों को थानों के करीब रखा गया है। चुनाव के दिन मतदान सामग्री और मतदान दल थाने से ही बूथ भेजे जाएंगे। मतदान के लिए 650 कंपनियों को पूरे बस्तर में तैनात किया गया है। नक्सलियों से निपटने के लिए आधुनिक शस्त्र दिए गए हैं।

वीडियो: देखिए किस तरह जवान जमींन में दबे हुए विस्फोटकों को ढूंढकर निकाल रहे है 

नक्सलियों से निपटने के लिए आधुनिक शस्त्र दिए गए हैं। अतिसंवेदनशील केंद्रों पर मतदान दल को पहुंचाने के लिए 12 से ज्यादा हेलिकॉप्टर उपलब्ध रहेंगे, जबकि दो दर्जन से ज्यादा बूथों तक पोलिंग पार्टियां बाइक, नाव से या पैदल ले जाई जाएंगी।



Leave a Reply