chhattisgarh news media & rojgar logo

चेकिंग के दौरान मिला 9 क्विंटल गांजा, एंबुलेंस से की जा रही थी तस्करी

बिलासपुर (एजेंसी) | आजतक आपने अक्सर फिल्मों में तस्करी के नए-नए तरीके देखे होंगे। अब ऐसे ही तरीके अब बदमाशों ने सचमुच इस्तेमाल करने शुरू कर दिए हैं। बिलासपुर जिले के गौरेला थाना पुलिस ने रविवार देर शाम चेकिंग के दौरान एक एंबुलेंस से 9 क्विंटल गांजा बरामद किया है। बरामद गांजे की कीमत 39 लाख रुपए से ज्यादा बताई जा रही है।

पुलिस ने मौके से एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि उसका साथी भागने में कामयाब रहा। फिलहाल पुलिस पकड़े गए आरोपी से पूछताछ कर रही है।

छत्तीसगढ़ की एंबुलेंस में लगी थी मध्य प्रदेश की नंबर प्लेट

जानकारी के मुताबिक, आमाडोब चेकिंग प्वाइंट पर एसएसटी की टीम शाम को चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान एक एंबुलेंस आती दिखाई दी। चेकिंग होने से एंबुलेंस रुकी तो उसका चालक उतरकर भाग निकला। इससे पुलिस को संदेह हुआ तो उन्होंने साथ बैठे व्यक्ति को उतार लिया और पूछताछ शुरू कर दी। पुलिस ने एंबुलेंस चेक की तो उसमें मरीज की जगह प्लास्टि के बोरे भरे हुए थे। पुलिस ने बोरियां चेक की तो उसमें गांजा मिला। एक-एक किलो का पैकेट बनाकर गांजा भरा गया था।

एंबुलेंस से 9 क्विंटल गांजा बरामद किया है

पुलिस को एंबुलेंस की चेकिंग के दौरान उसमें से छत्तीसगढ़ की नंबर प्लेट बराबमद हुई। जबकि गाड़ी पर मध्य प्रदेश का नंबर लिखी हुई प्लेट लगी थी। इसके बाद पुलिस ने गांजे को जब्त कर लिया है। एंबुलेंस से 9 क्विंटल गांजा बरामद किया है जिसकी कीमत 39.65 लाख रुपए है। पकड़े गया आरोपी कमल सरोदे मध्य प्रदेश में खंडवा के दलारभाटा का रहने वाला है। गिरफ्तार किये गए आरोपी से अवैध गांजा के संबंध में और गिरोह को लेकर पूछताछ की जा रही है।

Leave a Reply