chhattisgarh news media & rojgar logo

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बोले – मंत्रिगण यहां रहेंगे तो बसेगा शहर, नवा रायपुर में शिफ्ट होगी सरकार

bhumipujan-nava-raipur

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने  2001 में नया रायपुर का शुभारंभ किया था। नया रायपुर ने बहुत विस्तार पाया।  बहुत सारे भवन बन गए, बहुत सारी गतिविधि संचालित होने लगीं। सड़कें बनी, सब कुछ है। हजारों करोड़ रुपए लग गए, लेकिन फिर भी शहर नहीं बस पाया है। इसके चलते रायपुर में ट्रैफिक जाम होता है। आवागमन में असुविधा होती है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री, मंत्रिमंडल, अधिकारी जब यहां रहेंगे, तभी शहर बसेगा। मुख्यमंत्री बघेल ने शुक्रवार राजभवन व मुख्यमंत्री आवास बनाने के लिए भूमि पूजन किया।

14 एकड़ में राजभवन, 8 एकड़ में बनेगा मुख्यमंत्री आवास

नवा रायपुर के सेक्टर-24 में हुई भूमिपूजन के दौरान पुरोहितों ने सभी देवी-देवताओं के जयकारे लगवाए। उसके बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ महतारी के जयकारे लगवाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में कई राजधानी हैं जो नई बनी है। वह बस गई है। इस बात को ध्यान में रखते हुए हम लोगों ने यहां पर राजभवन, मुख्यमंत्री निवास, स्पीकर हाउस बनाने का निर्णय लिया है। यहां मंत्री रहेंगे, अधिकारी रहेंगे, कर्मचारी रहे और एक शहर के अनुरूप नया रायपुर का विकास होगा। नवा रायपुर अटल नगर में 591.75 करोड़ रुपए की लागत से इस परियोजना को 24 माह में पूरा किया जाएगा।

सेक्टर 24 में बनेंगे राजभवन, सीएम हाऊस सहित 164 आवास

सेक्टर 24 में राजभवन, सीएम हाऊस, मंत्रियों व अफसरों के बंगले के साथ ही 164 आवास बनाए जाएंगे। निर्माण कार्य दो वर्ष में पूरा करने का लक्ष्य है। पीडब्ल्यूडी ने इस कार्य के लिए टेंडर फाइनल कर वर्क ऑर्डर जारी कर दिया है। इस प्रोजेक्ट की जिम्मेदारी पुणे की कंपनी को दी गई है। करीब 505 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। राजभवन का कैंपस 14 एकड़ में होगा। जहां दरबार हॉल के साथ सेक्रेटेरियट बिल्डिंग, स्टाफ क्वार्टर होगा। 8 एकड़ में बनने वाले सीएम हाऊस में 6 बेडरूम, फैमिली व लिविंग रूम, प्राइवेट थियेटर, हेल्थ सेंटर और बड़ी लाइब्रेरी होगी।

Leave a Reply