chhattisgarh rojgar logo
telegram group   Chhattisgarh Rojgar Facebook Page  Chhattisgarh Rojgar twitter  Chhattisgarh Rojgar Youtube Channel

ब्रकिंग न्यूज़: धोखाधड़ी के मामले में पुलिस ने अमित जोगी को किया गिरफ्तार

बिलासपुर (एजेंसी) | फर्जी जाति प्रमाणपत्र मामले में छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के पुत्र अमित जोगी की मुश्किलें बढ़ने लगी हैं। अमित जोगी को पुलिस ने मंगलवार को तड़के सुबह गिरफ्तार कर लिया। उनकी गिरफ्तारी मरवाही सदन से की गई है। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष जोगी पर नागरिकता को लेकर गलत जानकारी देने का आरोप है। पुलिस जोगी को गैरोला लेकर आएगी, यहां पर उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा।

समीर पैकरा के नेतृत्व में एक दिन पहले ही गिरफ्तारी की मांग को लेकर आदिवासियों ने किया था प्रदर्शन

दरअसल, बिलासपुर जिला पंचायत उपाध्यक्ष समीरा पैकरा सहित मरवाही के आदिवासियों ने सोमवार को अमित जोगी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एसपी ऑफिस के बाहर प्रदर्शन किया था। हालांकि प्रदर्शन पर कटाक्ष करते हुए अमित जोगी ने कहा था कि बहन सुश्री समीरा पैकरा और उनके महाधिवक्ता व वकील सतीश चन्द वर्मा को इतनी सी बात समझ में क्यों नहीं आती कि अगर उन्हें उच्च न्यायालय के किसी फैसले को चुनौती देनी है तो सर्वोच्च न्यायालय में जाएं? थाने में चीखने चिल्लाने से कुछ नहीं होगा। केवल गले में खराश और पेट में दर्द होगा।

गलत काम करेंगे तो गिरफ्तार होंगे ही

दूसरी ओर अमित जोगी को गिरफ्तार किए जाने के मामले में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि गलत काम करेंगे तो गिरफ्तार तो होंगे ही। देश में सबके के लिए कानून एक बराबर है। अगर गलतियां की हैं तो सार्वजनिक रूप से माफी मांगे, ना की अपने आप को कानून के आड़े लाएं। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता समीरा पैकरा की शिकायत पर पुलिस ने अमित जोगी को गिरफ्तार किया है।

अमित जोगी के खिलाफ जाति मामले में गौरेला थाने में दर्ज है एफआईआर

3 फरवरी को मरवाही के पूर्व विधायक अमित जोगी के खिलाफ गौरेला थाने में धारा 420 का प्रकरण दर्ज किया गया है। ये प्रकरण 2013 में मरवाही विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की प्रत्याशी रहीं समीरा पैकरा ने दर्ज कराया था। शिकायत के मुताबिक जोगी ने शपथपत्र में अपना जन्म स्थान गलत बताया था। जिस पर गौरेला थाने में अमित जोगी के विरुद्ध धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया। चुनाव हारने के बाद समीरा पैकरा ने हाईकोर्ट में याचिका दायर करके अमित जोगी की जाति एवं जन्म तिथि को चुनौती दी थी।

जिस पर हाईकोर्ट ने 4 दिन पहले ही निर्णय दिया कि छत्तीसगढ़ विधानसभा का सत्र खत्म हो चुका है, इसलिए अब इस याचिका को खारिज किया जाता है। इसके बाद समीरा पैकरा गौरेला थाने गईं और उन्होंने शिकायत दर्ज कराई कि अमित जोगी ने चुनाव के दौरान दिए गए शपथ पत्र में अपना जन्म वर्ष 1978 में ग्राम सारबहरा गौरेला में होना बताया है। जबकि उनका जन्म वर्ष 1977 में डगलास नामक स्थान टेक्सास, अमेरिका में हुआ है।

Leave a Reply