Shadow

भूपेश बघेल, टी.एस. सिंहदेव, चरणदास महंत ने दी प्रदेशवासियों को छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस की बधाई

रायपुर | छत्तीसगढ़ राज्य का स्थापना दिवस के अवसर पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव और कांग्रेस चुनाव समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री चरणदास महंत ने कहा है कि हम सभी कांग्रेसजन छत्तीसगढ़ की जनता की खुशहाली समृद्धि आपसी सद्भाव, भाईचारा सहित छत्तीसगढ़ के सुनहरे भविष्य की कामना की।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव और कांग्रेस चुनाव समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री चरणदास महंत ने कहा है कि छत्तीसगढ़ को राज्य बने 18 बरस हो गए। आज उन महापुरूषों को स्मरण करने का दिन है जिसने छत्तीसगढ़ राज्य बनाने का सपना देखा था।




ममतामयी मां मिनीमाता, बैरिस्टर छेदीलाल, ठाकुर प्यारेलाल सिंह, डॉ खूबचंद बघेल, चंदूलाल चंद्राकर, संत पवन दीवान, केयूर भूषण,  पुरुषोत्तम लाल कौशिक, शहीद विद्याचरण शुक्ल, वासुदेव चंद्राकर, महेश तिवारी, परसराम यदु, कामरेड सुधीर मुखर्जी, राजेंद्र प्रसाद शुक्ला, हरि ठाकुर सहित छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के स्वप्न को जिन्होने देखा था, आज उन सब का स्मरण करने का दिन है और पुरखों के देखे सपनों को साकार बनाने का संकल्प को दोहराने का दिन है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव और कांग्रेस चुनाव समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री चरणदास महंत ने कहा है कि छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के पीछे एक बड़ी भावना और गहरी सोच थी। छत्तीसगढ़ के लिये यदि पुरखों के देखे सपने अगर राज्य निर्माण के बावजूद साकार नहीं हो पाए तो इसके लिए 15 वर्षों से चला आ रहा भाजपा का कुशासन ही जिम्मेदार है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव और कांग्रेस चुनाव समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री चरणदास महंत ने कहा है कि आज छत्तीसगढ़ राज्य गठन के बाद छत्तीसगढ़ और छत्तीसगढ़िया लोगों के स्वाभिमान की जो लड़ाई लड़ी गई उस लड़ाई को फिर लड़ने और छत्तीसगढ़ की जनता के स्वाभिमान के साथ-साथ छत्तीसगढ़ के हकों और हितों को सर्वोपरि बनाए रखने का संकल्प लेने का दिन है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव और कांग्रेस चुनाव समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री चरणदास महंत ने कहा है कि 2013 में छत्तीसगढ़ में बदलाव लाने, परिवर्तन लाने के लिए परिवर्तन यात्रा पर निकले कांग्रेस के काफिले पर हुए हमले की साजिश को बेनकाब करने का संकल्प लेने का आज दिन भी है। जीरम के शहीदों के परिवर्तन के संकल्प को पूरा करने की शपथ लेने का भी आज दिन है। बदलाव के उस सपने को साकार करने के संकल्प को दोहराने का भी दिन है आज।

मध्यप्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और कांग्रेस बहुमत वाली विधानसभा में भी आज पारित प्रस्ताव को आज हम सब स्मरण कर रहे है।



Leave a Reply