chhattisgarh news media & rojgar logo

ऑनलाइन बिक्री के विरोध में व्यापारी संगठनों का आज भारत बंद, राजधानी में भी दुकानें बंद रही

रायपुर (एजेंसी) | ऑनलाइन बिक्री के विरोध में व्यापारी संगठनों ने आज शुक्रवार को राजधानी रायपुर सहित प्रदेश भर में बंद बुलाया था। सुबह से ही व्यापारी सड़कों पर निकल आए और दुकानदारों से बंद का आह्वान किया। शहर में छोटी-बड़ी सभी दुकानों पर ताले लटकी रही, हालांकि पेट्रोल पंप जरूर चालू हैं। व्यापारियों के इस बंद को देखते हुए शहर में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।




ऑल इंडिया व्यापारी संगठन कैट की ओर से बुलाए गए इस बंद का व्यापक असर देखने मिला। सुबह से ही व्यापारी सड़कों पर निकल आए। राजधानी के घड़ी चौक पर एकत्र हुए सभी व्यापारियों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस और व्यापारियों की झड़प भी हुई। पुलिस ने व्यापारियों को गिरफ्तार करने का प्रयास किया, लेकिन बात नहीं बनी। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि पहले व्यापारी देश में गुलाम था, अब दोबारा गुलाम नहीं होना चाहते हैं।

ई-फार्मेसी के विरोध में दवाई की दुकानें भी बंद में शामिल

केंद्र सरकार ने इंटरनेट के जरिए दवाओं की बिक्री यानी ई-फार्मेसी को मंजूरी दिए जाने के खिलाफ ऑल इंडिया ऑर्गेनाइजेशन ऑफ केमिस्ट्स एंड ड्रगिस्ट्स (एआईओसीडी) ने भी राष्ट्रव्यापी हड़ताल का आह्वान किया है। देशभर में दवाइयों के वितरण कारोबार से जुड़े एआईओसीडी के तकरीबन आठ लाख सदस्य दवाओं की ऑनलाइन बिक्री के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके चलते दवा की दुकानें भी बंद हैं।

खुदरा क्षेत्र में एफडीआई का विरोध

व्यापारियों का यह सारा विरोध प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) को लेकर है। इस आग में घी डालने का काम वॉलमार्ट का फ्लिपकॉर्ट को अधिग्रहित करना भी है। खुदरा बाजार में इसके चलते विरोध तेज हो गया है। व्यापारियों का कहना है कि विदेशी निवेश और ऑनलाइन बिक्री के चलते उनका व्यवसाय खत्म हो जाएगा।



Leave a Reply